निर्यात 20 प्रतिशत, व्यापार घाटा 5.6 प्रतिशत बढ़ा - Live Aaryaavart

Breaking

शनिवार, 16 जून 2018

निर्यात 20 प्रतिशत, व्यापार घाटा 5.6 प्रतिशत बढ़ा

trade-loss-increase-5.6-percent
नयी दिल्ली 15 जून, पेट्रोलियम पदार्थों के निर्यात में 100 प्रतिशत से ज्यादा की वृद्धि के दम पर मई में देश का निर्यात 20.18 प्रतिशत बढ़कर 28.86 अरब डॉलर पर पहुँच गया। इसके बावजूद व्यापार घाटा 5.64 प्रतिशत बढ़ा है। पिछले साल मई में निर्यात 24.01 अरब डॉलर रहा था।  वहीं, आयात पिछले साल मई के 37.86 अरब डॉलर से बढ़कर 43.48 अरब डॉलर पर पहुँच गया। इस प्रकार इसमें 14.85 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई। इस प्रकार व्यापार घाटा 13.84 अरब डॉलर से 5.64 प्रतिशत बढ़कर 14.62 अरब डॉलर हो गया।  वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय द्वारा आज यहाँ जारी आँकड़ों के अनुसार, मई में पेट्रोलियम उत्पादों का निर्यात 104.47 प्रतिशत, रसायनों का 34.21 प्रतिशत, दवाओं और फार्मा उत्पादों का 25.67 प्रतिशत, सूत, हथकरघा उत्पादों तथा हैंडलूम का उत्पाद 24.7 प्रतिशत और इंजीनियरिंग उत्पादों का 14.77 प्रतिशत बढ़ा है।  उसने बताया कि पेट्रोलियम तथा गहने-जवाहरातों को छोड़कर अन्य उत्पादों का निर्यात 13.85 प्रतिशत बढ़कर 19.94 अरब डॉलर हो गया।  चालू वित्त वर्ष के पहले दो महीने अप्रैल और मई में कुल निर्यात 12.58 प्रतिशत बढ़कर 54.77 अरब डॉलर पर पहुँच गया। पिछले साल समान अवधि में यह 48.65 अरब डॉलर रहा था।  एक साल पहले की तुलना में अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत बढ़ने से मई में पेट्रोलियम आयात सबसे ज्यादा 49.46 प्रतिशत बढ़कर 11.50 अरब डॉलर पर पहुँच गया। यह पिछले साल मई में 7.69 अरब डॉलर रहा था।  गैर-पेट्रोलियम आयात 31.98 अरब डॉलर पर रहा जो पिछले साल मई के 30.16 अरब डॉलर से 6.03 प्रतिशत अधिक है। मशीनरी आयात 30.86 प्रतिशत, रसायन आयात 28.26 प्रतिशत, इलेक्ट्रॉनिक उत्पादों का आयात 19.93 प्रतिशत और कोयले का आयात 17.88 प्रतिशत बढ़ा।  चालू वित्त वर्ष के पहले दो महीनों में कुल आयात 9.72 प्रतिशत बढ़कर 83.11 अरब डॉलर पर पहुँच गया। पिछले साल समान अवधि में यह 75.74 अरब डॉलर रहा था। 
एक टिप्पणी भेजें
Loading...