बिहार : बीजेपी अध्यक्ष अमित भाई शाह 12 जुलाई को पटना आएंगे - Live Aaryaavart

Breaking

बुधवार, 4 जुलाई 2018

बिहार : बीजेपी अध्यक्ष अमित भाई शाह 12 जुलाई को पटना आएंगे

सी.एम.नीतीश कुमार से होगी अहम मुलाकात
amit-shah-visit-bihar-on-12th
पटना.बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह 12 जुलाई को बिहार की राजधानी पटना में रहेगें. अमित शाह पटना आएंगे और बीजेपी के साथ एनडीए के घटक दलों के नेताओं से मिलेंगे. राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के 12 जुलाई के आगमन को लेकर अभी से बिहार की राजनीति गरमा गई है. सबसे ख़ास बात ये है कि अपनी इस यात्रा के दौरान अमित शाह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलकर आगामी लोक सभा चुनाव की रणनीति पर चर्चा करेगें. अमित शाह और नीतीश कुमार की मुलाकात में सीट शेयरिंग को लेकर बात हो सकती है.गौरतलब है कि चुनावी चेहरे और सीटों के बटवारे को लेकर बीजेपी और जदयू के बीच लगातार जुबानी जंग चल रही है.उम्मीद है कि अमित शाह के नीतीश कुमार के साथ बैठक के बाद कोई रास्ता निकल जाएगा .

प्रदेश भाजपा ने अपने स्तर से तैयारी शुरू कर दी है.भाजपा प्रदेश कार्यालय में युवा मोर्चा पटना महानगर अध्यक्ष मनीष कुमार की अध्यक्षता में 12 जुलाई को राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के बिहार आगमन की तैयारियों को लेकर एक बैठक आयोजित की गई.बैठक के मुख्य अतिथि बांकीपुर विधायक सह भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष नितिन नवीन थे.मौक़े पर श्री नवीन ने युवा मोर्चा पदाधिकारियों को तैयारियों से सम्बंधित आवश्यक दिशा निर्देश दिये.पटना महानगर मीडिया प्रभारी जय प्रकाश ने  बताया कि युवा मोर्चा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष का अभूतपूर्व स्वागत कर बिहार का मान-सम्मान बढ़ाने का कार्य करेगा.बैठक में युवा मोर्चा प्रदेश महामंत्री संजीव चौरासिया महानगर प्रभारी पवन सिंह भी उपस्थित थे।

भाजपाई सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अमित शाह सरकार और संगठन के बारे में पार्टी नेताओं से बातचीत करेगें.वहीं प्रदेश के सभी प्रकोष्ठों के पदाधिकारियों के साथ  प्रदेश पदाधिकारियों के साथ बैठक करने के अलावा कार्यकर्ताओं से भी मिलेंगे. अभी से ही भाजपाई होम करने लगे हैं ताकि अपनी प्रस्तुति बेहतर से बेहतर प्रस्तुत कर सके.अभिलाषा है कि राष्ट्रीय स्तर तक पहचान बना सके.इस क्रम में अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश मंत्री राजन क्लेमेंट साह भी हैं.जो विपरित परिस्थितियों में बीजेपी के सात रात-दिन लगे हुए हैं.वहीं प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय व संगठन महामंत्री नागेन्द्रजी के अलावा भाजपा कोर कमेटी के साथ भी उनकी अहम बैठक होगी. वे पार्टी पदाधिकारियों को सौंपे टास्क का लेखा-जोखा भी लेंगे.अमित शाह के दौरे को आगामी लोकसभा चुनाव से जोड़कर भी देखा जा रहा है. शाह एक दिन के प्रवास पर पटना आएंगे लेकिन कई महत्वपूर्ण काम निबटा कर जायेगें . फिलहाल उनके रात्रि विश्राम की योजना नहीं हैं, लेकिन इसके लिए वैकल्पिक तैयारी रखी गयी है. इस समय राष्ट्रीय अध्यक्ष विभिन्न राज्यों में एक-एक दिन का प्रवास कर रहे हैं. पार्टी इस समय मिशन 2019 में जुटी है.

शाह के बिहार दौरा को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है. खासकर तब जबकि लोकसभा चुनाव नजदीक है और एनडीए के सहयोगी दलों में सीटों को लेकर अंदरखाने तरह-तरह की चर्चाएं चल रही हैं. जदयू के एनडीए में आने के बाद लोकसभा सीटों के बंटवारे को नए सिरे से अंतिम रुप देना भी बीजेपी के लिए कठिन टास्क है. पिछली बार बीजेपी ने 30 जबकि एलजेपी ने 7 और आरएलएसपी ने 3 सीटों पर चुनाव लड़ा था. अब जदयू भी एनडीए में शामिल है. ऐसे में कौन अपना सिटिंग सीट जदयू के लिए छोड़ेगा,ये अहम् सवाल है. जदयू बीजेपी से ज्यदा सीटों पर चुनाव लड़ने की मांग कर रहा है,इसलिए सीट शेयरिंग बीजेपी के लिए सबसे बड़ी चुनौती है.वे इस विवाद को सुलझाने के साथ साथ संगठन को और धार देने और इसके विस्तार का टास्क पार्टी पदाधिकारियों को सौंपेंगे. साथ ही गठबंधन को और मजबूत बनाने को लेकर भी विचार-विमर्श करेंगे.
एक टिप्पणी भेजें