बिहार : धर्म परिवर्तन का मसला झारखंड में नरम भी नहीं हुआ कि बिहार में मामला गरमा गया - Live Aaryaavart

Breaking

रविवार, 29 जुलाई 2018

बिहार : धर्म परिवर्तन का मसला झारखंड में नरम भी नहीं हुआ कि बिहार में मामला गरमा गया

  • धर्मान्तरण के विरूद्ध हैं रोमन कैथोलिक, रोमन कैथोलिक की शीर्ष ईकाई सी.बी.सी.आई.से आग्रह धर्म परिवर्तन करवाने वालों करें सीधी कार्रवाई
change-religion-saharsa-bihar
सहरसा (आर्यावर्त डेस्क) 29 जुलाई, : बिहार के रोमन कैथोलिक   धर्म परिवर्तन के विरूद्ध हैं.हालांकि संवैधानिक अधिकार है कि स्वेच्छा से धर्म पालन करें.वर्तमान समय में धार्मिक संदेशों का प्रचार-प्रसार करने वालों को भी धर्म परिवर्तन कराने की नजरिया से देखा जाता है.इसी तरह झारखंड में देखा गया और बिहार में भी देखा जा रहा है. बहरहाल झारखंड का धर्म परिवर्तन का मसला नरम भी नहीं हुआ कि बिहार में मामला गरमा गया है.अभी   हाल में सहरसा में धर्म परिवर्तन कराने का एक बड़ा मामला सामने आया है. सदर थाना के शारदा नगर इलाके में पुलिस ने कार्रवाई की और धर्म परिवर्तन करनेवाले सरगना समेत ढाई दर्जन से अधिक लोगों को धर दबोचा है. पुलिस के अनुसार धर्म परिवर्तन के कार्यक्रम पर विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल सहित कई संगठन के लोग और सामाजिक कार्यकर्ता जबरदस्त लामबंदी कर हमला करने की तैयारी कर चुके थे.लेकिन समय से पुलिस को सूचना मिल गई और एक बड़ी वारदात टल गई . जैसे ही इस हमले की भनक सदर एसडीएम शम्भूनाथ झा, सदर एसएचओ आर.के.सिंह पुलिस जवान के साथ मौके पर पहुँच गए .उन्होंने त्वरित कारवाई करते हुए धर्म परिवर्तन कराने वाले मुख्य आरोपी कृष्णदेव यादव जो बदला घाट खगड़िया का रहने वाला है और गोरखनाथ जो नौबतपुर पटना के रहने वाले है को दबोच लिया.

पुलिस ने इस दौरान तीन अन्य आरोपियों को भी दबोचा जिसमें दो महिलाएं भी हैं. इस दौरान सौ से अधिक लोग फरार होने में कामयाब हो गए. मौके से पुलिस ने दो बड़े साउंड बॉक्स, कई मशीन, सीडी, किताबें और कई तरह के आपत्तिजनक सामान बरामद किए गए हैं. दो मंजिले मकान को तत्काल सील कर दिया गया है. पुलिस के मुताबिक कई ऐसे लोगों को हिरासत में लिया गया है जो कथित तौर पर मिशनरीज से जुड़ कर अपना धर्म परिवर्तित कर चुके थे. इस दौरान सौ से अधिक लोग फरार होने में कामयाब रहे. एसडीएम शम्भूनाथ झा ने कहा कि मामला धर्म परिवर्तन से जुड़ा है और फिलहाल इस मामले में सभी बिन्दुओं पर जांच की जा रही है. इस मामले में आरोपी कृष्ननंदन यादव ने कहा कि मैं सिर्फ लोगों को ईसा मसीह के प्रवचन सुनाता हूं न कि मैं किसी का जबरन धर्म परिवर्तन करा रहा था.
एक टिप्पणी भेजें
Loading...