गांव, गरीब व किसानों का सर्वांगीण विकास ही सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता : रघुवर दास - Live Aaryaavart

Breaking

गुरुवार, 5 जुलाई 2018

गांव, गरीब व किसानों का सर्वांगीण विकास ही सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता : रघुवर दास

rural-development-priority-raghuvar
रांची (आर्यावर्त डेस्क) 05 जुलाई, मुख्यमंत्री रघुवर दास ने  प्रोजेक्ट भवन, रांची के सभा कक्ष में 5 जुलाई 18 को पत्रकारों से मुखातिब होते हुए कहा कि  कृषि प्रधान देश में किसानों के जीवन में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए 4 जुलाई 18 को  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऐतिहासिक निर्णय लिया है। फसलों के समर्थन मूल्य में अप्रत्याशित वृद्धि केंद्र सरकार द्वारा की गई है। प्रधानमंत्री के इस फैसले से देश के किसानों का आर्थिक उन्नयन होगा। केंद्र सरकार द्वारा लिए गए इस  निर्णय का पूरा-पूरा लाभ झारखंड के किसानों को मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड में खरीफ मौसम में धान, मक्का दलहन में अरहर, उड़द, मूंग, कुलथी, एवं तिलहन में मूंगफली, तिल, सरगुजा, सोयाबीन इत्यादि की खेती की जाती है। राज्य सरकार द्वारा किसानों को फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य का लाभ मिल सके,  इसके लिए धान अधिप्राप्ति भी सरकार की ओर से की जा रही है। वर्ष 2017-18 में भारत सरकार द्वारा धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य रुपए 1550 निर्धारित किया गया,  राज्य सरकार द्वारा अपने स्तर से रुपए 150 प्रति क्विंटल बोनस देते हुए रुपए 1700 रुपए प्रति क्विंटल दी जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा 4 जुलाई 18 को धान की फसल में ₹ 200 प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की घोषणा की गई साथ ही अन्य खरीफ फसलों में भी केंद्र सरकार द्वारा अधिसूचित न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी की घोषणा की गई. इस ऐतिहासिक निर्णय से झारखंड राज्य की कुल 20 लाख किसानों को धान की फसल की अधिप्राप्ति पर रुपए 1022 करोड़ का अतिरिक्त लाभ होगा। धान के अतिरिक्त अन्य फसल मकई, अरहर आदि में लगभग 10 लाख किसानों को बाजार मूल्य बढ़ने से लगभग 350 करोड़ रुपए का लाभ होगा।  देश के माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी  द्वारा न्यूनतम समर्थन मूल्य निम्न प्रकार बढ़ाया गया है। धान  के समर्थन मूल्य में ₹200 प्रति  क्विंटल बढ़ोतरी की गई है. धान का पुराना समर्थन मूल्य 1550 रुपए था जो अब बढ़कर 1750 रुपए किया गया है.  मकई का पुराना समर्थन मूल्य 1425 प्रति क्विंटल था जो अब बढ़कर ₹1700 प्रति क्विंटल किया गया है। मकई में ₹ 275 प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गई है। अरहर का पुराना समर्थन मूल्य ₹ 5450 प्रति क्विंटल था जो अब बढ़ाकर 5675 रुपए प्रति क्विंटल किया गया है. अरहर में ₹ 225 प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गई है। मूंग का पुराना समर्थन मूल्य 5575 रुपए था जो अब बढ़ाकर 6975 रुपये किया गया है. मूंग में ₹ 1400 प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गई है। उड़द का पुराना समर्थन मूल्य 5400 रुपए प्रति क्विंटल था जो अब बढ़ाकर 5600 रुपए प्रति क्विंटल किया गया है. उड़द में ₹200 की प्रति क्विंटल कीमत में वृद्धि हुई है। रागी का पुराना समर्थन मूल्य ₹ 1900 प्रति क्विंटल था जो अब  बढ़ाकर 2897 रुपए प्रति क्विंटल किया गया है. रागी में ₹ 997 प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गई है। मूंगफली का पुराना समर्थन मूल्य ₹ 4450 प्रति क्विंटल था जो अब  बढ़ाकर 4890 रुपए प्रति क्विंटल की गई. मूंगफली में ₹ 440 प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि गांव गरीब व किसान का सर्वांगीण विकास ही सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। 

झारखंड के संतोष गिरी को एक सप्ताह के अंदर दुबई से भारत लाया जायेगा।
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने सरायकेला-खरसांवा निवासी संतोष गिरि को दुबई से भारत लाने हेतु अधिकारियों को सभी संबंधित कार्रवाई पूर्ण करने का निदेश दिया है ताकि वे अपने परिवार के पास सकुशल लौट सकें । मुख्यमंत्री की  पहल पर विदेश मंत्रालय, भारत सरकार (नई दिल्ली)  कार्यालय द्वारा संतोष गिरि को एक सप्ताह के  अंदर भारत भेजने का आदेश दिया गया है। ज्ञात हो  संतोष गिरि ने  8 जून 18 को मुख्यमंत्री के प्रधान  सचिव को ई-मेल कर बताया कि जमशेदपुर के किसी एजेंट ने उसे दुबई भेजा था।   दुबई में  उसके 12 दिन हो गये हैं।  दुबई जाने  के बाद उसे महसूस हुआ  कि वह फंस चुका है। दुबई में उसे बंदी बनाकर रखा गया है।  खाना भी नहीं दिया रहा। संतोष  गिरि ने मुख्यमंत्री से मदद की गुहार लगाई थी। मुख्यमंत्री ने नई दिल्ली स्थित झारखण्ड भवन के स्थानिक आयुक्त को निदेश दिया कि श्री  गिरि को दुबई से भारत वापस लाने हेतु विदेश मंत्रालय, भारत सरकार  से संपर्क स्थापित कर सभी आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित करें।      
एक टिप्पणी भेजें
Loading...