राज्यसभा उप सभापति चुनाव के लिए हरिवंश ने नामांकन दाखिल किया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 9 अगस्त 2018

राज्यसभा उप सभापति चुनाव के लिए हरिवंश ने नामांकन दाखिल किया

hariwansh-file-nomination
नई दिल्ली, 8 अगस्त , जनता दल-युनाइटेड (जद-यू) के सांसद हरिवंश नारायण सिंह ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के उम्मीदवार के रूप में बुधवार को राज्यसभा के उप सभापति पद के लिए अपना नामांकन दाखिल किया। राज्यसभा के महासचिव देश दीपक वर्मा के समक्ष अपना नामांकन दाखिल करते वक्त हरिवंश सिंह के साथ केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार, पीयूष गोयल, विजय गोयल समेत अकाली दल, शिवसेना और राजग के अन्य घटक दल के सदस्य उपस्थित थे। पहली बार उच्च सदन पहुंचे हरिवंश सिंह को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का करीबी माना जाता है। वह हिंदी दैनिक प्रभात खबर के पूर्व संपादक रह चुके हैं। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह और बिहार के मुख्यमंत्री व जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार ने मंगलवार को ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से अलग-अलग बात की थी और हरिवंश सिंह के लिए बीजू जनता दल से समर्थन मांगा था। नीतीश कुमार ने तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) प्रमुख और तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव से भी बात की और उनकी पार्टी के समर्थन की मांग की। बीजद ने हालांकि अभी समर्थन पर फैसला नहीं किया है लेकिन टीआरएस पहले ही राजग के खिलाफ वोट करने की बात स्पष्ट कर चुकी है। यह चुनाव कांटे का रहना वाला है क्योंकि विपक्ष भाजपानीत राजग गठबंधन से संख्या के मामले में थोड़ा आगे है। नतीजा बीजद, अन्नाद्रमुक और वाईएसआर कांग्रेस जैसे दलों के रुख पर निर्भर करेगा, जो कुछ स्थितियों में सरकार के साथ सहयोग कर सकते हैं। राज्यसभा के उप सभापति का चुनाव नौ अगस्त को होगा। पी.जे. कुरियन के जुलाई में सेवानिवृत होने के बाद उप सभापति का पद खाली हुआ है।
एक टिप्पणी भेजें