झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 09 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

शुक्रवार, 10 अगस्त 2018

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 09 अगस्त

विश्व आदिवासी दिवस पर रेली निकाल कर दिया ज्ञापन

jhabua news
पारा-- विश्व आदिवासी दिवस पर आज पारा क्षेत्र के समस्त आदिवासी भाई बंधुओ ने धुमधाम से बालक हायर सेकेन्ड्री स्कुल परिसर पर मनाया। हजारो की संख्या मे कार्यक्रम मे पहुचे आदिवासी भाईयो बहनो ने परंपरागात वेशभुषा मे अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई व ढोल मांदल के साथ नाचते गाते हुए रेली निकालते हुवे बस स्टेण्ड पहुच कर पारा पुलिस चोकी प्रभारी रमेश कोली को राज्यपाल के नाम ज्ञापन दिया। विश्व आदिवासी दिवस पर कार्यक्रम आयोजन समिति ने पारा नगर का साप्ताहीक हाट बाजार होने से अपना सम्पुर्ण कार्यक्रम बालक हायर सेकेन्ड्री स्कुल परिसर मे रखा। जहा पारा क्षेत्र के 25 से ज्यादा पंचायतो के 5 हजार के लगभग आदिवासी भाईयो बहनो ने अपनी परंपरागत वेशभुषा मे पहुचकर अपनी उपस्थिती दर्ज करवाई। कार्यक्रम मे क्षेत्र के समस्त सरपंच व तडवीयो का साफा बांध कर सम्मान किया साथ हाई स्कुल व हायर सेकेन्ड्री मे सर्वाधिक नम्बर लाने वाले बालक बालिकाओ का भी प्रतिक चिन्ह देकर सम्मान किया। कार्यक्रम मे क्षेत्र के सभी दिग्गज आदिवासी नेताओ ने एक मंच पर उपस्थित होकर अपनी व क्षेत्र कि 18 से ज्यादा मांगो के सर्मथन मे प्रदेश के राज्य पाल के नाम ज्ञापन पारा पुलिस चोकी प्रभारी रमेश कोली को सोपा। इससे पुर्व  कार्यक्रम मे आए हुए सभी आदिवासीयो को स्कुल परिसर मे उपस्थित जनता कां संबोधित किया। कार्यक्रम को लेकर विस्तृत प्रकाश डाला। समस्त बक्तओ ने उपस्थित जन समुदाय से अनुरोध किया कि वे किसी भ्ज्ञी प्रकार का नशा नही करे । डीजे व दहेज प्रथा जेसी सुस्कृति को छोडे । कार्यक्रम को लाल बहादुर शास्त्री कालंज दिल्ली से आए छात्रोने भी सभी को संबोधित किया। पश्चात सभी ढोल मांदल के साथ नाचते गाते हुए नगर प्रमुख मार्गो से होते हुए बस स्टेण्ड परिसर पहुचे जहा कालुसिह सोंलकी ने ज्ञापन का सार्वजनिक वाचन किया। सभी जगह रेली का स्वागत पुष्प वर्षा कर किया गया विशेष कर मुस्लीम सकल पंच द्वारा बस स्टेण्ड पर समस्त आदिवसी भाईयो का स्वगत किया गया। पेयजल व्यवस्थ पारा उपसरपंच दिपेश जेन मित्र मण्डल ने कि थी। पुलिस ने भी सुरक्षा व्यवस्था चाक चैबंद रखी व कही किसी प्रकार की घटना नही होने दी। इस अवसर पर विश्व आदिवासी आयोजन समिति पारा,आदिवासी कर्मचारी अधिकारी संगठन आकास, अजसक्स के समस्त कर्मचारी संवर्ग अजजा संघ,आदिवासी छात्र संगठन, आदिवासी एकता परिषद के समस्त सदस्य व बडी संख्या मे क्षेत्र के आदिवासी उपस्थित थे।

स्वर्गीय भूरिया झाबुआ की पहचान थे- शांतिलाल बिलवाल
  • भूरियाजी ने आदिवासी उत्थान के लिये कदम उठाये- निर्मला भूरिया
  • स्वर्गीय सांसद भूरिया की प्रतिमा एवं टंटिया मामा की प्रतिमा पर पुष्पाजंलि अर्पित की ।

jhabua news
झाबुआ ।  विश्व आदिवासी कल्याण दिवस के अवसर पर भाजपा विधायक सुश्री निर्मला भूरिया एवं शांतिलाल बिलवाल के नेतृत्व में मेघनगरनगर नाका स्थित स्वर्गीय सांसद दिलीपसिंह भूरिया की प्रतिमा पर सैकडो कार्यकर्ताओ ं एवं पदाधिकारियों के साथ माल्यार्पण करके उनका नमन किया गया । इस अवसर पर विश्व आदिवासी दिवस की सभी उपस्थितो को बधाइ्रया देते हुए सुश्री निर्मला भूरिया ने कहा कि पूरातन संस्कृति के प्रतिक आदिवासी समाज के लोग हमेशा ही धैर्यशील, ईमानदार एवं सबकी मदद करने वाले रहे है। स्वर्गीय दिलीपसिंह भूरिया ने भी देश-प्रदेश के आदिवासियो ं को  संगठित करके उनके उत्थान एवं समाज में बराबरी का दर्जा दिलाने का काम आजीवन किया । आदिवासियों के मसिहा कहे जाने वाले दिलीपसिंह भूरिया एक जुझारू आदिवासी नेता रहे जिनके सिद्धांतों का हमे अनुसरण करना चाहिये । प्रदेश की शिवराजसिंह सरकार ने आदिवासी कल्याण के लिये ढेरो योजनायें एवं कार्यक्रम बनाये है जिनका लाभ मिल रहा है। झाबुआ विधायक शांतिलाल बिलवाल ने भी संबोधित करते हुए स्वर्गीय भूरिया को श्रद्धाजलि देते हुए कहा कि श्री भूरियाजी आदिवासी समाज के एक कर्मठ नेता थे, पूरे देश में श्री भूरिया को एक दबंग आदिवासी नेता तथा समाज के उत्थान का प्रतिक माना जाता है। हमारे झाबुआ जिले की पहचान स्वर्गीय दिलीपसिंह भूरिया ही रहे है। श्री बिलवाल ने कहा किं समाज मे व्याप्त कुरूतियों को दूर करने के लिये तथा आदिवासी समाज को  अधिक से अधिक मुख्यधारा मे लाकर लाभान्वित कराने मे उनकी अहम भूमिका रही है । आदिवासी कल्याण की दिशा में उनकी छटवी, एवं पाचंवी अनुसूचि तथा पेसा कानून से आदिवासियोकं के उत्थान के नये आयाम मिले है । प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चैहान ने भी श्री भूरिया का जिक्र करते हुए तथा उनके सुझावानुसार र्कइअ आदिवासी कल्याण की योजनायें प्रारंभ करके इस वर्ग के सर्वागिण विकास के लिये कदम उठाये है । स्वर्गीय भूरिया की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं पुष्पाजंलि अर्पण करने के कार्यक्रम के अवसर पर पर्वतसिंह मकवाना, शरमा भूरिया, हरू भूरिया, राजू डामोर, बहादूर हटिला, मेजिया कटारा, वर्मा कटारा, भारत बामनिया, बबले सकलेचा, शैलेंन्द्र सोलंकी, श्यामा ताहेड, विजय नायर, बलवंत मेडास, धनसिंह बारिया, बंसती बारिया, लाला गुण्डिया, दिलीप नलवाया, विका वसुनिया, तानु डामर, मेगजी भाई सहित बडी संख्या में उपस्थित आदिवासी नेताओं ने पुष्पाजंलि अर्पित की इसके बाद वाहन रैली के रूप  में बस स्टेंड स्थित टंटिया मामा की प्रतिमा स्थल पर पहूंच कर सभी नेताओं ने विधायक शांतिलाल बिलवाल, एवं निर्मला भूरिया की अगुवाई मे माल्यार्पण  कर पुष्पाजंलि अर्पित की वहां से  वाहन रैली के रूप  में पैलेस गार्डन मे आयोजित प्रशासनिक कार्यक्रम में सहभागी हुए ।

समुचे आदिवासी अंचल मे धर्म का अलख जगा रहे महामण्डलेश्वर स्वामी प्रणवानंद सरस्वती जी

jhabua news
पिटोल । सावन के पवित्र माह में पिटोल सहित आस-पास के गांव में धर्म का अलख जगा रहे हैं वृंदावन धाम से पधारे अनंत विभूषित महामंडलेश्वर 1008 स्वामी प्रणवानंद सरस्वती जी के श्रीमुख से धर्म की गंगा बह रही है इसी तारतम्य में कल गुजरात के प्रसिद्ध आदिवासी संत शिरोमणि गंगाराम जी महाराज से मुलाकात कर आदिवासी बंधुओं के उत्थान एवं धर्म परिवर्तन को लेकर चर्चा की आदिवासी बंधुओं के परिवार जनों ने धर्म परिवर्तन  किया है उन्हें वापस घर वापसी कराने के लिए दोनों संत शिरोमणि ने एक साथ धर्म का प्रचार करने का बीड़ा उठाया इसके पश्चात स्वामी  प्रनवानदजी जी रोजाना 7 से 9 तारीख तक रात्रि 9ः00 से 11ः00 बजे तक स्थानीय राधा कृष्ण मंदिर में पिटोल में धर्म प्रेमी जनता को धार्मिक प्रवचन भजन कराते हैं एवं सनातन धर्म की रक्षा के संकल्प को दोहराते हैं स्वामी के श्री मुख से दुनिया में सबसे अच्छा धर्म हिंदू धर्म है जो कि सभी धर्मों वर्गों के लोगों का सम्मान करता है इसी कड़ी में रात्रि में मंदिर पर सत्संग के बाद स्वामी जी दिन भर सुदूर ग्रामीण क्षेत्र मे आदिवासी बंधुओं के बीच जाकर धर्म के प्रति जागृति की बात करते हैं मैं अध्यात्म का ज्ञान देते हैं आज पीटोल से 10 किमी दूर घने जंगलों में  मोद नदी ओर  अनास नदी के संगम संगम स्थल पर एक ही चट्टान पर बनी माता टीटकी माता के मंदिर पर जाकर भगत समाज के लोगों के साथ धर्म के प्रति जागृति रहने के लिए बात कही उन्होंने अपने धर्म के साथ जीवन जीने की प्रेरणा दी  शासन-प्रशासन ध्यान दे तो यह स्थल झाबुआ जिले के  पर्यटन स्थलों में शुमार हो सकता है दोनों नदी के संगम पर स्थल पर बसे गांव टीटकी खेड़ा में माता के मंदिर तक जाने के लिए सुगम रास्ते की जरूरत है वहां नवरात्रि एवं  चेतीनवरात्रि पर झाबुआ गुजरात एवं राजस्थान के कई गांवों के श्रद्धालु पहुंचते हैं एवं अपनी मन्नत कामना पूरी होने पर माताजी के दर्शन के लिए आते हैं जिन्हें घने जंगलों के जाना पड़ता है अतः वहां पर विधायक शांतिलाल बिलवाल द्वारा कच्चा रोड तो बनाया था परंतु वह घनी झाड़ियों की वजह से वापस सकरा हो गया वहां पर चार पहिया वाहन जाने के लिए मुश्किल होती है माता जी के मंदिर के सामने की तरफ बिजली के पोल हैं और वहां माता जी के मंदिर पर बिजली की सुविधा नहीं है ग्रामीणों ने स्वामी जी के समक्ष यह मांग की कि आप विधायक प्रशासन से हमें बिजली मुहैया कराओ स्वामी जी ने वहां विशाल शिवलिंग की स्थापना का मंदिर बनाने का वादा किया इस वादे को स्वामी जी कार्य प्रारंभ वहां मंदिर का निर्माण शुरू करा देंगे परंतु समस्या यह है कि वहां सीमेंट सरिया निर्माण की सामग्री ले जाने हेतु रोड नहीं है शासन ध्यान दें तो तो आदिवासी बंधुओं की श्रद्धा का केंद्र टीटकी माता वह भी एक और भी एक पर्यटक क्षेत्र के रूप में नया आकार लेगा । इस कार्यक्रम का आयोजन काकरा दरा के सरपंचतान सिंह वसुनिया एवं भाजी डूंगरा नेगडिया  टीटकी खेड़ा काकरा द्वारा  छालकीयाआदि गांव के ग्रामीणों ने मिलकर किया था ।

आत्मा की जवाबदारी निभाना ज्यादा जरूरी है, संसार की जवाबदारी के बजाय-साध्वी प्रमोदयषाश्रीजी

झाबुआ । स्थानीय श्री बावन जिनालय में  गुरूवार को चातुर्मासिक प्रवेचन के दौरान साध्वी श्री प्रनीतप्रज्ञा श्री जी ने कहा कि हर श्रावक को दिन में कम से कम एक बार दिन भर किये गये पाप कार्य के लिये प्रायश्चित जरूर करना चाहिये जिससे कर्मो में हल्कापन आता है । साध्वीश्री ने कहा कि काउसग्ग 12 प्रकार के तप में से एक तपह ै । साध्वीश्री प्रमादयशाश्रीजी ने कहा कि व्यक्ति को सांसारिक कार्यो की जवाबदारी ज्यादा निभाने की बजाय आत्मा की जवाबदारी ज्यादा निभाना चाहिये । वर्तमान में मानव धर्म कार्य इसलिये नही कर पारहा है क्योकि वह सांसारिक  जवाबदारी निभाने में लगा हुआ है । साध्वीश्रीजी ने संसार का स्वरूप् समझने पर जोर देते हुए कहा कि संसार पर हमे खेद होगा तो ही सही भावनाओं पर चिंतन हो सकेगा । विवेक जागृत होगा तो आत्मिक सुख प्राप्त होने लगेगा । व्यक्ति प्रमाद करता है तो कर्मो का गाडा बंध होता है प्रमाद सबसे बडा आश्रव माना जाता हे । संसार मे व्यक्ति को अल्प परिग्रही बनना चाहिये । संसार के कार्य में आसक्ति कम होने से भला होगा । आज वर्धमान तप के पाये वाले तपस्वियों के 5 वी तडी व चत्तारी बट्ठ दस दोय तपस्या में तपस्वियों  के 10 उपवास प्रारंभ हुए । चातुर्मास के दौरान 753 आयंबिल तपस्या आराधकों ने की । लगभग 50 आयंबिल के तप प्रतिदिन तपस्वी कर रहे है । पूरे माह आयंबिल करवाने का लाभ धर्मचंद मेहता परिवार द्वारा लिया जारहा है । इस अवसर पर तपस्वियो ं को योगश बापू परिवार की ओर से चांदी के सिक्के भेट किये जाने की घोषणा भी की गई । श्री संघ  अध्यक्ष संजय मेहता उपाध्यक्ष बाबुलाल कोठारी, राजेन्द्र रूनवाल, प्रदीप कटिारिया, सुभाष कोठारी, मुकेश नाकोडा, राजेश मेहता, मुकेश लोढा, जितेन्द्र जैन, रिंकू रूनवाल, अंतिम जैन, उल्लास जैन,ने समस्त कार्यक्रमों में सहभागिता की ।

षिलान्यास पूजन सम्पन्न होगा

झाबुआ ।श्री आदिनाथ माणिभद्र पारमार्थिक ट्रस्ट देवझिरी द्वारा आदि जीन राजेन्द्र सूरि माणिभद्र वीर मंदिर का भूमि पूजन आगामी 16 अगस्त श्रावण शुक्ल छट को पूज्य आचार्य श्रीमद जयंतसेनसूरिश्वरजी मसा के सुशिष्य श्रीमद विजय नित्यसेनसूरीश्वरी जी मसा एवं आचार्य श्रीमद जयरत्नसूरीश्वरजी मसा के आशीर्वाद एवं दिव्य कृपा से संपन्न होगा ।ै वही दिनांक 24 अगस्त  श्रावण शुक्ल त्रयोदशी को  9 शिलान्यास पूजन  का दीव्य कार्यक्रम संपन्न होगा । इस अवसर पर विधि विधान से भूमि पूजन  अनील हरण लिमडी गुजरात द्वारा करवाया जावेगा । ट्रस्टी निर्मल मेहता, मनोहरलाल भंडारी ने श्रीसंघ के सभी श्रावकों से अपील की है कि शिलान्यास पूजन के पावन अवसर पर देविझरी तीर्थ पर पधार कर धर्म लाभ प्राप्त करें ।

अखिल भारतीय कवि सम्मेलन सहित विभिन्न कार्यक्रमों का गणेषोत्सव में होगा आयोजन
  • सार्वजनिक गणेष मंडल की प्रथम बैठक में आयोजनों को लेकर हुई चर्चा
  • आगामी बैठक 15 अगस्त को- बैठक में तय होगें कार्यक्रम एवं गठित होगी कार्यकारीणी

jhabua news
झाबुआ । सार्वजनिक गणेश मंडल राजवाडा चैक झाबुआ द्वारा प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी भव्याति भव्य पैमाने पर 84 वें गणेशोत्सव का आयोजन 13 सितम्बर गुरूवार से 23 सितम्बर रविवार तक मनाये जाने तथा कार्यक्रमों की रूप  रेखा तय करने के लिये श्री सत्यनारायण मंदिर पर गणेश मंडल के सदस्यों की प्रथम बैठक राजेन्द्र अग्निहौत्री की अध्यक्षता में आयोजित की गई । बैठक  में जानकारी देते हुए महा सचिव नानालाल कोठारी ने बताया कि इस वर्ष गणेशोत्सव में अभिनव एवं रचनात्मक,आध्यात्मिक, साहित्यिक एवं मनोरंजक कार्यक्रम आयोजित किये जाने पर बैठक में गहन विचार विमर्श किया गया । बैठक में बताया गया कि नगर के सबसे पूराने एवं ख्याति प्राप्त इस गणेश मंडल में ग्यारह दिवसीय आयोजन जनरूचि के अनुरूप आयोजित किये जाने का संकल्प लिया है वही गणेशोत्सव के दौरान ही अखिल भारतीय कवि सम्मेलन का आयोजन श्री बृजेन्द्र शर्मा चुन्नु भैया एवं सुरेशचन्द्र जैेन पप्पु भैया के मार्गदर्शन में आयोजित किया जावेगा । वही मनोरंजक कार्यक्रमों के अलावा प्रश्नमंच , स्थानीय कलाकारों की प्रतिभाओ ं की प्रस्तुतियो आदि के साथ ही विसर्जन समारोह के दिन चलित झांकियों के बारे में भी चर्चा की गईं बैठक में डा.के के त्रिवेदी, अजय रामावत, नीरजसिंह राठौर, मनीष व्यास, बालमुकुंदसिंह चैहान, रामेश्वर सोनी, हरि पटेल, रविराजसिंह राठौर,सौभाग्यसिंह चैहान, धर्मेन्द्र मालवीय, राजेन्द्र सोनी, जयेन्द्र बैरागी,दिव्येश राठौर, जितेन्द्र शाह, भागवत शुक्ला, जनार्दन शुक्ला,पार्षद नरेन्द्र संघवी, घनश्याम बैरागी,राजेश नागर, रितुराजसिंह राठौर, जैमिनी शुक्ल, यशवंत त्रिवेदी, सत्यनारायण शर्मा,सुरेन्द्र कांठी,लालसिंह चैहान, विजय पाण्डे,दीपक माहेश्वरी सहित बडी संख्या में गणमान्यजन उपस्थित रहे । बैठक में बताया गया कि  समिति की कार्यकारिणी तय किये जाने, तथा गणेशोत्सव के दौरान विभिन्न कार्यक्रमों के आयोजन के लिये आगामी 15 अगस्त बुधवार को सांयकाल 7-30 बजे से मंडल के सभी सदस्यों की विशेष बैठक पैलेस गार्डन झाबुआ पर आहूत की गई है जिसमें सभी सदस्यों एवं उपस्थित गणमान्यजनों के सुझाव आदि प्राप्त किये जाकर कार्यक्रम को अन्तिम रूप दिये जाने पर विचार विमर्श कर निर्णय लिया जावेगा । इस बैठक मे  महिला सदस्याओं से भी अनिवार्यरूप  से उपस्थित रहने का अनुरोध किया गया है । बैठक के अन्त में सार्वजनिक गणेश मंडल के सरंक्षक स्वर्गीय पुष्पकरण जी सोनी को दो मिनट का मौन रख कर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई । कार्यक्रम के अन्त में आभार प्रदर्शन नीरजसिंह राठौर ने किया ।

पाडलवा, टिकडी मोती के वोटरो ने वीवीपैट और ईवीएम से वोट डालने की प्रक्रिया को समझा
         
झाबुआ । मध्यप्रदेश में इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव में पहली बार वीवीपैट वोटिंग मषीन का इस्तेमाल होगा। मतदान-प्रक्रिया को निष्पक्ष एवं पारदर्शी बनाने के लिये मतदाताओं को ईवीएम और वीवीपैट के संबंध में जानकारी देने के लिये जागरुकता वैन ने विधानसभा क्षेत्र झाबुआ के ग्राम पाडलवा, टिकडी मोती, भूतखेडी, बन, भूरीमाटी, आंबाकुंआ, दौतड एवं रानापुर (278 से 287) मे भ्रमण किया एवं ग्रामीणो को वोट डालने की प्रक्रिया से अवगत कराया। वैन मे उपस्थित अधिकारियो ने मतदाताओ को बताया कि इस बार ईवीएम के साथ साथ वीवीपैट मषीन भी मतदान के समय रहेगी, जिसमे से एक पर्ची 7 सेकण्ड के लिये मषीन की विन्डो पर दिखाई देगी, जिसे देखकर मतदाता यह जान पाएगा कि उसने जिस प्रत्याषी का बटन दबाया है उसी प्रत्याषी को उसका वोट मिला है या नही। ग्रामीणो ने स्वयं मषीन का बटन दबाकर देखा कि उनका वोट किसे मिला है।  मतदाता जागरूकता वैन में प्रचार प्रसार के लिये एलसीडी, ईवीएम मषीन और वीवीपैट मषीन रखकर विषेषज्ञो द्वारा मशीनों के बारे में जानकारी दी जा रही है। तथा प्रचार सामग्री भी वितरित की जा रही है। वैन में एलसीडी के माध्यम से लघु फिल्मे दिखाकर वीवीपैट और ईवीएम का प्रदर्शन करके मतदाताओ को वोट डालने की प्रक्रिया समझाई जा रही है।

स्वतंत्रता दिवस के लिये सभी विभागो को दायित्व सौंपे, 13 अगस्त को होगी अंतिम रिहर्सल
  • डीआरपी लाईन में होगा स्वतंत्रता दिवस समारोह

 झाबुआ । स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त का समारोह पुलिस लाईन ग्राउण्ड झाबुआ में आयोजित किया जायेगा। समारोह में मुख्य अतिथि द्वारा प्रातः 9 बजे  ध्वजारोहण किया जाएगा एवं परेड की सलामी ली जाएगी। प्रातः 9.02 बजे मुख्य अतिथि द्वारा परेड का निरीक्षण किया जायेगा। प्रातः 9.22 बजे परेड द्वारा हर्ष फायर किया जाएगा एवं परेड द्वारा मार्च पास्ट, के बाद मुख्य अतिथि द्वारा परेड कमांडरो का परिचय प्राप्त किया जाएगा। स्वतंत्रता संग्राम सैनानियों/लोकतंत्र सैनानियों के सम्मान के बाद पी.टी.प्रदर्षन एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी जाएगी एवं उसके बाद पुरस्कार वितरण किया जावेगा। स्वतंत्रता दिवस पर षासकीय कार्यालयो पर 14 एवं 15 अगस्त की रात्रि को विद्युत व्यवस्था की जाएगी। स्वतंत्रता दिवस पर षासकीय कार्यालयों पर राष्ट्रीय ध्वज को गरिमामय स्थिति में फहराया जाएगा। स्वतंत्रता दिवस की तैयारियो के लिये अंतिम रिहर्सल 13 अगस्त को प्रातः 9 बजे से डीआरपी लाइन मे होगी।

आदिवासी सम्मेलन मे 258 हितग्राहियो को बांटे गये वनाधिकार पट्टे
मुख्यमंत्री ने लाइव प्रसारण के माध्यम से किया हितग्राहियो को संबोधित
jhabua news
झाबुआ । झाबुआ जिले में स्थानीय पैलेस गार्डन, झाबुआ मे आज आदिवासी सम्मेलन आयोजित किया गया। आदिवासी सम्मेलन में 258 हितग्राहियो को वनाधिकार के पट्टे वितरित किये गये एवं अन्य विभागों के हितग्राहियों को भी सम्मेलन में हितलाभ का वितरण विधायक झाबुआ श्री षांतिलाल बिलवाल, विधायक पेटलावद सुश्री निर्मला भूरिया, विधायक थांदला श्री कलसिंह भाबर की उपस्थिति मे जनप्रतिनिधियो द्वारा किया गया। इस अवसर पर कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना, सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे सहित जनप्रतिनिधि, अधिकारी एवं बडी संख्या मे हितग्राही उपस्थित थे। कार्यक्रम मे आये आमजनो ने धार मे आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम के मुख्यमंत्री के संबोधन को लाइव प्रसारण के माध्यम से देखा एवं सुना। कार्यक्रम मे उपस्थित आमजन को संबोधित करते हुए झाबुआ श्री षांतिलाल बिलवाल, विधायक पेटलावद सुश्री निर्मला भूरिया, विधायक थांदला श्री कलसिंह भाबर ने परंपरागत आदिवासी संस्कृति एवं आदिवसी समाज मे जन्मे महानायको की जानकारी दी।कार्यक्रम मे जिले के ऐसे विद्यार्थियो को भी सम्मानित किया गया जिन्होने प्रतियोगी परीक्षाओ को पास कर डाॅक्टर, इंजीनियर, एवं सिविल सेवाओ के क्षेत्र मे नौकरी पाई है।

आॅनलाइन पंजीयन कराकर उद्यानिकी विभाग की योजनाओं का लाभ उठायें
        
झाबुआ । उद्यानिकी विभाग की योजनाओं का लाभ लेने के लिए कृषक एम.पी. आॅनलाइन के माध्यम से पंजीयन करा सकते है। सहायक संचालक उद्यानिकी ने बताया कि मध्यप्रदेष शासन के पोर्टल एमपीएफटीएस पर माह की 1, 2, 3, 11, 12, 13, 21, 22 अथवा 23 तारीख को एवं विषेष परिस्थितियों में संचालक के निर्देष पर माह की अन्य किसी भी दिनांक को योजनाओं के लक्ष्य प्रदाय किये जाते है। किसानो से अपील की कि वे इन दिनांको में एम.पी. आॅनलाइन या कियोस्क सेंटर या मोबाईल के माध्यम से पंजीयन कर लाॅगिन कर संबंधित योजनाओं में आवेदन कर सकते है।

संस्थागत प्राथमिकता के लिये 10 अगस्त तक ह¨गी काउंसलिंग
        
झाबुआ । प्रदेश में बी.ई/बी. आर्किटेक्चर/बी.डी. फार्मेसी पाठ्क्रम¨ं में संस्थागत प्राथमिकता सीट¨ं के लिए (पदेजपजनजपवदंस चतममितमदबम ेमंजे) काउंसलिंग 10 अगस्त, 2018 तक ह¨गी। काउंसलिंग उन संस्थाअ¨ं में आय¨जित ह¨गी, जिन्ह¨ंने इन सीट¨ं के लिये सहमति पत्र के साथ निर्धारित तिथि तक आवेदन किया है। संस्थागत प्राथमिकता सीट¨ं के अन्तर्गत एआईसीटीई द्वारा  स्वीकृत प्रवेश क्षमता के 10 प्रतिशत स्थान¨ं तक ही प्रवेश की कार्यवाही की जायेगी। इन सीट¨ं पर प्रवेश पश्चात संस्था द्वारा घ¨षित वार्षिक शिक्षण शुल्क ही लिया जायेगा। संस्थागत प्राथमिकता सीट¨ं के के लिये उपलब्ध संस्थान¨ं की सूची अ©र उनके द्वारा इन सीट¨ं पर प्रवेशित अभ्यर्थिय¨ं से लिये जाने वाला शिक्षण शुल्क तथा विस्तृत प्रक्रिया वेबसाइट पर उपलब्ध है।

जोसिंग को 4 लाख आर्थिक सहायता स्वीकृत

झाबुआ । जिले के मेघनगर तहसील के ग्राम आमलीयामाल में रहने वाली षांति पिता जोसिंग की पानी भरे गढ्ढे मे गिरकर डूबने से मृत्यु हो जाने पर मृतक षांति के वैध वारिस उसके पिता जोसिंग पिता कमजी, निवासी आमलीयामाल को रूपयें 4 लाख की आर्थिक सहायता राशि एसीडीएम मेघनगर द्वारा स्वीकृत की गई है। स्वीकृत राशि मृतक के वैध वारिस जोसिंग निवासी आमलीयामाल को बैंक मे खाते में ई-पेमेन्ट द्वारा भूगतान की जाएगी।

सीईओ जिला पंचायत ने उपयंत्री रविन्द्र रावत की एक वेतन वृद्धि रोकी
         
झाबुआ । श्री रविन्द्र रावत उपयंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा उपसंभाग झाबुआ द्वारा सौपे गये सेक्टर मे विभिन्न योजनाओ के क्रियान्वयन मे उदासीनता तथा अपने कर्तव्य के प्रति लापरवाही बरतने के कृत्य के कारण मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे ने कारण बताओ सूचना पत्र जारी कर 13 जुलाई 2018 तक प्रत्युत्तर प्रस्तुत करने का समय दिया था। श्री रावत द्वारा प्रस्तुत प्रत्युत्तर असंतोषजनक होने से षासकीय योजनाओ के क्रियान्वयन मे लापरवाही तथा अपने कर्तव्य के प्रति उदासीनता बरतने के फलस्वरूप श्री रविन्द्र रावत उपयंत्री की एक वेतन वृद्धि असंचयी प्रभाव से सीईओ जिला पंचायत ने रोक दी है।

हैप्पीनेस कार्यशाला 10 अगस्त क¨
         
झाबुआ । राज्य आनंद संस्थान द्वारा 10 अगस्त क¨ हैप्पीनेस कार्यशाला की जा रही है। यह कार्यशाला भ¨पाल के माध्यमिक शिक्षा मंडल परिसर स्थित राज्य आनंद संस्थान में ही ह¨गी। कार्यशाला के लिये शासकीय अ©र अशासकीय व्यक्ति 10 अगस्त तक अपना पंजीयन करवा सकते है। कुल 30 सीट में से अभी 11 सीट उपलब्ध है। अधिक जानकारी के लिये संस्थान की वेबसाइट  पर संपर्क किया जा सकता है।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...