बिहार : अब ग्वालियर में मिलेंगे के वादा के साथ एकता परिषद,बिहार की बैठक संपन्न - Live Aaryaavart

Breaking

शनिवार, 15 सितंबर 2018

बिहार : अब ग्वालियर में मिलेंगे के वादा के साथ एकता परिषद,बिहार की बैठक संपन्न

ekta-parishad-meeting
पटना : एकता परिषद,बिहार की एक दिवसीय जन आंदोलन 2018 की तैयारी बैठक में प्रगति भवन में हुई.इसमें शिविर नायक एवं अन्य शीर्ष नेताओं ने भाग लिया.यह तैयारी की आखरी बैठक थी.अब बिहार के बाद ग्वालियर में मिलेंगे के वादा के साथ प्रस्थान कर गए. बताते चले कि एकता परिषद जन संगठन व अन्य  सम्मान विचारधाराओं के लोगों ने जन आंदोलन 2018 सत्याग्रह पदयात्रा का शंखनाद कर रखा है.इसमें 6 सूत्री मांग शामिल है. जो इस प्रकार है राष्ट्रीय आवासीय भूमि अधिकार कानून की द्योषणा एवं क्रियान्वयन, राष्ट्रीय कृषक हकदारी कानून की द्योषणा एवं क्रियान्वयन,राष्ट्रीय भूमि नीति की द्योषणा व क्रियान्वयन, भारत सरकार द्वारा पूर्व में गठित राष्ट्रीय भूमि सुधार परिषद और राष्ट्रीय भूमि सुधार कार्यबल समिति को सक्रिय करना, वनाधिकार कानून -2006 और पंचायत (विस्तार उपबन्ध) अधिनियम -1996 के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए राष्ट्रीय  व प्रांतीय स्तर पर निगरानी तंत्र की स्थापना और भूमि संबंधी विवादों के शीघ्र समाधान के लिए त्वरित न्यायालयों का संचालन हो.इसको लेकर अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस के अवसर पर 2 अक्टूबर 2018 से ग्वालियर से सत्याग्रह शुरू होगा. 2 व 3 अक्टूबर को सत्याग्रही उपवास रखेंगे.वहीं 2 तारीख को जन संगठन के लोगों के लिए और 3 अक्टूबर को राजनीतिक नेताओं की सभा होगी.अगर केंद्र सरकार के द्वारा 6 सूत्री मांग को नजरांदाज की गयी तो 4 अक्टूबर से सत्याग्रह पदयात्रा शुरू कर दी जाएगी.ग्वालियर से चलकर सत्याग्रही मुरैना पहुंचेंगे.यहां पर 5 अक्टूबर को आमसभा होगी. बता दें कि इस बीच एकता परिषद के द्वारा देश भर में हस्ताक्षर अभियान चलाया गया.एक लाख से अधिक लोगों का हस्ताक्षर को महामहिम राष्ट्रपति को सौंपना है. अकेले बिहार ने 45 हजार लोगों का हस्ताक्षर करा लिया है. हस्ताक्षरयुक्त 25 बुक को एकता परिषद,बिहार के प्रांतीय संयोजक उमेश कुमार ने प्रदीप प्रियदर्शी, उपाध्यक्ष, एकता परिषद को सुपुर्द किया.  बता दें कि एकता परिषद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रदीप प्रियदर्शी हैं.उन्होंने कहा कि रविवार को दिल्ली जा रहे हैं. 45 हजार लोगों का हस्ताक्षरयुक्त बुक को साथ में ले जा रहा है.राष्ट्रीय कार्यालय को बुक सौंप देंगे.देशभर के लोगों का हस्ताक्षरयुक्त बुक को महामहिम राष्ट्रपति को सौंपा जाएगा. आगे उन्होंने कहा कि बिहार से पांच हजार सत्याग्रही जन आंदोलन में शिरकत करेंगे.यहां से सत्याग्रही 30 सितम्बर से ग्वालियर जाना शुरू कर देंगे.  तैयारी बैठक में व्यापक चर्चा की गयी.इस चर्चा में मंजू डुंगडुंग, सिंधु सिंहा,श्याम नंदन सिंह,रंजीत राजभर,दुलारचंद राम,धरमू राम,कौशल कुमार आदि भाग लिए.पटना,भोजपुर,बक्सर, गया, कटिहार, जमुई, मुजफ्फरपुर, बांका आदि जिले के लोग आए थे. 
एक टिप्पणी भेजें
Loading...