बिहार में कांग्रेस को मजबूत करना प्राथमिकता : मदन मोहन झा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 19 सितंबर 2018

बिहार में कांग्रेस को मजबूत करना प्राथमिकता : मदन मोहन झा

priority-to-make-congress-strong-in-bihar-madan-mohan
पटना, 18 सितंबर,  बिहार के वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पार्टी के नए प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा ने यहां मंगलवार को कहा कि उनकी प्राथमिकता राज्य में संगठन को मजबूत करना और आगामी चुनावों में पार्टी के बेहतर प्रदर्शन की है। पूर्व मंत्री और विधान पार्षद झा ने पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मनोनीत किए जाने के बाद पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि वे छात्र संगठन से लेकर कांग्रेस समिति के कई पदों पर रहे हैं और कर्मठता से पार्टी के आलाकमान के फैसले का पालन किया है। उन्होंने पार्टी में असंतुष्ट गुट के होने की बात को नकारते हुए कहा कि उनका प्रयास रहेगा कि पार्टी में सभी नेताओं को उचित सम्मान मिले। झा ने कहा, "पार्टी को मजबूत करना मेरी प्राथमिकता है। वर्ष 2019 का लोकसभा और वर्ष 2020 का विधानसभा चुनाव मेरे लिए सबसे बड़ी चुनौती है। मैं कोशिश करूंगा कि सभी को साथ लेकर चलूं और चुनावों में पार्टी बेहतर प्रदर्शन करे।" प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने के बाद उन्होंने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी का आभार जताया और कहा कि बिहार ही नहीं, समूचे देश के युवा आज युवा नेता राहुल की तरफ उम्मीद भरी नजरों से देख रहे हैं। झूठे वादों से छला गया युवा वर्ग देख रहा है कि प्रधानमंत्री या भाजपा नेतृत्व राहुल के उठाए सवालों का जवाब नहीं दे पा रहा है। जब कोई जवाब नहीं सूझता, तब अनाप-शनाप बोलकर अपना गम गलत करने का प्रयास किया जा रहा है।

मैथिल ब्राह्मण जाति से आने वाले मदन मोहन झा के पिता डॉ.नागेंद्र झा भी कांग्रेस के बड़े नेता रहे और बिहार सरकार में शिक्षा मंत्री भी थे। झा के प्रदेश अध्यक्ष के मनोनयन के बाद उन्हें बधाई देने वाला का तांता लग गया। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि अगले लोकसभा चुनाव में मुकाबला 70 पार बुजुर्ग और युवा नेता के बीच होने जा रहा है। एक ऐसा युवा नेता, जिसकी दादी और पिता ने इस देश के लिए अपने प्राण न्योछावर किए हैं। एनएसयूआई से राजनीति की शुरुआत करनेवाले झा बिहार कांग्रेस में महासचिव, कोषाध्यक्ष जैसे पदों पर रह चुके हैं। समझा जाता है कि दरभंगा जिले के निवासी झा को अध्यक्ष बनाकर कांग्रेस ने सवर्ण कार्ड खेला है। बिहार में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष का पद अशोक चौधरी को पद से हटाए जाने के बाद से खाली था। इसके बाद से कौकब कादरी कार्यवाहक अध्यक्ष की भूमिका निभा रहे थे। इससे पहले, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने वरिष्ठ नेता मदन मोहन झा को मंगलवार को कांग्रेस की बिहार इकाई का नया अध्यक्ष नियुक्त किया। इसके अलावा अखिलेश प्रसाद सिह को प्रचार समिति का अध्यक्ष बनाया गया है। कौकब कादरी पार्टी के राज्य कार्यकारी अध्यक्ष बने रहेंगे, जबकि समीर कुमार सिंह और श्याम सुंदर को भी कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया है।
एक टिप्पणी भेजें