विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 02 सितंबर - Live Aaryaavart

Breaking

रविवार, 2 सितंबर 2018

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 02 सितंबर

विदिशा नगर के माधव उद्यान में योग केन्द्र एवं जिम भवन का भूमिपूजन

vidisha news
विदिशा शहर के माधव उद्यान में योग केन्द्र एवं जिम भवन का निर्माण कराया जाएगा। उक्त कार्य का भूमिपूजन रविवार की प्रातः नगरपालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन, विधायक श्री कल्याण सिंह ठाकुर और कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने संयुक्त रूप से किया। भूमिपूजन कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए नगरपालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन ने कहा कि माधव उद्यान मंे स्थापित होने वाले जिम आधुनिक संसाधनो से युक्त होगा। जिम के लिए अस्सी लाख की लागत के आधुनिक उपकरण का क्रय किया जाएगा। महिला और पुरूषो के लिए अलग-अलग कक्षो में जिम सामग्री रखी जाएगी। उन्होंने सार्वजनिक वाचनालय भवन का भी निर्माण कराए जाने की बात करते हुए कहा कि उक्त भवन पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय लाल बहादुर शास्त्री  के नामकरण पर रखा जाएगा। भवन परिसर में लाल बहादुर शास्त्री की प्रतिमा भी स्थापित की जाएगी। नपा अध्यक्ष श्री टण्डन ने बताया कि शीघ्र ही विदिशा नगरपालिका बस स्टेण्ड परिसर में सीसी कार्य किया जाएगा ताकि जलभराव की स्थिति निर्मित ना हो। नगर को धूलरहित बनाने के लिए क्रय किए जाने वाले उपकरणों के संबंध में भी उन्होंने उल्लेख किया। विधायक श्री कल्याण सिंह ठाकुर ने कहा कि नगरपालिका द्वारा नगरवासियो को हर संभव सुविधाएं देने का प्रयास किया जा रहा है शीघ्र ही सड़को का निर्माण कार्य उन क्षेत्रो में किया जाएगा जहां सीवर लाइन एवं पेयजल पाइप लाइन डालने का कार्य पूर्ण हो गया है। कोई भी कार्य शुरू होेते है तो कुछ अव्यवस्थाओं का सामना स्थानीय रहवासियों को करना पड़ता है किन्तु जैसे ही सड़का का निर्माण कार्य पूर्ण हो जाएगा। विदिशा नगर सुसज्जित हो जाएगा। अब नगर में कही भी जलभराव की स्थिति निर्मित ना हो इसके लिए भी प्रबंध सुनिश्चित किए जा रहे है। कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने नगरवासियों को नई सौगात मिलने पर बधाई देते हुए कहा कि माधव उद्यान में घूमने आने वालो के लिए शारीरिक स्वच्छता के लिए जिम व योग की स्थाई सुविधाएं शीघ्र मिलने लगेगी। उन्होंने प्रशिक्षित योगाचार्य की नियुक्ति शीघ्र करने की बात करते हुए कहा कि नगर में चहुंओर विकास कार्यो को अंजाम दिया जा रहा है ताकि विदिशा शहर को राजधानी के नजदीक होेने का शत प्रतिशत फायदा राजधानी के अनुरूप मिल सकें। भूमिपूजन कार्यक्रम में श्री संदीप सिंह डोंगर, श्रीमती मंजरी जैन, मुक्तिधाम समिति के सचिव श्री मनोज पांडे के अलावा पार्षदगण, समाजसेवी श्री अतुल शाह, ग्यारसपुर जनपद पंचायत के पूर्व अध्यक्ष श्री छत्रपाल शर्मा, श्री अरविन्द श्रीवास्तव के अलावा नगर के गणमान्य नागरिक मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन पार्षद श्री केके गुप्ता ने किया। 

जिले में 745.2 मिमी औसत वर्षा दर्ज

जिले की तहसीलों में स्थापित वर्षामापी यंत्रों पर रविवार की सुबह आठ बजे दर्ज की गई वर्षा की जानकारी देते हुए अधीक्षक भू-अभिलेख श्रीमती सविता पटेल ने बताया कि आज रविवार को जिले में 16 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है। जिले में अब तक कुल 745.2 मिमी औसत वर्षा हो चुकी है। जबकि गतवर्ष उक्त अवधि में 602.9 मिमी औसत वर्षा हुई थी। ज्ञातव्य हो कि जिले की सामान्य वर्षा 1075 मिमी है।  रविवार को तहसीलों में दर्ज वर्षा तदानुसार विदिशा में आठ मिमी, बासौदा में 8.2 मिमी, कुरवाई में 25.6 मिमी, सिरोंज में दस मिमी,  लटेरी में 49 मिमी, ग्यारसपुर में 11 मिमी, गुलाबगंज में दस और नटेरन में छह मिमी वर्षा दर्ज की गई हैै। अब तक तहसीलों में दर्ज वर्षा की जानकारी इस प्रकार से है। विदिशा मंे 930.2 मिमी, बासौदा में 697.2 मिमी, कुरवाई में 837 मिमी, सिरोंज में 689 मिमी, लटेरी में 822 मिमी, ग्यारसपुर में 746.5 मिमी, गुलाबगंज में 658 मिमी और नटेरन में 582 मिमी वर्षा दर्ज की जा चुकी है। 

एमसीएमसी के सदस्यों हेतु प्रशिक्षण छह को 

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी तथा एमसीएमसी समिति के अध्यक्ष श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह की अध्यक्षता में समिति की प्रथम बैठक छह सितम्बर को आयोजित की गई है। उक्त बैठक सह प्रशिक्षण कलेक्टेªट सभा कक्ष में अपरान्ह 12 बजे से शुरू होगी। समिति के सदस्य सचिव एवं जनसम्पर्क अधिकारी ने समिति के सभी अन्य सम्माननीय सदस्यगणों से समिति की बैठक में शामिल होने का पत्र प्रेषित करते हुए आग्रह किया गया कि बैठक में शामिल होकर एमसीएमसी की कार्यप्रणाली और दायित्वों का प्रशिक्षण भी मास्टर टेªनर्स द्वारा दिया जाएगा। जिला स्तरीय मीडिया मानिटरिंग एवं मीडिया सर्टिफिकेशन कमेटी (एमसीएमसी) के सदस्यो में पांचो विधानसभाआंे के रिटर्निंग आफीसरों को, एनआईसी के डीआईओ व अधिमान्य पत्रकार श्री अतुल शाह को को शामिल किया गया है। उक्त सभी सदस्यों को एमसीएमसी के प्रशिक्षण कार्यक्रम मंे नियत समय व स्थल पर उपस्थित होने का आग्रह समिति के सदस्य सचिव द्वारा किया गया है।

ग्रामीणों को योजनाओं की जानकारी गांव में मिल रही है

शासकीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों से रू-ब-रू कराने के लिए प्रचार-प्रसार रथों का भ्रमण जिले के सभी विकासखण्डों के ग्रामों में एक साथ जारी है। अब तक जिले के पांच सौ से अधिक ग्रामो में पहुंचकर इन रथो के द्वारा ग्रामीणजनों को शासकीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों पर आधारित बहुउपयोगी जानकारियों से लाभांवित किया गया है।  प्रत्येक रथ विकासखण्डवार निर्धारित रूटचार्ट मार्गो के ग्रामों में पहुंचकर एलईडी के माध्यम से शासन की जनहितैषी कल्याणकारी योजनाओं एवं कार्यक्रमों की जानकारी दी जा रही है। जिसमें योजनाओं से लाभांवित होने वाले हितग्राहियों के जीवन में आए बदलाव की जुबानी रिकार्डेट उद्बोधन को भी प्रसारण में शामिल किया गया है।  जनसम्पर्क विभाग द्वारा शासकीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों पर आधारित प्रचार-प्रसार रथ तैयार कराए गए है। प्रत्येक रथ में 4ग6 की एलईडी साउण्ड सिस्टम सहित लगाई गई है जिसमें पेन ड्राइव के माध्यम से शासकीय योजनाआंे, कार्यक्रमों और मुख्यमंत्री जी उद्बोधन और योजनाओं से लाभांवित हितग्राहियों के जीवन में आए परिवर्तन का प्रदर्शन किया गया है। प्रत्येक रथ मंे पर्याप्त मात्रा में प्रचार सामग्री भी रखी गई है जो ग्रामीण क्षेत्रों में भ्रमण के दौरान ग्रामीणजनों में वितरित करेंगे। प्रचार रथ जिले के सभी सातो विकासखण्डों में एक-एक भ्रमण कर रहे है प्रत्येक रथ हर रोज गांवों में पहुंचकर विकास कार्यो और योजनाओं पर आधारित फिल्मांकनों का प्रदर्शन कर रहे है साथ ही साथ शासकीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों पर आधारित साहित्य का वितरण ग्रामीणजनों को कर रहे है। सभी प्रचार विकास रथ 15 सितम्बर तक जिले के ग्रामों में भ्रमण करंेगे। 

कहानी सच्ची है :योजना ने अरविन्द के सपनों को साकार किया

vidisha news
दूसरों की दुकानो पर कपडे़ सिलने का कार्य करने वाले अरविन्द गौड़ के सपनों को शासकीय योजनाओं ने साकार किया है। आदिम जाति कल्याण विभाग के माध्यम से क्रियान्वित आदिवासी वित्त विकास निगम की योजना ने अरविन्द के सपनो को साकार कर पंख लगाए है। विदिशा जिले की नगरपालिका बासौदा के जवाहर रोड़ वार्ड 23 में निवासरत हितग्राही अरविन्द गौड़ के मोबाइल नम्बर 9827193224 पर हुई चर्चा में बताया कि जहां पहले मैं दूसरो की दुकानो में टेलरिंग का काम कर कपड़े सिला करता था उस समय मुझे महीने में बडी मुश्किल से हजार से दो हजार रूपए की आमदनी होती थी। इतनी राशि में परिवार का गुजारा कर पाना संभव नही था। ऐसे समय अखबारो में प्रकाशित आदिम कल्याण विभाग के माध्यम से क्रियान्वित योजनाओं ने मुझे नए मार्ग पर चलने की प्रेरणा दी। मैने जिला संयोजक से स्वंय सम्पर्क किया और अपनी कार्यक्षमता एवं योग्यता का परिचय देते हुए स्वंय का रोजगार स्थापित करने की मंशा जाहिर की। विभाग के अधिकारी द्वारा मुझे हर संभव सहयोग किया गया। जिसका परिणाम है कि मैं आज रेडीमेड व्यवसाय का संचालन कर पा रहा हूं। बासौदा की केके हास्पिटल के समक्ष मेन्सवेयर का व्यवसाय करने वाले हितग्राही अरविन्द गौड का कहना है कि एक योजना ने मेरा नही बल्कि मेरे परिवार के सभी के जीवन में सुधार लाया है। आदिवासी वित्त विकास योजना के तहत हितग्राही अरविन्द गौड़ को रेडीेमेड व्यवसाय के लिए चार लाख रूपए का लोन बैक आफ इंडिया के द्वारा वित्त पोषित किया गया है। हितग्राही अरविन्द गौड़ का कहना है कि योजना का लाभ मिलने से मेरे जीवन में बदलाव के संदेश का सभी ने संकेत दिया है। मेरी दोनो बच्चियां निजी विद्यालय में अध्ययन कर रही है जिनकी फीस में दुकान से होने वाली आमदनी से भर रहा हूं। जहां मैं दूसरों के यहां काम कर अपने परिवार का गुजारा कर रहा था अब योजना ने मुझे स्वंय दुकान का मालिक बना दिया है और अपने परिवार को समय देने का अवसर दिया है। मैं प्रत्येक माह चार हजार रूपए दुकान का किराया एवं तीन हजार रूपए बैंक की किश्त जमा करने के उपरांत सुगमता से मुझे पांच से छह हजार रूपए की आमदनी हो रही है जिससे मैं अपने परिवार का गुजारा बसर कर रहा हूं। शासन की योजना ने मुझे आत्म स्वालम्बी बनाया है।

जब संगीत विभूति आषा भोंसले ने सौम्या को मंच पर बुलाकर उसके बाल काढ़े और दो चोटियां बनाई 

  • आषाजी ने नन्ही गायिका सौम्या से कहा उनकी बड़ी बहिन लता मंगेषकरजी तथा वे स्वयं भी छोटी उम्र से गायन कर रही हैं और दोनो बहिनें चोटी बनाती हैं
  • स्टार प्लस टीवी शो दिल है हिन्दुस्तानी में 1-2 सितम्बर शनिवार-रविवार को प्रसारण

saumya-vidisha
विदिषा 31 अगस्त 2018/लोकप्रिय टीवी चैनल स्टार प्लस पर जारी अंतर्राष्ट्रीय सिंगिंग रियलिटी शो ‘‘दिल है हिन्दुस्तानी‘‘ के अंतर्गत 1-2 सितम्बर शनिवार-रविवार को रात्रि 8 बजे प्रसारित होने वाले शो में स्थानीय ट्रिनिटी काॅन्वेन्ट स्कूल की कक्षा 8 की होनहार छात्रा तथा सुप्रसिद्ध नन्हीं गायिका सौम्या शर्मा एक बार फिर अपनी चमत्कारी गायन का जादू बिखेरेंगी। इस बार वे विष्व विख्यात संगीत विभूति आषा भोंसलेजी के साथ गायन करती दिखाई देंगी। आषाजी सौम्या के गायन से इतनी अधिक प्रभावित हुईं कि उसे लाड़-प्यार करते हुए अपने पास मंच पर बुलाया और स्वयं के हाथों से उसके बाल काढ़ कर दो चोटियां बनाईं। आषाजी ने नन्ही गायिका सौम्या से कहा कि उनकी बड़ी बहिन लता मंगेषकरजी तथा वे स्वयं भी सौम्या की भांति छोटी उम्र से गायन कर रही हैं और दोनो बहिनें चोटी बनाती है, क्योंकि यह भारतीय परम्परा के अनुरूप है। आषाजी ने सौम्या को वरदानी शुभाषीर्वाद देते हुए उसके गायन की सार्वजनिक मंच पर भूरि-भूरि प्रषंसा की। इसके पूर्व सौम्या ने फिल्म जगत के सुविख्यात गायक बेनी दयाल के साथ अपने गायन की प्रस्तुतियां दीं। स्मरणीय है कि सौम्या इसके पूर्व सुप्रसिद्ध वरिष्ठ संगीतकार उदित नारायण तथा उनके गायक सुपुत्र आदित्य नारायण, मीकासिंह, कुमार सानु, सुखविन्दर सिंह तथा शान के साथ गायन कर स्पर्धा में उच्च स्तर पर चयनित हो चुकी हैं। अन्य गायन विभूतियों के साथ भी उनका गायन का यह क्रम सितम्बर माह में आगे भी जारी रहेगा। उल्लेखनीय है कि विष्व भर के बड़े-बड़े दिग्गज सिंगरों को पीछे छोड़कर सौम्या ने टॉप-मोस्ट रैंक में अपना विषेष स्थान बनाया है। उसकी जन्मजात चमत्कारी विषिष्ट प्रतिभा तथा दर्षक जनता-जनार्दन से प्राप्त हो रहे आषीर्वाद से वह इस खास मुकाम पर पहुंची है। दिल है हिन्दुस्तानी शो के जज देष की सुप्रसिद्ध गायिका सुनिधि चैहान, सुविख्यात म्यूजिक डायरेक्टर प्रीतम दा तथा नम्बर 1 रैपर सिंगर बादषाह हैं। राघव तथा मुक्ति जैसी कलाधर्मी हस्तियां मंच की समन्वयक हैं। संगीत जगत की ये ही विभूतियां सौम्या की प्रतिभा का आंकलन कर रही हैं। इन्हीं विभूतियों ने सौम्या को गोल्डन डिष तथा ‘‘दिल‘‘ की अत्याकर्षक प्रतिकृतियां विजयवरण के स्वरूप अपने कर कमलों से प्रदान कीं हैं।

विष्व स्तरीय स्पर्धा 
इस विष्व स्तरीय ओपन-टू-आॅल अर्थात् सभी आयु वर्ग के प्रतियोगियों के लिए एक साथ आयोजित स्पर्धा में विष्व के अनेक देषों के लाखों प्रतियोगियों ने भाग लिया, जिनके प्रारंभिक आॅडिषन्स उनके देषों में ही हुए और उनमें चयनित हजारों प्रतियोगियों में से मेघा आॅडिषन में अनंतिम चयन कर चयनित प्रतियोगियों को फाइनल मेघा आॅडिषन हेतु भारत बुलाया गया। इस प्रकार सौम्या ने ना केवल भारत, अपितु अन्य विभिन्न देषों के चयनित प्रतियोगियों के साथ भी कड़ी स्पर्धा कर उच्च स्थान प्राप्त कर अपने स्कूल, नगर तथा प्रदेष-देष का नाम रोषन किया है। 
एक टिप्पणी भेजें
Loading...