जन्मजात नागरिकता के अधिकार ने जन्म पर्यटन का कारोबार ही बना दिया है : ट्रंप - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 2 नवंबर 2018

जन्मजात नागरिकता के अधिकार ने जन्म पर्यटन का कारोबार ही बना दिया है : ट्रंप

trump-on-birth-citizenship
वाशिंगटन, दो नवंबर, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने दावा किया है कि जन्मसिद्ध नागरिकता के प्रावधान ने अमेरिका में जन्म पर्यटन का पूरा उद्योग खड़ा कर दिया है और चीनी लोगों को इस ‘मूर्खतापूर्ण नीति’ का बेहद फायदा मिल रहा है। जन्म पर्यटन (बर्थ टूरिज्म) से आशय लोगों द्वारा केवल बच्चे को जन्म देने के लिए दूसरे देश जाने का चलन है। इनमें से बहुत से लोग जन्म के बाद ही वापस अपने देश चले जाते हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति ने मंगलवार को मंशा जताई कि अमेरिका में गैर-अमेरिकी माता-पिता के जन्मे बच्चों को स्वत: नागरिकता नहीं देने के लिए वह शासकीय आदेश का रास्ता अपना सकते हैं। ट्रंप ने मिसौरी के कोलंबिया में चुनावी रैली में अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘इस नीति ने पूरी तरह से एक उद्योग ही बना दिया है। इसे जन्म पर्यटन कहा जाता है जहां पूरी दुनिया से गर्भवती माताएं अमेरिका आती हैं और अपने बच्चों को फौरन आजीवन नागरिकता दिलवा देती हैं।’’  राष्ट्रपति ने आरोप लगाया कि विपक्षी डेमोक्रेट किसी भी अवैध विदेशी से जन्मे बच्चे को स्वत: जन्मजात नागरिकता देते रहने के पक्षधर हैं। उन्होंने कहा, ‘‘जबकि वे कुछ समय के लिए ही हमारी सरजमीं पर रहते हैं।’’ 

एक टिप्पणी भेजें