बिहार : पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी को सौपा ज्ञापन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 31 दिसंबर 2018

बिहार : पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी को सौपा ज्ञापन

memorendum-to-manjhi
पटना,31 दिसम्बर। बिहार आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ की पटना जिला अध्यक्ष कुमारी रंजना यादव हैं। उन्होंने कहा कि रविवार को पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी से मिलकर संयुक्त संघर्ष समिति की पटना मंडल की ओर से अपनी 15 सूत्री मांगों को पेश किया। पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के समक्ष अपनी मांगों को रखते हुए कहा गया कि निदेशक एवं प्रधान सचिव समाज कल्याण विभाग के पटना में संयुक्त संघर्ष समिति के साथ आयोजित वार्ता तृतीय चरण में भी असफल हो गया। पूर्व मुख्यमंत्री से यह भी कहा गया कि  बिहार सरकार के द्वारा हमारी सेविका व सहायिका से 4 घंटे के बजाय 10 घंटे तक कार्य लिया जाता है। सेविका की मजदूरी 1 दिन का ₹125 और सहायिका को  ₹65 देती है। जबकि  महात्मा गांधी नरेगा में  ₹ 162 मजदूरी देय है। साधारण मजदूरों की मजदूरी 1 दिन का ₹300 मिलता है।यहां  हम लोगों का जमकर  शोषण किया जा रहा है । बिहार सरकार के द्वारा  जिलाधिकारियों, ज़िला प्रोग्राम पदाधिकारियों, बाल विकास परियोजना पदाधिकारियों आदि से धमकी दिलवाया जा रहा है कि हड़ताल समाप्त करें नहीं तो चयन ही  रद्द कर दिया जाएगा। पूर्व मुख्यमंत्री ने आंगनबाड़ी  संघ की मांगों को जायज बताते हुए कहा कि इस मांग पत्र को विधान सभा चलने के समय आपकी जायज मांगों को रखूंगा। संयुक्त संघर्ष समिति निर्णयानुसार   8 व 9 जनवरी को जिला मुख्यालय पर  चक्का जाम रहेगा।पूर्व सीएम से मिलने वाले प्रतिनिधि मंडल में पुनम कुमारी ,प्रखण्ड कोषाध्यक्ष दानापुर, वीणा देवी, बिहटा प्रखण्ड अध्यक्ष,  कुमकुम कुमारी, ग्रामीण प्रखण्ड अध्यक्ष रचना कुमारी,  सचिव पटना सदर 4,रामकुमारी ,प्रखण्ड अध्यक्ष फुलवारी,मुकुल कुमारी, अध्यक्ष पटना सदर 2 आदि शामिल थी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...