सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 31 दिसंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 31 दिसंबर 2018

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 31 दिसंबर

सहकारिता विभाग के  बाबूलाल शर्मा दफ्तरी पद से सेवानिवृत्ती पर भावविहीन बिदाई ।

sehore news
सीहोर । दिनांक 31.12.2018 को सहकारिता विभाग में दफ्तरी पद पर पदस्थ श्री बाबूलाल शर्मा को 62 वर्ष की आयु पूर्ण होने पर सेवानिवृत्ती के अवसर पर विभाग के अधिकारी भूपेन्द्र प्रताप सिंह उपायुक्त सहकारिता जिला सीहोर द्वारा शासकीय सेवा से भारमुक्त प्रमाण—पत्र देते हुए, साल एवं श्रीफल से सम्मानित करते हुए कहाकि श्री शर्मा जी द्वारा शासकीय सेवा में अपने कार्य को ईमानदारी किया है, मैं इनके उज्जवल भविष्य की कामना करता हूँ । इस अवसर पर सुधीर कैथवास अंकेक्षण अधिकारी, सुनील सक्सेना, एन. एस. चौहान, श्रीमती चन्द्रलेखा सिंह वरिष्ठ सहकारी निरीक्षक,  आर. के. रायचूर, एन. के. गुप्ता, बी. के. तिवारी, आर. एस. रैकवाल, आर. सी. रैकवाल, आर. के. जैन, एस. के. सोनी, एस. के. पाठक, सहकारी निरीक्षक विनोद जैन, श्रीमती अर्चना अग्रवाल, उप अंकेक्षक मनोहर ललवानी, श्रीमती सुमन अग्रवाल सहायक ग्रेड—1, दिलीप मुखारिया, देवकरण बागोदिया, मंयक भामोर,मातादीन विश्वकर्मा, लखनलाल दौहरे, विश्वनाथ सिंह तौमर, मनोहर सिंह परते आदि कर्मचारीगण उपस्थित थे । कार्यक्रम का संचालन आर. के. रायचूर  द्वारा किया गया एवं आभार आर. एस. रैकवाल सहकारी निरीक्षक द्वारा प्रकट किया गया ।

गोपाल पुरस्कार वर्ष 2018-19

भारतीय उन्नत नस्ल के गौवंषीय एवं भेंसवंषीय पशुओं के पालन को बढ़ावा देने एवं अधिक दुग्ध उत्पादन को प्रोत्साहित करने के लिए पशु पालन विभाग द्वारा गोपाल पुरस्कार योजना संचालित की जा रही है। योजना भारतीय उन्नत नस्ल की गायों एवं भेंसो के दुग्ध उत्पादन में एवं भारतीय उन्नत नस्ल के गौवंषीय एवं भेंसवंषीय उत्पादन पशुओं की संख्या में वृद्धि होगी।  योजना सभी वर्ग के पशु पालकों के लिए है, जिनके पास भारतीय नस्ल की गाय उपलब्ध हो तथा गाय का दुग्ध उत्पादन प्रतिदिन 4 लीटर या उससे अधिक हो एवं भेस कि उत्पादकता कम से कम 6 लिटर प्रतिदिन या उससे अधिक हो योजना विकासखण्ड स्तर, जिला स्तर एवं राज्य पर संचालित की जावेगी एवं विकासखण्ड स्तर पर प्रथम द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार तथा जिला एवं राज्य स्तर पर प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार एवं सांत्वना पुरस्कार दिये जावेंगे।  विकासखण्ड स्तरीय प्रतियोगिता का आयोजना जिले के उपसंचालक पशु पालन विभाग देवास द्वारा नामांकित विकासखण्ड के पशु चिकित्सा सहायक शल्यज्ञ/पशु चिकित्सा विस्तार अधिकारी सी.ई.ओ. जनपद की अध्यक्षता में समिती गठित कर सम्पन्न करेंगे। खण्ड स्तरीय प्रतियोगिता का आयोजन पषु चिकित्सा विस्तार अधिकारी , सी.ई.ओ. जनपद पंचायत की अध्यक्षता में समिती गठित कर सम्पन्न करायेंगे। अंतर्विभागीय स्वरुप देने के लिए खण्ड स्तरीय समिति में विकास खण्ड के  एस.ए.डी.ओ , कृषि पदेन सदस्य के रुप में नामांकित रहेंगे। विकासखण्ड स्तर पर प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार क्रमषः 10,000/-, 7500/- एवं 5000/- पुरस्कार दिया जावेगा। पशु पालकों को जिनकी गाय की उत्पादकता कम से कम 4 लिटर प्रतिदिन या उससे अधिक है एवं भेस कि उत्पादकता कम से कम 6 लिटर प्रतिदिन या उससे अधिक हो ।  पशु पालन विभाग की निकटस्थ संस्था पर उपलब्ध निर्धारित प्रपत्र पर आवेदन कर वे इस योजना में भाग ले सकते है।  प्रतियोगीता का आयोजन दिनांक 07/01/19 से 09/01/19 तक पषुचित्सिालय आष्टा के परिसर में सम्पन्न होगा। आवेदन करनें कि अंतिम तिथी 05/01/2019 तक रहेगी। 

गिरदावरी एप्प पर जानकारी शून्य पाए जाने पर पटवारी होंगे निलंबित 
कलेक्टर ने ली समय सीमा बैठक 
sehore news
कलेक्ट्रेट कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित टीएल बैठक में कलेक्टर श्री गणेश शंकर मिश्रा ने सभी विभागों के समय सीमा वाले प्रकरणों की समीक्षा करते हुए उनका शीघ्र निराकरण करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय अधिकारी एवं तहसीलदारों को निर्देश दिये कि सात दिवस के बाद भी अगर किसी पटवारी के गिरदावरी एप्प पर जानकारी शून्य पाई जाती है तो तत्काल उसके निलंबन की कार्यवाही करना सुनिश्चत करें।

अब पंचायत स्तर पर भी होगी जनसुनवाई
अब प्रत्येक मंगलवार को पंचायत स्तर पर भी जनसुनवाई आयोजित की जाएगी। कलेक्ट्रेट कार्यालय में आने वाले आवेदकों को टोकन प्रदान किया जाएगा। प्रयास किया जाएगा कि प्रकरणों का निराकरण यदि संभव हो तो तुरंत कर दिया जाएगा। जिन प्रकरणों के निराकरण में समय लगेगा उन प्रकरणों को अगली जनसुनवाई के पूर्व निराकृत करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए हैं। कलेक्टर ने शासकीय स्कूल के छात्र-छात्राओं की छात्रवृत्ति से संबंधित प्रकरण में जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया कि एक सप्ताह के भीतर दोषी प्राचार्यों के बारे में संपूर्ण जानकारी एकत्र कर उनके समक्ष प्रस्तुत करें। जिले में संचालित छात्रावासों के निरीक्षण के निर्देश जिला शिक्षा अधिकारी एवं जिला परियोजना समन्वयक को दिये।  कलेक्टर ने सभी मंडी सचिवों को निर्देशित करते हुए कहा कि अब किसानों के रिकार्ड के साथ ही किसानों से सामग्री खरीदने वाले व्यापारियों का ट्रांजेक्शन नंबर भी रिकार्ड में दर्ज करें। ऐसा करने से किसानों को होने वाला भुगतान आसानी से उनके खाते में पहुंचाया जा सकेगा। खाद्य आपूर्ति अधिकारी को कलेक्टर ने निर्देश दिये कि जिले में लगने वाले हाट-बाजारों में गैस एजेंसी के स्टाल लगवाना सुनिश्चत करें जिससे उज्जवला योजना के हितग्राहियों को सिलेंडर रिफिल करवाने में परेशानी न हो। स्वास्थ्य विभाग द्वारा आगामी टीकाकरण अभियान के संबंध में कलेक्टर ने सभी संबंधितों को निर्देशित किया कि रोस्टर के आधार पर तारीख निर्धारित कर टीकाकरण अभियान संचालित करें। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी एवं जिला परियोजना समन्वयक आपस में समन्वय कर अभियान को सफल बनाएं। इसके साथ ही उन्होंने सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों की समीक्षा करते हुए सभी जिला अधिकारियों के मोबाईल में सीएम हेल्पलाइन एप्प अनिवार्यत: होना चाहिए एवं प्रतिदिन अपने विभाग से संबंधित शिकायतों की जानकारी उन्हें स्वयं रखनी चाहिए। लंबित प्रकरणों को एल-1 स्तर पर ही निर्धारित समय सीमा में निराकरण करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने सभी राजस्व अधिकारियों एवं जनपद सीईओ को निर्देशित किया कि ठंड लगने से जिले के किसी भी व्यक्ति की मृत्यु न हो इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए। सार्वजनिक स्थलों पर अलाव की व्यवस्था एवं बेघर लोगों के लिए रैन-बसेरा में उचित व्यवस्था की जाए। बैठक में स्वास्थ्य, महिला बाल विकास, लोक निर्माण विभाग, पंचायत ग्रामीण विकास, आदिम जाति कल्याण विभाग, मत्स्य, कृषि, उद्यानिकी, सामाजिक न्याय विभाग सहित अनेक विभागों की भी समीक्षा की गई।

गणंतत्र दिवस की तैयारियों को लेकर बैठक संपन्न

sehore news
सोमवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में गणतंत्र दिवस की तैयारियों को लेकर कलेक्टर श्री गणेश शंकर मिश्रा की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री राजेश चंदेल, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अरुण कुमार विश्वकर्मा, अपर कलेक्टर श्री वी.के.चतुर्वेदी सहित अन्य जिला अधिकारी उपस्थित थे।  बैठक में प्रभात फेरी, ध्वजारोहण, संदेश वाचन, झांकी, सांस्कृति कार्यक्रम, पुरस्कार वितरण आदि पर चर्चा की गई एवं संबंधित अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई। सभी विभागों से उल्लेखनीय कार्य करने वाले अधिकारी/कर्मचारियों के नाम भेजने की अंतिम तिथि 20 जनवरी निर्धारित की गई है।

पाले से फसलों के बचाव के लिए किसानों को सलाह

संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास ने प्रदेश के किसानों को सलाह दी है कि वर्तमान में अत्‍यधिक नमी की कमी, कड़ाके की सर्दी एवं सांयकाल में हवा के अचानक रुक जाने तथा भूमि के निकट का तापमान अत्यंत कम होने से चना, मटर,मसूर, मिर्च, सरसों आदि फसलें पाले से प्रभावित होती हैं जिससे पत्तियां फूल मुरझाकर सूख जाते है और उत्पादन प्रभावित होता है अत: किसान पाले से बचाव के लिए उपाय करें। खेतों के चारों और धूंआ करना- उत्तर पश्चिम दिशा में जिस तरफ से हवा की दिश हो उस तरफ से खेत की मेड़ों पर 6-8 जगह घास-फूंस जलाकर धुआं करें ताकि तापमान 5 डिग्री सेल्सियस ऊपर रहे। फसल में पाले की संभावना को देखते हुए फसलों में हल्की सिंचाई अवश्य करें। 0.1 प्रतिश्सत सल्फर या गंधक का स्प्रे करें अर्थात 01 लीटर गंधक में 1000 लीटर पानी से मिलाकर 1 हेक्टेयर में स्प्रे करें जिससे फसल की रोग रोधिता बढ़ती है या साईकोसिल नामक रसान 400 ग्राम के मान से छिड़काव कर पाले से फसल को बचाया जा सकता है।    

जिले में 15 जनवरी से चलाया जाएगा मीजल्स रूबेला अभियान
खसरा तथा रूबैला रोग से बचाने के लिए बच्चों को लगाया जाएगा टीका
मीजल्स-रूबेला अभियान के अंतर्गत 9 माह से 15 वर्ष आयु तक के बच्चों को विशेष टीकाकरण अभियान संचालित कर टीकाकृत किया जाएगा। यह अभियान आंगनबाड़ी केन्द्रों सहित जिले के समस्त टीकाकरण केन्द्रों एवं समस्त शासकीय एवं अशासकीय स्कूलों में संचालित किया जाएगा। अभियान का शुभारंभ जनवरी 2019 के मध्य में होगा।  पोलियो उन्मूलन में भी शिक्षा विभाग की अति महत्वपूर्ण भूमिका रही है वहीं मीजल्स-रूबेला अभियान की शत प्रतिशत सफलता मेंदशिक्षा विभाग की महती भूमिका है।   जिला शिक्षा अधिकारी श्री एस.पी.त्रिपाठी द्वारा समस्त विकासखंड शिक्षा अधिकारी, समस्त संकूल प्राचार्य एवं समस्त विकासखंड स्त्रोत समन्वयक को निर्देशित किया गया है कि इस महा अभियान की सफलता के लिये सौंपे गए दायित्वों का निर्वाहन कर अभियान को सफल बनाएं। जिले के समस्त शिक्षण संस्थान (शासकीय, अर्द्धशासकीय, मदरसे)  जहां 15 वर्ष तक के समस्त बच्चे अध्ययनरत है वहां के प्रधानाचार्य, नोडल शिक्षक एवं समस्त क्लास टीचर्स की जानकारी नाम एवं मोबाईल नंबर सहित निर्धारित प्रपत्र में जानकारी रखें। विकासखंड शिक्षा अधिकारी जिला स्तरीय प्रशिक्षण में उपस्थित होकर अभियान की आवश्यकताओं तथा अभियान की सफलता के लिये अपनी भूमिका स्पष्टरूप से समझें। प्रत्येक स्कूल में 2-3 कमरें, बैठक, स्वच्छता पेयजल व्यवस्था एवं अनुशासित ढंग से भीड़ नियंत्रण हेतु आवश्यकतानुसार स्टाफ की ड्यूटी अभियान की सफलता के लिये देना जरुरी है। स्कूल प्रबंधन द्वारा यह सुनिश्चत करना होगा कि बच्चों को टीकाकृत करने के लिये अभिभावकों से लिखित सहमति की आवश्यकता न हो। मीजल्स निर्मूलन के लिये यह अधिकृत अनिवार्य गतिविधि है। स्कूल अभियान के बाद टीकाकरण से छूटे हुए बच्चों को सूचीबद्ध करें और सभी बच्चों का टीकाकरण के लिये जिला टीकाकरण अधिकारी से संपर्क किया जाए। उन्होंने निर्देशित किया कि शिक्षक अभिभावक बैठकों का आयोजन कर अभिभावकों को आवश्यक सूचना देंगे और उनकी शंकाओं का समाधान करेंगे। वर्ष 2020 तक खसरा निर्मूलन एवं रुबेला नियंत्रण को वास्विकता प्रदान करने के लिये सहयोग करें। असहयोग एवं प्रतिरोध करने वाले शिक्षण संस्थाओंपर नियमानुसार कार्यवाही कर अभियान का सुगमता एवं सफलतापूवर्कक संपन्न करना सुनिश्चत करें।     

अशासकीय शालाओं हेतु "शिक्षा के अधिकार-नि:शुल्क एवं अनिवार्य शिक्षा" पर कार्यशाला आज 

बी.आर.सी.सी. जनपद शिक्षा केन्द्र श्री ओमप्रकाश शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि राज्य शिक्षा केन्द्र के निर्देशानुसार शिक्षा के अधिकार अन्तर्गत फीस प्रतिपूर्ति सत्र 2016-17 में आ हरी समस्याओं एवं सत्र 2017-18 की फीस प्रतिपूर्ति की तयैरी, नवीन मान्यता एवं नवीनीकरण के संबंध में जानकारी एवं प्रशिक्षण डाइट सीहोर में 1 जनवरी को दोपहर 12 से सायं 4 बजे तक विकासखंड की समस्त अशासकीय शालाओं के लिये आर.टी.ई. कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा। कार्यशाला में अशासकीय शालाओं के संचालक/प्राचार्यों को एजेण्डा बिन्दु की जानकारी एवं निर्धारित प्रपत्रों में चाही गई अन्य जानकारी सहित प्रात:11 बजे डाईट में उपस्थित होना सुनिश्चत करें। डाईट में प्रात: 11 बजे से 12 बजे तक काउंटर क्रमांक 1 पर जनशिक्षा केन्द्र बिलकिसगंज, उलझावन, गुड़भेला, काउंटर क्रमांक 2 पर एम.एल.बी. सीहोर ग्वालटोली, सुभाष, काउंटर कमांक 3 पर कस्तूरबा सीहोर, विवेकानंद मंडी, खंडवा, काउंटर कमांक 4 पर मुंगावली, श्यामपुर, झरखेड़ा, बरखेड़ाहसन, काउंटर कमांक 5 पर दोराहा, अहमदपुर, चरनाल के अन्तर्गत आने वाली अशासकीय शालाओं द्वारा कार्यशाला में चाही गई जानकारी जमा की जाएगी। निर्धारित प्रपत्र में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई जाएगी। सभी काउंटरा पर व्यवस्था हेतु 2 जनशिक्षकों की ड्यूटी लगाई गई है। अधिक जानकारी के लिये मोबाईल नंबर 9893998738 पर संपर्क कर सकते हैं।   

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना अन्तर्गत रबी फसलों का बीमा कराने के लिए की अंतिम तिथि 15 जनवरी

किसान कल्याण तथा कृषि विकास उप संचालक अवनीश चतुर्वेदी ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना अन्तर्गत क्षेत्र की अधिसूचित रबी फसलों के लिए शासन द्वारा बीमा कराने की अंतिम तिथि 15 जनवरी 2019 निर्धारित की गई है। उन्होंने किसानों से अपील करते हुए कहा है कि निर्धारित दिनांक से पूर्व संबंधित बैंकों से संपर्क कर ऋणी एवं अऋणी कृषक के तौर पर फसल बीमा कराया जाना सुनिश्चत करें। कृषकों को ओला/पाला से फसलों के नुकसान होने की स्थिति में फसल बीमा क्लेम अन्तर्गत राहत प्राप्त हो सकेगी।

आशा कार्यकर्ताओं के लिये जिला चिकित्सालय में विश्रामगृह
कलेक्टर के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा की गई व्यवस्था
sehore news
कलेक्टर श्री गणेश शंकर मिश्रा के निर्देश पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ प्रभाकर तिवारी द्वारा आशा कार्यकर्ताओं एवं आशा सहयोगी के लिय विश्राम गृह की व्यवस्था जिला चिकित्सालय में की गई है। इस प्रकार के विश्राम गृह बुदनी विकासखंड को छोड़कर सभी जगह पूर्व से ही संचालित है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी  से प्राप्त जानकारी के अनुसार बुदनी विकासखंड में मंगलवार से आशा कार्यकर्ताओं के लिये विश्राम गृह प्रारंभ किया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...