विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 08 दिसंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 8 दिसंबर 2018

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 08 दिसंबर

कलेक्टर ने देखी स्ट्रांगरूम की सुरक्षा व्यवस्था
vidisha-news
कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिह ने एसएटीआई में पांचो विधानसभाओं के बनाए गए स्ट्रांगरूम एवं परिसर की सुरक्षा व्यवस्था का शनिवार की दोपहर एक बजे मौके पर पहुंचकर जायजा लिया। तैनात सुरक्षाकर्मियों और अधिकारियों ने पूर्ण सुरक्षा प्रबंधों से पुनः अवगत कराया। कलेक्टर श्री सिंह ने स्ट्रांगरूम मंे संधारित निरीक्षण टीप पंजी में बकायदा मतांकन कर हस्ताक्षर किए। इस अवसर पर विदिशा एसडीएम श्री चंद्रप्रताप गोहल, तहसीलदार श्री आसुतोष शर्मा भी मौजूद थे। 

मतगणना कार्यो से प्रशिक्षित हुए मतगणनाकर्मी निष्पक्ष निर्भीक होेकर गणना कराएं : कलेक्टर

vidisha news
विदिशा जिले की पंाचो विधानसभाओं के मतो की गणना कार्य एसएटीआई के कैलाश सत्यार्थी सभागृह में विदिशा और कुरवाई विधानसभा की जबकि ऊपर के कक्षों में शमशाबाद और बासौदा विधानसभा की तथा एसएटीआई के केन्द्रीय कामगार टेªनिंग सेन्टर में सिरोंज विधानसभा के मतों की गणना कार्य 11 दिसम्बर की प्रातः आठ बजे से शुरू होगा। मतगणना कार्यो को सम्पन्न कराने हेतु 686 अधिकारी, कर्मचारियों को दायित्व सौंपे गए है इन कर्मचारियों के लिए द्वितीय चरण का प्रशिक्षण शनिवार को एसटीआई के कक्षो में दो पालियों में सम्पन्न हुआ है। कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने प्रथम पाली के प्रशिक्षणार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया का मतगणना महत्वपूर्ण अंग है। जिन अधिकारी, कर्मचारियों को मतगणना का दायित्व सौंपा गया है वे सभी पूर्ण निष्पक्ष, निर्भीक होकर गणन संबंधी कार्य अपनी-अपनी टेबिलों पर सम्पन्न कराएं। जहां कही जरा भी दुविधा होती है तो निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों का पालन कर निर्णय करें। कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि सबसे पहले डाक मतपत्रों की गणना की जाएगी। डाक मतपत्र की गणना कैसे करनी है कि प्रायोगिक जानकारी उनके द्वारा दी गई। डाक मतपत्र कैसे खारिज होंगे, पोस्टल बैलेट गणना उपरांत फार्मेट भरना, ईव्हीएम से मतों की गणना, उन्होंने कहा कि मतगणना प्रारंभ होने के बाद अनवरत जारी रहेगी। प्रथम राउण्ड की सीयू  की गणना समाप्त होने, टेबुलेशन सीट तैयार होने व आरो एवं आब्जर्वर के हस्ताक्षर होने के उपरांत दूसरे राउण्ड की सीयू गणना हेतु लाई जाएगी। व्हीव्हीपैट पर्चियों की गणना के संबंध में भी कलेक्टर द्वारा विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई। जिसमें मुख्य रूप से प्रति विधानसभा रेण्डमली सिलेक्टेड एक मतदान केन्द्र की व्हीव्हीपैट की पर्चियों की गणना मतदान के आखिरी राउण्ड समाप्ति उपरांत की जाएगी। ऐसे मतदान केन्द्र का चयन आरो अथवा अभ्यर्थी, अभिकर्ता एवं सामान्य प्रेक्षक की उपस्थिति में लाट डालकर किया जाएगा। लाॅटरी गणना हाल में ही अंतिम राउण्ड की गणना समाप्ति उपरांत तत्काल निकाली जाएगी। व्हीव्हीपेैट मतदाता पर्ची सत्यापन प्रक्रिया की सूचना आरो द्वारा पर्याप्त समय पूर्व अभ्यर्थी अथवा उसके अभिकर्ता को लिखित में देकर पावती रखी जाएगी। लाॅटरी निकालने के लिए जो प्रक्रिया अपनाई जाएगी के संबंध में बताया गया कि लाट हेतु सफेद रंग के कार्ड पेपर जिनका आकार पोस्ट कार्ड के बराबर होगा पूर्व में तैयार किए जाएंगे। इन कार्डो की कुल संख्या मतदान केन्द्रों की संख्या के बराबर होगी। कार्ड पर पूर्व से निम्न सूचनाएं मुद्रित होगी जिसमें टाॅप पर विधानसभा क्षेत्र का नाम व क्रमांक, मतदान का दिनांक, मध्य में केवल एक बाई एक इंच आकार के अंको में मतदान केन्द्र का क्रमांक लिखा होगा। कार्ड को दो बार इस प्रकार मोडा जाएगा कि उसके चार फोल्डर बना जाएं व मतदान केन्द्र क्रमांक ना दिखें। क्रमांक संख्यित प्रत्येक कार्ड को पारदर्शी कंटेनर में डालने से पूर्व अभ्यर्थी, उनके अभिकर्ता को दिखाया जाएगा। रिटर्निंग आफीसर द्वारा कार्ड निकालने से पहले कंटेनर को हिलाया जाएगा ताकि सभी कार्ड मिक्स हो जाएं काउंटिग हाल में ही काउंटिग टेबिल पर व्हीव्हीपैट काउंटिंग बूथ (व्हीसीवी) के रूप में ठीक वैसे ही बदला जाएगा जैसे बैंक कैशियर का केबिन पर यह सुनिश्चित किया जाएगा कि कोई भी अनाधिकृत व्यक्ति व्हीव्हीपैट स्लिप तक पहुंच ना बना सकें। इन पर्चियों की गणना के दौरान रिटर्निंग आफीसर व सहायक रिटर्निंग आफीसर पूरी निगरानी रखेंगे व आब्जर्वर यह सुनिश्चित करेंगे कि गणना के दौरान आयोग के निर्देशों का पालन किया जा रहा है। उपरोक्त प्रक्रिया की पूर्ण वीडियोग्राफी भी की जाएगी। कलेक्टर श्री सिंह ने मतगणना के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों पर भी प्रकाश डाला। द्वितीय चरण के प्रशिक्षण कार्यक्रम में शामिल मतगणनाकर्मियांे को अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा  ने भी सम्बोधित किया। उन्होंने कहा कि मतगणनाकर्मियों को आयोग के दिशा निर्देशानुसार मानदेय दिया जाएगा अतः ऐसे मतगणनाकर्मी जिनके द्वारा अब तक स्वंय का बैंक खाता संबंधी दस्तावेंज उपलब्ध नही कराये है वे शीघ्र ही उपलब्ध कराएं। अपर कलेक्टर श्री वर्मा ने बताया कि मतगणन परिसर में मोबाइल के साथ-साथ तम्बाकू, पान, गुटखा, बीडी सिगरेट एवं केलकुलेटर ले जाना प्रतिबंधित रहेगा।

शिक्षक की पहल पर स्कूल में हुई जलापूर्ति

vidisha news
ग्राम गोरियाखेडा में पहाडी पर स्थित प्राथमिक शाला में सदैव पेयजल की समस्या बनी हुई थी ऐसे समय स्कूल में पदस्थ सहायक अध्यापक श्री शिवमंगल सिंह चैहान ने स्वंय की राशि से स्कूूली बच्चों को जलापूर्ति की व्यवस्था सुनिश्चित कराई है। जिसका आज जिला शिक्षा अधिकारी श्री एचएन नेमा ने विधिवत शुभांरभ किया है।  संस्था के सहायक अध्यापक श्री चैहान ने बताया कि स्कूल में पेयजल सुविधा के लिए स्वंय के द्वारा राशि बीस हजार खर्च कर एक हजार फीट लम्बी पाइप लाइन डलवाई गई तथा पांच हजार लीटर पानी टंकी का निर्माण स्कूल में कराया गया है। पहाडी पर स्थित होने के कारण स्कूल में जल संकट बना रहता था। ऐसे समय ग्राम के कृषक श्री भगवान सिह मीना ने आगे बढ़कर सहायक अध्यापक श्री चैहान का साथ दिया। ग्राम से लगभग तीन किलोमीटर दूर भगवान सिंह मीना के खेत में खनन कराए गए बोर में पर्याप्त पानी की उपलब्धता होने के कारण इनके खेत से ही गांव तक पाइप लाइन के माध्यम से पानी लाया गया है। गांव में ही पानी को स्टोर करने के लिए टेंक बनाया गया है और इसी टेंक से मशीन के द्वारा स्कूल को पानी लिफ्ट किया जा रहा है। गांव में बनाए गए पानी स्टोर टेंक से गांव वाले भी अपने लिए पानी भर रहे है। जिला शिक्षा अधिकारी ने शुभांरभ कार्यक्रम में कहा कि सहायक अध्यापक श्री चैहान ने ग्राम गोरियाखेडा की प्राथमिक शाला के लिए जो भागीरथी प्रयास किए है कि तुलना नही की जा सकती। शिक्षक श्री चैहान का कहना है कि उनके पिता श्री विजय बहादुर भी शिक्षक थे। ग्राम परासीखुर्द में उनका निधन हो गया था। उस समय अंतिम संस्कार खुले मैदान में होने के कारण मैं बहुत चिन्तित हुआ करता था और मेरे अपने गृह ग्राम बालाबरखेडा में स्वंय की राशि शमशान हेतु टीन शेड का निर्माण पूर्व में कराया था। गोरियाखेडा में बच्चों को पेयजल आपूर्ति मेें हो रही दिक्कतों ने मुझे झझोर दिया और मैेंने अपने वेतन में से राशि बचत कर यह कार्य करा पाया हूं। बीआरसी श्री लक्ष्मण सिंह यादव ने शिक्षक श्री चैहान के कार्यो की सराहना करते हुए उनके कार्यो का अनुकरण करने की पहल अन्य शिक्षक करें का आव्हान किया। इस अवसर पर जन शिक्षक श्री ललित मोहन शर्मा, श्री सुनील गौर और समस्त शिक्षक भी मौजूद थे। रहेगा। 

नेशनल लोक अदालत में 718 प्रकरणों का निराकरण

vidisha news
नेशनल लोक अदालत का आयोजन शनिवार को जिला न्यायालय के साथ-साथ तहसील न्यायालयों पर एक साथ किया गया था। जिला न्यायालय में प्रातः जिला न्यायाधीश श्री श्यामाचरण उपाध्याय ने दीप प्रज्जवलित कर नेशनल लोक अदालत का शुभांरभ किया। अपर जिला न्यायाधीश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री डीपीएस गौर ने बताया कि जिले में नेशनल लोक अदालत में प्रकरणों के निराकरण हेतु बीस खण्ड पीठो का गठन किया गया था। जिनमें न्यायालय संबंधी 2743 प्रकरण व प्रीलिटिगेशन के 13634 प्रकरण निराकरण हेतु प्रस्तुत किए गए थे जिसमेें से न्यायिक न्यायालयों के 258 तथा प्रीलिटिगेशन के 460 प्रकरणों का निराकरण हुआ है जिसमे समझौता राशि 15418903 रूपए प्राप्त हुई है। 
एक टिप्पणी भेजें