झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 16 जनवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 16 जनवरी 2019

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 16 जनवरी

खाटू श्याम की निषान यात्रा ने नगर को किया श्याम मय
खाटू श्याम पर विष्वास रखने वाला कभी निराष नही होता- बंटी सोनी
jhabua news
झाबुआ ।नगर में मंगलवार को श्री खाटूश्याम की भजन संध्या के पूर्व हारे का सहारा,बाबा श्याम हमारा समिति की ओर से श्री बांके बिहारी मंदिर राजवाडा चैक से प्रातः 10-30 बजे से विशाल निशान यात्रा का  आयोजन किया गया जिसमें नगर सेहित रानापुर, थांदला, मेघनगर, सहित दूर दूर से श्याम भक्तों ने निशान यात्रा में भाग लिया । निस्वार्थ श्याम प्रेमी बंटी सोनी मक्सी ने बांके बिहारी मंदिर पर भगवान श्री राधा कृष्ण की आरती पूरी श्रद्धा  के साक्थ उतारी । आरती के बाद खाटू जी श्याम को सजे हुए रथ में बिराजित किया गया । बेंड बाजों के साथ श्री खाटू श्याम की शोभायात्रा नगर के नेहरू मार्ग, गोवर्धनार्थ मंदिर, आजाद चैक, बाबेल चैराहा, थांदला गेट से होते हुए बस स्टेंड पहूंची। बेंड बाजो के अलावा जोबट के आदिवासी नर्तक दल द्वारा अपनी संगीतमय प्रस्तुति से वातावरण को सुंदर बनाया वही हाथ मे ध्वज निशान लेकर बडी संख्या में महिलाओं द्वारा बेंड की धुनों में आकर्षक गरबा रास प्रस्तुत किया । वही युवकों ने जय जय कारो के साथ पूरे नगर को श्याम मय बना दिया । शोभायात्रा में भजन गायक बंटी सोनी विशेष रूप  से सम्मिलित हुए जिनका नगर की विभिन्न संस्थाओं एवं मसज सेवी संस्थाओं ने पुष्पमालायें पहिना कर स्वागत किया । बस स्टेंड से विशान निशान शोभा यात्रा लक्ष्मीबाई मार्ग होते हुए राजवाडा चैक स्थित कीर्तन स्थल पहूंची जहंा महा मंगल आरती के साथ निशानयात्रा का समापन हुआ । श्री खाटूश्याम के चमत्कारिक स्वरूप के बारे मे बताते हुए बंटी सोनी ने बताया कि श्री श्याम बाबा की अपूर्व कहानी मध्यकालीन महाभारत से आरम्भ होती है। वे पहले बर्बरीक के नाम से जाने जाते थे। वे अति बलशाली गदाधारी भीम के पुत्र घटोत्कच और नाग कन्या मौरवी के पुत्र हैं। बाल्यकाल से ही वे बहुत वीर और महान योद्धा थे। उन्होंने युद्ध कला अपनी माँ तथा श्री कृष्ण से सीखी। भगवान् शिव की घोर तपस्या करके उन्हें प्रसन्न किया और तीन अमोघ बाण प्राप्त किये इस प्रकार तीन बाणधारी के नाम से प्रसिद्ध नाम प्राप्त किया। अग्निदेव प्रसन्न होकर उन्हें धनुष प्रदान किया, जो उन्हें तीनों लोकों में विजयी बनाने में समर्थ थे। महाभारत का युद्ध कौरवों और पाण्डवों के मध्य अपरिहार्य हो गया था, यह समाचार बर्बरीक को प्राप्त हुए तो उनकी भी युद्ध में सम्मिलित होने की इच्छा जागृत हुई। जब वे अपनी माँ से आशीर्वाद प्राप्त करने पहुँचे तब माँ को हारे हुए पक्ष का साथ देने का वचन दिया। वे अपने नीले रंग के घोड़े पर सवार होकर तीन बाण और धनुष के साथ कुरूक्षेत्र की रणभूमि की ओर चल पड़े। सर्वव्यापी श्री कृष्ण ने ब्राह्मण भेष धारण कर बर्बरीक के बारे में जानने के लिए उन्हें रोका और यह जानकर उनकी हँसी उड़ायी कि वह मात्र तीन बाण से युद्ध में सम्मिलित होने आया हैय ऐसा सुनकर बर्बरीक ने उत्तर दिया कि मात्र एक बाण शत्रु सेना को परास्त करने के लिए पर्याप्त है और ऐसा करने के बाद बाण वापस तूणीर में ही आएगा। यदि तीनों बाणों को प्रयोग में लिया गया तो पूरे ब्रह्माण्ड का विनाश हो जाएगा। यह जानकर भगवान् कृष्ण ने उन्हें चुनौती दी की इस वृक्ष के सभी पत्तों को वेधकर दिखलाओ। वे दोनों पीपल के वृक्ष के नीचे खड़े थे। बर्बरीक ने चुनौती स्वीकार की और अपने तूणीर से एक बाण निकाला और ईश्वर को स्मरण कर बाण पेड़ के पत्तों की ओर चलाया। बाण ने क्षणभर में पेड़ के सभी पत्तों को वेध दिया और श्री कृष्ण के पैर के इर्द-गिर्द चक्कर लगाने लगा, क्योंकि एक पत्ता उन्होंने अपने पैर के नीचे छुपा लिया थाय बर्बरीक ने कहा कि आप अपने पैर को हटा लीजिए अन्यथा ये बाण आपके पैर को भी वेध देगा। तत्पश्चात, श्री कृष्ण ने बालक बर्बरीक से पूछा कि वह युद्ध में किस ओर से सम्मिलित होगा, बर्बरीक ने अपनी माँ को दिये वचन को दोहराया और कहा युद्ध में जो पक्ष निर्बल और हार रहा होगा उसी को अपना साथ देगा। श्री कृष्ण जानते थे कि युद्ध में हार तो कौरवों की निश्चित है और इस कारण अगर बर्बरीक ने उनका साथ दिया तो परिणाम गलत पक्ष में चला जाएगा। अतः ब्राह्मणरूपी श्री कृष्ण ने वीर बर्बरीक से दान की अभिलाषा व्यक्त की। बर्बरीक ने उन्हें वचन दिया और दान माँगने को कहा। ब्राह्मण ने उनसे शीश का दान माँगा। वीर बर्बरीक क्षण भर के लिए अचम्भित हुए, परन्तु अपने वचन से अडिग नहीं हो सकते थे। वीर बर्बरीक बोले एक साधारण ब्राह्मण इस तरह का दान नहीं माँग सकता है, अतरू ब्राह्मण से अपने वास्तिवक रूप से अवगत कराने की प्रार्थना की। ब्राह्मणरूपी श्री कृष्ण अपने वास्तविक रूप में आ गये। श्री कृष्ण ने बर्बरीक को शीश दान माँगने का कारण समझाया कि युद्ध आरम्भ होने से पूर्व युद्धभूमि पूजन के लिए तीनों लोकों में सर्वश्रेष्ठ क्षत्रिय के शीश की आहुति देनी होती हैय इसलिए ऐसा करने के लिए वे विवश थे। बर्बरीक ने उनसे प्रार्थना की कि वे अन्त तक युद्ध देखना चाहते हैं। श्री कृष्ण ने उनकी यह प्रार्थना स्वीकार कर ली। श्री कृष्ण इस बलिदान से प्रसन्न होकर बर्बरीक को युद्ध में सर्वश्रेष्ठ वीर की उपाधि से अलंकृत किया। उनके शीश को युद्धभूमि के समीप ही एक पहाड़ी पर सुशोभित किया गयाय जहाँ से बर्बरीक सम्पूर्ण युद्ध का जायजा ले सकते थे। महाभारत युद्ध की समाप्ति पर पाण्डवों में ही आपसी विवाद होने लगा कि युद्ध में विजय का श्रेय किसको जाता है? श्री कृष्ण ने उनसे कहा बर्बरीक का शीश सम्पूर्ण युद्ध का साक्षी है, अतएव उससे बेहतर निर्णायक भला कौन हो सकता है? सभी इस बात से सहमत हो गये और पहाड़ी की ओर चल पड़े, वहाँ पहुँचकर बर्बरीक के शीश ने उत्तर दिया कि श्री कृष्ण ही युद्ध में विजय प्राप्त कराने में सबसे महान पात्र हैं, उनकी शिक्षा, उपस्थिति, युद्धनीति ही निर्णायक थी। उन्हें युद्धभूमि में सिर्फ उनका सुदर्शन चक्र घूमता हुआ दिखायी दे रहा था जो शत्रु सेना को काट रहा था। महाकाली, कृष्ण के आदेश पर शत्रु सेना के रक्त से भरे प्यालों का सेवन कर रही थीं। श्री कृष्ण वीर बर्बरीक के महान बलिदान से काफी प्रसन्न हुए और वरदान दिया कि कलियुग में तुम श्याम नाम से जाने जाओगे, क्योंकि उस युग में हारे हुए का साथ देने वाला ही श्याम नाम धारण करने में समर्थ है। श्री सोनी ने बताया कि खाटू श्याम को यदि श्रद्धा से स्मरण किया जावे तथा उनकी मन्नत ली जावे तो हर व्यक्ति जो सभी ओ र से निराश हो चुका है, उसके कष्टो का निवारण चमत्कारिक तरिके से होता है। रात्री में 8 बजे से भजनो की समाप्ति तक श्री श्याम महाकीर्तन एवं ज्योति दर्शन का आयोजन हुआ जिसमें भगजन गायक बंटी सोनी एण्वं लक्ष्मीनारायण कुमावत द्वारा श्री ष्याम महार्मीन के तहत एक से एक भजनों की प्रस्तुति दी गई जिसमें श्रोताओं ने झुम कर लाभ उठाया ।

झाबुआ के पूर्व पुलिस अधीक्षक महेषचन्द्र जैन को ‘पर्यावरण फरिष्ता’ उपाधि से किया जाएगा अलंकृत, शहर की सभी सामाजिक संस्थाएं मिलकर करेगी भावभरा सम्मान

झाबुआ। जिले में पुलिस अधीक्षक के रूप में पदस्थ रहते हुए महेषचन्द्र जैन के अथक प्रयासों से शहर से सटी हाथीपावा की पहाड़ियों का सौंदर्यीकरण कार्य हुआ, आज यह स्थल जिले के पर्यटल स्थल के रूप में तब्दील हो चुका है। जिसके उपलक्ष में श्री जैन का भावभरा सम्मान शहर की सभी सामाजिक संस्थाओं द्वारा मिलकर किया जाएगा। इस दौरान उन्हें ‘‘पर्यावरण फरिष्ता’’ उपाधि से अलंकृत किया जाएगा। यह जानकारी देते हुए आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट के मेनेजिंग ट्रस्टी यषवंत भंडारी एवं सकल व्यापारी संघ झाबुआ अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर ने बताया कि एसपी महेषचन्द्र जैन का स्थानांतरण जावरा में वाहनी कमांडेट के रूप में हुआ है। उनके झाबुआ जिले में पदस्थापना के दौरान अपराधों पर तो षिकंजा कसा, साथ ही शहर से सटी हाथीपावा की पहाड़ी को सुंदर और मनोहारी बनाने में भी उनकी भूमिका काफी सराहनीय रहीं। आज यह स्थल पर्यटन स्थल होकर प्रतिदिन सैकड़ों लोग इस दृष्य को निहारने के लिए पहुंचते है।

पर्यावरण फरिष्ता की उपाधि से नवाजा जाएगा
श्री भंडारी एवं श्री राठौर ने आगे बताया कि इसी को लेकर जिले से स्थानांतरित पुलिस कप्तान श्री जैन का 16 जनवरी, बुधवार को दोपहर 11 बजे उनके निवास पर पहुंचकर शहर की सभी सामाजिक के साथ रचनात्मक एवं धार्मिक संस्थाओं द्वारा मिलकर उनके विषेष सम्मान में ‘पर्यावरण फरिष्ता’ उपाधि का अभिनंदन-पत्र प्रदान करने के साथ शाल ओढ़ाकर तथा श्रीफल भेंटकर भव्य सम्मान कर उनके जिले को सुंदर बनाने में दिए गए सहयोग के लिए कृतज्ञता व्यक्त की जाएगी।

गौ-वंश को बचाने का लिया संकल्प, राष्ट्रीय गौ-सेवा संघ का हुआ अनूठा आयोजन

jhabua news
झाबुआ। राष्ट्रीय गौ-सेवा संघ की जिला इकाई झाबुआ ने मकर संक्राति (उत्तरायण) पर्व के उपलक्ष में ‘‘गौ-सेवा राष्ट्रसेवा’’ के मूल मंत्र को चरितार्थ करते हुए स्थानीय लक्ष्मीनगर स्थित सद्गुरू गौशाला में गौमाता की रक्षा के लिए वचनबद्व रहते हुए गौमाता को हरी-घास एवं हरे चारे का आहार करवाया एवं गौ-सेवकों को गौमाता की सुरक्षा के प्रति सजग रहने का आह्ावान किया। साथ ही पाॅलिथिन से गौमाता की रक्षा हेतु गौ-सेवको एवं समाजजनों से अपील की। यहां संघ के जिलाध्यक्ष राजेश चैहान एवं वरिष्ठ मार्गदर्शक राकेश शाह के नेतृत्व में उक्त कार्यक्रम में सद्गुरू गौशाला के समस्त गौ-सेवक भी उपस्थित थे। यह जानकारी देते हुए संघ के जिला मीडिया प्रभारी दौलत गोलानी ने बताया कि दूसरी कड़ी में शारदा विद्या मंदिर बिलिडोज स्थित गौशाला में गौ-सेवा का आयोजन किया गया। जिसमें भारतीय स्त्री संगठन की प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती किरण शर्मा ने गौ-माता को तिलक कर गौमाता की आरती की। हिन्दी माध्यम की प्राचार्या डाॅ. कंचन चैहान एंव अंग्रेजी माध्यम की प्राचार्या श्रीमती शालीनी व्यास ने भी कार्यक्रम सहभागिता करते हुए ‘‘गौ-सेवा राष्ट्र सेवा’’ अभियान में नारी शक्ति से भी आगे आने का आह्वान किया।

गौ-माता पर कविता पाठ किया
राष्ट्रीय ओजस्वी कवि निसार पठान ने ’’गौमाता का सम्मान करो हिन्दू धर्म का संदेश यही’’ कविता पाठ किया। कार्यक्रम का संचालन गौसेवा संघ के जिला उपाध्यक्ष देवेन्द्र व्यास ने किया एवं आभार आभार सतीश लाखेरी ने माना। इस अवसर पर राष्ट्रीय गौसेवा संघ के जिला महासचिव रविन्द्र नायक, जिला सचिव रितेश शर्मा, गजेन्द्र दादु चैहान, राघवेन्द्र चैहान एवं अन्य पदाधिकारी तथा विद्यालय परिवार से शीला सक्सेना, प्राची चैहान, संगीता बामनिया, मकरंद आचार्य, कृष्णा जायसवाल आदि उपस्थित थी।

नेषनल स्ट्रांेगमेन प्रतियोगिता में झाबुआ जिले के खिलाडी ’’

झाबुआ । दिनांक 18 से 20 जनवरी 2019 तक आई आई एम भवन इंदौर मे 18 से 20 जनवरी को  होने वाले नेशनल स्ट्रोगमेन प्रतियोगिता की रणभूमि 2019 में झाबुआ जिले के खिलाड़ी हिस्सा ले रहे है । जिले के प्रथम स्ट्रोगमेन श्री सुशील वाजपेयी के मार्गदर्शन एवं कठोर अनुशासन में जिले में स्ट्रोगमेन के खिलाड़ी तैयार किये जा रहे है । झाबुआ जिले से श्री उमेश मैडा, श्री करमसिंह खराड़ी, श्री गुलाबसिंग अपने अपने भार वर्ग में नेशनल स्ट्रोगमेन प्रतियोगिता में कड़ी चुनौती पेश करेगे । श्री वाजपेयी द्वारा बताया गया कि स्ट्रांेगमेन खेल अत्यंत रोचक होकर उसमंे खिलाडी की पूर्ण शक्ति का परीक्षण होता है, जय बजरंग व्यायाम शाला द्वारा कुश्ती ,बांॅडी बिल्डिंग, पावर लिफ्टिंग, वेट लिफ्टिंग, जैसे आयरन गेम्स में खिलाड़ी निरंतर तैयार किये जा रहे है , जो राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर उत्कृष्ट प्रदर्शन कर मैडल प्राप्त करते हुये जिले का नाम रोशन कर रहे है । झाबुआ जिला आदिवासी बहुल होकर संसाधनों के अभाव में भी व्यायाम शाला वर्षो से सेवा ओर संस्कार के सिद्धांत पर युवाओं को व्यायाम और खेलो के प्रति प्रेरित करती आ रही है एवं राष्ट्रीय खिलाडी व प्रथम स्ट्रोगमेन श्री सुशीलजी वाजपेयी एवं उनके साथियों निःशुल्क सेवाएं अनवरत प्रदान की जा रही है । प्रतियोगिताओं में सफलता प्राप्त करने हेतु खिलाडियों को जय बजरंग व्यायामशाला के श्री प्रेमसिंग उस्ताद , किशोर खलीफा, चंदर खलीफा, उमंगजी सक्सेना, श्री नारायणसिंहजी ठाकुर, श्री ललीतजी शर्मा, श्री राजेन्द्रजी यादव, मोहनदादा माहेष्वरी, प्रदीपजी, रूनवाल, मनीषजी व्यास, दिनेशजी सक्सेना, मुकुल सक्सेना, वीरसिंहजी भूरिया, सौरभ सोनी, राजीव शुक्ला, आलोकजी द्विवेदी, निकी डामोर, महेशजी राठौर, हेमेन्द्र पंवार, अनोखीलाल रावत व धन्नालालजी, आदि द्वारा शुभकामनाएं दी गई । जय बजरंग व्यायाम शाला (जिम) स्वस्थ युवा, स्वस्थ भारत की परिकल्पना को सार्थक करने हेतु निरंतर अग्रसर  है । उक्त जानकारी जय बजरंग व्यायाम शाला के नरेन्द्र चैहान एवं राजेश बारिया द्वारा दी गई ।

पेंषनरों को 32 एचं 27 माह के एरियर के भुगतान हेतु  मुख्यमंत्री से किया गया अनुरोध

झाबुआ । मध्यप्रदेश पेंशनर एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष रतनसिंह राठौर द्वारा प्रदेश के पेंशनरों को छठवे वेतनमान का 1 जनवरी 2006 से 31 अगस्त 2008 तक का 32 माह का एवं 7 वें वेतनमान का 1 जनवरी 2016 से 31 मार्च 2018 तक 27 माह के एरियर की राशि के भुगतान की स्वीकृति के लिये प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ एवं वित मंत्री श्री भानोत को ज्ञापन प्रेषित करके स्वीकृति प्रदान करने की मांग की है। श्री राठौर ने मुख्यमंत्री एवं वित्तमंत्री को भेजे गये ज्ञापन मे अनुरोध किया है कि पूर्व सरकार को एरीयर राशि के भुगतान के लिये अनेको बार अनुरोध करने एवं ज्ञापन दिये जाने के बाद भी  कोई संतोषजनक परिणाम सामने नही आया है। फलस्वरूप् पुन: मांग पत्र प्रेषित  कर मध्यप्रदेश राजपत्र असाधारण दिनांक  10 सितम्बर 2006 एवं वित विभाग के 11 जून 2018 के ज्ञाप के अनुसार  एरीयर राशि का  त्वरित भुगतान  के स्पष्ट निर्देश प्रसारित किये गये थे,। ज्ञापन के साथ उक्त पत्रों की प्रतिलिपि भेजकर  अनुरोध किया गया है कि शासन के स्पष्ट आदेश होते हुए भी पेंशनरों की मांग को अनदेखा किया गया है । अतः वर्तमान सरकार बुजुर्ग पेंशनरों की जायज मांग का शीघ्र निराकरण करें ।

श्री राधा-कृष्ण बिहारी मंदिर का 14वां स्थापना दिवस मनाया गया, महाआरती एवं महाप्रसादी का हुआ भव्य आयोजन

jhabua news
झाबुआ। प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी 15 जनवरी को मकर सक्रांति के पावन पर स्थानीय छोटा तालाब स्थित श्री राधा-कृष्ण बिहारी मंदिर का 14वां स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर मंदिर में दोपहर 11.30 बजे महाआरती हुई। महाआरती में मुख्य रूप से निस्वार्थ श्याम प्रेमी बंटी सोनी सम्मिलित हुए। बाद महाप्रसादी का भव्य आयोजन हुआ। मंदिर में सभी धार्मिक अनुष्ठान श्री राधा-कृष्ण बिहारी मंदिर सेवा समिति एवं आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट झाबुआ द्वारा संयुक्त रूप से किए गए। जानकारी देते हुए मंदिर के पूजारी गोपाल बैरागी एवं आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट के संस्थापक अध्यक्ष राजेष नागर ने बताया कि मंदिर सेवा समिति एवं आसरा ट्रस्ट द्वारा मिलकर प्रतिवर्ष मंदिर का स्थापना दिवस हर्षोल्लासपूर्वक मनाया जाता है। इस बार 14वां स्थापना दिवस मनाया गया। जिसमें मंदिर में 15 जनवरी को 6.30 बजे प्रतिमाओ का अभिषेक, 8 बजे से प्रतिमा का श्रृंगार, 10 बजे मंदिर के षिखर पर ध्वजारोहण, दोपहर 11.30 बजे महाआरती हुई।

श्यामप्रेमी बंटी सोनी का किया गया स्वागत
जिसमें निस्वार्थ श्यामप्रेमी बंटी सोनी विषेष रूप से शामिल हुए। जिनका पुष्पमाला पहनाकर स्वागत आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट से मेनेजिंग ट्रस्टी यषवंत भंडारी, सेवा प्रकल्प अध्यक्ष रविराजसिंह राठौर, सचिव सुनिल चैहान, परार्मषदात सुधीरसिंह कुषवाह, वरिष्ठ सदस्य उमंग सक्सेना, आजीवन अध्यक्ष श्रीमती वंदना व्यास, अन्य महिलाओं में सुषीला भट्ट, कुंता सोनी, लीना नागर, पद्मावती त्रिवेदी, पाविनी एवं मंदिर समिति से जुड़े सभी भक्तजनों ने लिया। बाद सभी ने महाआरती का लाभ लिया।

महाप्रसादी प्राप्त की
पश्चात् श्रद्धालुओं, वनवासी कल्याण आश्रम परिषद् के बच्चों, रंगपवुरा विकलांग केंद्र के बच्चों को महाप्रसादी (भोजन) पगंत में बिठाकर करवाई गई। इस दौरान आसरा ट्रस्ट एवं मंदिर समिति से जुड़े भक्तजनों द्वारा निर्धनजनों को वस्त्र वितरण किया गया। दोपहर 1 बजे महिलाओं द्वारा हल्दी एवं कुमकुम आसरा ट्रस्ट सेवा प्रकल्प एवं बिहारी मंदिर भजन मंडली महिला मंडल द्वारा रखा गया।

सीईओ जिला पंचायत ने जनसुवाई में सुनी आमजन की समस्याएॅ

jhabua news
झाबुआ । षासन के निर्देषानुसार प्रति मंगलवार को आयोजित होने वाले जनसुनवाई कार्यक्रम का आयोजन आज 15 जनवरी 2019 को जिले के विभिन्न विभागो सहित कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में किया गया। कलेक्टर कार्यालय में जनसुनवाई में समस्या लेकर आये आवेदको से सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे ने आवेदन लिये एवं समस्या का त्वरित निराकरण हो पाये इसलिये संबंधित अधिकारियों को समस्या के त्वरित निराकरण हेतु आवष्यक निर्देष दिये। श्रीमती अर्चना पति लवनेष निवासी थांदला रोड तहसील मेघनगर ने मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना स्वरोजगार ऋण उपलब्ध करवाने के लिये आवेदन दिया। सज्जाद हुसैन जाजलीवाला निवासी ग्राम पारा एवं अन्य ग्रामवासियो ने सार्वजनिक हेंडपंप पर निजी मोटर बंद करवाने के लिये आवेदन दिया। ग्राम भैंसा कराई के ग्रामवासियो ने फारेस्ट विभाग की जमीन पर दो किमी रोड निर्माण के लिये वन विभाग की अनुमति दिलवाने हेतु आवेदन दिया। अमरसिंग पिता जोगडिया निवासी महुडीपाडा तहसील रामा ने कपिलधारा कूप स्वीकृत करवाने के लिये आवेदन दिया। परम पिता बिजीया निवासी ग्राम तलावली तहसील झाबुआ ने प्रधानमंत्री आवास योजनांतर्गत लाभ प्रदान करवाने के लिये आवेदन दिया। दरू पिता खीमा निवासी ग्राम मसुरिया तहसील झाबुआ ने माता पिता की मृत्यु सिलीकोसिस बीमारी से हो जाने से आर्थिक सहायता राषि दिलवाने के लिये आवेदन दिया। ग्राम मलवान तहसील झाबुआ के बाबू पिता भीमा ने ग्राम मे उचित मूल्य की दुकान खुलवाने के लिये आवदेन दिया। हरीराज सिंह पिता लालसिंह निवासी ग्राम सेमलपाडा तहसील पेटलावद ने उसके कब्जे की जमीन अन्य व्यक्ति के नाम हो जाने की षिकायत की एवं जमीन का पट्टा पुनः उसके नाम से करवाने के लिये आवेदन दिया। रामतीरथ महाराज षंकर मंदिर ग्राम पोचक तहसील मेघनगर ने समग्र आई डी पोर्टल पर दर्ज करवाकर खाद्यान्न दिलवाने के लिये आवेदन दिया। ग्राम रेहंदा जिला झाबुआ के भूरिया फलिये के ग्रामीणो ने फलिये मे हेंडपंप खनन करवाने के लिये आवेदन दिया। पंजेसिंह पिता मंगलिया निवासी ग्राम करवीन्दी तहसील राणापुर ने मंदिर की षासकीय भूमि पर हो रहे भवन निर्माण कार्य को रूकवाने के लिये आवेदन दिया। जेबुनिषा पति ईस्माईल खान निवासी राजापुरा मोहल्ला पेटलावद ने विधवा पेंषन राषि नगर परिषद द्वारा नही दिये जाने की षिकायत की। राजू पिता मंगलिया निवासी सेमरोड तहसील पेटलावद ने पुत्र विजय की कुएं मे गिरने से मृत्यु हो जाने पर सहायता राषि हेतु आवेदन दिया। श्रीमती विष्णुकुमारी चैहान हाउसिंग बोर्ड काॅलोनी झाबुआ ने नल कनेक्षन विच्छेद होने के बाद भी नगर पालिका द्वारा जलकर का बिल दिये जाने की षिकायत की एवं बिल माफ करवाने के लिये आवेदन दिया।

दीनदयाल अन्त्योदय रसोई योजना हेतु गेहूॅ, चावल आवंटित
      
झाबुआ । मुख्यमंत्री दीनदयाल अन्त्योदय रसोई योजनान्तर्गत माह फरवरी 2019 हेतु गेहूॅ 28.00 क्विटल, चावल 13.00 क्विटल  का आवंटन शासन से प्राप्त हुआ। जिले को प्राप्त खाद्यान्न का पूर्नआवंटन कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा द्वारा नगरपालिका झाबुआ को रसोई के संचालन हेतु किया गया है।

आनंद विभाग का नाम अध्यात्म विभाग हुआ
       
झाबुआ । मध्यप्रदेष राजपत्र के अंतर्गत षासन द्वारा आनंद विभाग षब्दो का लोप करते हुए विभाग का नाम अध्यात्म विभाग किया गया है। षासन द्वारा अब आनंद विभाग के स्थान पर अध्यात्म विभाग का उपयोग करने हेतु निर्देष प्रसारित किये गये है।

पात्र संस्थाओ से उचित मूल्य दुकान आवंटन हेतु आवेदन 21 से 25 जनवरी तक आमंत्रित

झाबुआ । राज्य षासन के खाद्य आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग द्वारा विभाग की वेबसाईट ीजजचरूध्ध्ूूूण्विवकण्उचण्हवअण्पद पर उचित मूल्य दुकान विहीन ग्राम पंचायतो के आवंटन हेतु आवेदन किया जाना है। उसी वेबसाईट पर दुकान आवंटन हेतु आॅनलाईन आवेदन करने की प्रक्रिया भी बताई गई है। उचित मूल्य दुकानो की सूची कलेक्टर झाबुआ एवं अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय के द्वारा सूचना पटल पर प्रदर्षित की गई है। पात्र संस्थाओ से उचित मूल्य दुकान आवंटन हेतु आवेदन दिनंाक 21 जनवरी से 25 जनवरी तक आमंत्रित किये गये है। उचित मूल्य दुकान का आवेदन खाद्य विभाग की वेबसाईट पर किया जाना है एवं आवेदन व्यक्तिगत न होकर संस्थाओ द्वारा किया जायेगा। पात्र संस्था मध्यप्रदेष सहकारी सोसायटी अधिनियम के अंतर्गत वर्गीकृत उपभोक्ता सोसायटी, विपणन सोसायटी, उत्पादक सोसायटी, संसाधन सोसायटी, बहुप्रयोजन सोसायटी, महिला स्वयं सहायता समूह, संयुक्त वन प्रबंधन समिति है। अपात्र संस्थाओ द्वारा आवेदन करने, गलत जानकारी देने, अपूर्ण आवेदन करने तथा अंतिम तिथि पश्चात आवेदन करने पर आवेदन निरस्त किया जायेगा। अतः उचित मूल्य दुकान खोलने की इच्छुक सभी संस्थाएं निर्धारित तिथि मे आॅनलाईन आवेदन करे। जिले के झाबुआ विकासखंड मे ग्राम पंचायत आमलीपठार, हडमंत्या, मानपुरा, मेहंदीखेडा एवं नेगडिया, रामा विकासखंड मे ग्राम पंचायत धमोई, गोपालपुरा, झुमका, नवापाडा, पलासडी, दुधी उमरकोट, रातीमाली, सागिया, आम्बा पिथनपुर, सिलखोदरी एवं छापरी (रणवास), रानापुर विकासखंड मे ग्राम पंचायत अगेरा, भोरकुण्डिया, छापरखंडा, खेडा अंधारवढ एवं माछलियाझीर, पेटलावद विकासखंड मे ग्राम पंचायत रामपुरिया, केषरपुरा, बेंगनबर्डी, बखतपुरा एवं झौंसर तथा थांदला विकासखंड मे ग्राम पंचायत देवगढ, झौंसली, देवका, खांदन, रतनाली, नहारपुरा, जुलवानीया छोटा, कोटडा, सागवा, नरसिंगपाडा, मानपुरा, चिखलिया, नौगावानगला एवं जुलवानिया बडा उचित मूल्य विहीन ग्राम पंचायते है, जहां पर नवीन उचित मूल्य दुकान स्थापित की जाना है।

मीजल्स-रूबेला अभियान का षुभारंभ तीनो विधानसभा क्षेत्रो के विधायक द्वारा किया गया
जिले के 15 वर्ष तक की आयु के बच्च¨ं का ह¨गा टीकाकरण
झाबुआ । जिले मे मीजल्स रूबेला अभियान का षुभारंभ आज 15 जनवरी 2019 को झाबुआ मे विधायक झाबुआ श्री जीएस डामोर द्वारा राणापुर मे, विधायक थांदला श्री वीरसिंह भूरिया द्वारा थांदला मे एवं विधायक पेटलावद श्री वालसिंह मेडा द्वारा पेटलावद मे किया गया। इस अवसर पर नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती मन्नु डोडियार एवं एसडीएम झाबुआ श्री मालवीय ने झाबुआ मे षुभारंभ किया। मीजल्स-रूबेला अभियान अंतर्गत 9 माह से 15 वर्ष आयु वर्ग तक के बच्च¨ं क¨ एम.आर. का टीका लगाया जायेगा। सुक्ष्म कार्ययोजना के अनुसार सभी शासकीय व अशासकीय स्कुलो मे अध्ययनरत कक्षा नसर्री से कक्षा 10 वीं तक के बच्चों को दाहिनीं बाजु मे चमडी़ के भीतर दर्दरहित एवं सुरक्षित टीका प्रशिक्षित स्वास्थ्य कर्मचारियों के माध्यम से समस्त स्कूलो मे लगाया जायेगा। 9 माह से 15 वर्ष आयु वर्ग तक के सभी बच्च¨ं क¨ टीका लगाने के लिये सत्र आय¨जित कर टीकाकरण किया जायेगा। शासकीय अ©र निजी शालाअ¨ं के प्राचायर्¨ं अ©र अभियान के लिये नियुक्त न¨डल शिक्षक¨ं क¨ प्रशिक्षित किया जा चुका है। सत्र¨ं के व्यवस्थित संचालन के लिये वेक्सीनेटर्स क¨ प्रशिक्षण दिया गया है। ग्राम स्तर तक आशा कार्यकर्ता अ©र आशा सहय¨गिनी अभियान में सहय¨ग दे रही हैं। अभियान के तहत जिला अ©र विकासखण्ड स्तर¨ं पर टाॅस्क फ¨र्स गठित की गई है। राज्य एवं जिला स्तर पर नियंत्रण कक्ष बनाये गये हैं। सुदूर अंचल¨ं तक पहुँचने के लिये विशेष म¨बाइल टीकाकरण टीमें बनाई गई हैं। अभियान में इण्डियन मेडिकल एस¨सिएशन अ©र इण्डियन एस¨सिएशन आॅफ पीडियाट्रिशियन, र¨टरी क्लब, लायंस क्लब आदि सामाजिक संस्थाअ¨ं का भी सहय¨ग अ©र समर्थन प्राप्त ह¨ रहा है। टीकाकरण निःशुल्क है। अभिभावक¨ं से आग्रह किया गया है कि न© माह से 15 वर्ष तक के बच्चे क¨ एम.आर. का टीका जरूर लगवायें। यह टीका मीजल्स अ©र रूबेला जैसी द¨ घातक जानलेवा बीमारिय¨ं से सुरक्षा देता है। जिले क¨ मीजल्स-रूबेला से मुक्त करने के अभियान में सभी वगर्¨ं, समुदाय के नागरिक¨ं से सहय¨ग की अपील की गई है।

फार्म भरने की जानकारी का फ्लेक्स लगाकर नाम जोडने का कार्य कर रहे बीएलओ
मतदाता 25 जनवरी तक मतदाता सूची में नाम जुड़वाएं
झाबुआ । भारत निर्वाचन आयोग द्वारा फोटो निर्वाचक नामावली के संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के दौरान जिन व्यक्तियों की आयु 1 जनवरी 2019 को 18 वर्ष पूर्ण हो चुकी है, वे मतदाता सूची में 25 जनवरी तक नाम जुड़वा सकेंगे। जिले के मतदान केन्द्रों में बी.एल.ओ. मतदान केन्द्रों पर उपस्थित रहकर फार्म भरने की जानकारी का फ्लेक्स लगाकर नाम जोडने का कार्य कर रहे हैं। नवीन मतदाताओं एवं छूटे हुए मतदाताओं से अपील की गई है कि वे अपने मतदान केन्द्र में पहुंचकर प्रारूप-6 बी.एल.ओ. से प्राप्त कर प्रविष्टियों की पूर्ति कर यह प्रारूप बी.एल.ओ. को उपलब्ध कराना सुनिष्चित करें। मतदान केन्द्र क्षेत्र के ग्राम अनुभाग में निवास करने वाले मतदाताओं (विषेष रूप से महिलाओं) से अपील की गई है कि वे मतदाता सूची में अपना नाम जुड़वा लें। यदि मतदाता सूची में उनके नाम, पिता/पति का नाम, उम्र या अन्य किसी भी प्रकार की विसंगति/त्रटि हो तो बीएलओ से फार्म-7, 8 एवं 8 (क) प्राप्त कर संषोधन हेतु बीएलओ के पास फार्म भरकर प्रस्तुत करें। जिन मतदाताओं को अपनी प्रविष्टि एक मतदान केन्द्र से दूसरे मतदान केन्द्र (उसी विधानसभा क्षेत्र) में स्थानांतरित करानी हो वे प्रारूप-8 क में आवेदन बीएलओ के पास जमा कर सकते हैं। जिले के सभी विधानसभा क्षेत्रों के सभी मतदान केन्द्र क्षेत्रों के ग्राम/अनुभाग अन्तर्गत निवासरत आम जनता/मतदाताओं से अपेक्षा की गई है कि वे अधिकाधिक संख्या में मतदान केन्द्र में उपस्थित होकर दावे/आपत्तियां 25 जनवरी तक प्रस्तुत कर सकते हैं।

ग्राम पंचायत पारा एवं रातीमाली में आनंद उत्सव आयोजित
28 जनवरी तक होगा ’आनन्द उत्सव’ का आयोजन    
jhabua news
झाबुआ । राज्य शासन के निर्देशानुसार आनन्द विभाग द्वारा प्रत्येक जिले में 14 से 28 जनवरी तक ’’आनन्द उत्सव-2019’’ का आयोजन किया जा रहा है। इस दौरान विभिन्न स्तरों पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। इसी तारतम्य में जिले के ग्राम पंचायत पारा, बेकल्दा, बरवेट एवं रातीमाली में आनंद उत्सव आयोजित किया गया। इसके तहत लंबी दौड़, कबड्डी तथा स्थानीय खेल आयोजित किये गये। ज्ञातव्य है कि आनन्द उत्सव-2019 के तहत 14 जनवरी से 24 जनवरी तक ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों मे कार्यक्रम होंगे। विकासखण्ड स्तर पर 22 से 24 जनवरी और जिलास्तर पर 25 से 28 जनवरी 2019 तक विविध कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे।

कर्ज माफी के लिये ग्राम पंचायतो मे चस्पा हो रही किसानो की सूची
आधार सीडिंग वाले किसानो की सूची हरे रंग मे एवं बिना आधार सीडिंग की सफेद रंग मे की जा रही चस्पा
झाबुआ । प्रदेश सरकार द्वारा किसान कर्ज माफी की प्रक्रिया आरंभ कर दी गई है। जिले मे आज 15 जनवरी 2019 से ग्राम पंचायतों/नगरीय निकायो में किसानों की सूची के चस्पा करने का कार्य आरंभ हो गया है। साथ ही किसानों से आवेदन भी लिये जा रहे है। जिन किसानो के बैंक खाते आधार से लिंक है, उनकी सूची का रंग हरा है और जिनके बैंक खाते आधार से लिंक नही है, उनके नाम सफेद सूची मे प्रदर्षित किये गये है। उसमे किसान अपना नाम देख सकेंगे। साथ ही ग्राम पंचायतो और कृषि सहकारी बैंको मे फार्म भी उपलब्ध होंगे, किसान कर्ज माफी के लिये फार्म भरकर जमा कर सकेंगे। फार्म भरने की अंतिम तिथि 5 फरवरी है। किसानों से आवेदन लेकर षासकीय सेवको द्वारा ऑनलाईन भरे जायेंगे। प्रतिदिन ग्रामवार तथा शाखावार प्राप्त होने वाले आवेदनों की स्थिति की समीक्षा की जायेगी। मुख्यमंत्री फसल ऋण माफी योजनांतर्गत जिलेवार, बैंक षाखावार ग्राम पंचायतवार हरी/सफेद/गुलाबी सूचियो मे प्राप्त आवेदन-पत्रो की जानकारी का प्रदर्षन तीन प्रपत्रो मे तैयार किया जाएगा, जिसके अनुसार मुख्यमंत्री किसान ऋण माफी के संबंध मे जिलेवार प्रेषित हरी/सफेद सूची की जानकारी, मुख्यमंत्री किसान ऋण माफी के संबंध मे षाखावार एवं ग्राम पंचायतवार हरी/सफेद सूची प्रदर्षन की जानकारी एवं मुख्यमंत्री किसान ऋण माफी के संबंध मे प्राप्त आवेदन पत्रो की जानकारी रहेगी। उपरोक्त प्रपत्रो मे पोर्टल 15 जनवरी से प्रतिदिन सीधे जानकारी आवष्यक रूप से दर्ज करने की कार्यवाही की जायेगी। मुख्यमंत्री फसल ऋण माफी योजनांतर्गत राष्ट्रीयकृत बैंको द्वारा प्रदत्त जानकारी अंग्रेजी भाषा मे है, जिसका हिंदी मे अनुवाद किसी भी एप/प्रोग्राम के उपयोग से पोर्टल पर किये जाने मे त्रुटियां परिलक्षित हो रही है। चुंकि ग्राम पंचायतो मे प्रदर्षित सूचियांे मे नाम हिंदी मे प्रदर्षित करना आवष्यक है। इसलिये ग्रामवार हरी/सफेद सूचियो को पोर्टल से डाउनलोड करने के उपरांत सूची के अंग्रेजी मे लिखे नाम के काॅलम मे आगे कृषको के नाम हिंदी मे हाथ से लिखने के उपरांत सूची प्रदर्षित करने की व्यवस्था सुनिष्चित की जायेगी। किसी भी स्थिति मे हरी/सफेद सूची के नाम अंग्रेजी मे ग्राम पंचायतो मे प्रदर्षन नही किया जावेगा। ग्रामवार सूची मे अंग्रेजी मे प्रदर्षित नाम के बाद एक काॅलम हिंदी मे नाम दर्ज करने के लिये रिक्त छोडा गया है। उक्त रिक्त स्थान मे हिंदी मे हाथो से नाम लिखने का कार्य नोडल अधिकारी के द्वारा आवष्यक रूप से सुनिष्चित किया जावेगा। ग्राम पंचायतो मे सूचियां 15 जनवरी के बाद किंतु 26 जनवरी के पहले प्रदर्षित की जायेगी। जिले की समस्त बैंक शाखा/ऋण प्रदाता संस्था में फसल ऋण खातों का आधार सीडींग अभियान दिनांक 15 जनवरी 2019 से 25 जनवरी 2019 तक चलाया जाएगा। जिले के समस्त पात्र किसानों से अनुरोध है कि योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए निम्न आवष्यकता की पूर्ति करना हैः- सफेद सूची मे प्रदर्षित किसान अपने बैंक ऋण खाते में आधार की सीडिंग अनिवार्य रूप से करवाकर योजना का लाभ लेवें। आधार सीड्ेड नहीं होने की स्थिति में योजना का लाभ प्राप्त करना व्यवहारिक रूप से कठिन होगा। किसान यह भी विषेष रूप से ध्यान रखें कि आधार सीडिंग उसी बैंक खाते की करावें जिस खाते से फसल ऋण लिया गया हो। जिले की समस्त ग्राम पंचायतों, नगरीय निकायो, बैंक शाखाओं, ऋण प्रदायक संस्थाओं में हरी और सफेद सूची चस्पा की जा रही है। वहां से किसान जानकारी प्राप्त कर सकते है। बैंक खाता आधार सीडे्ड हरी सूची और गैर बैंक आधार सीडे्ड सफेद सूची है। आवेदन फार्म समस्त ग्राम पंचायतों, नगरीय निकायो में निःषुल्क उपलब्ध है। किसान हरी एवं सफेद सूची में नाम देखकर हरी सूची वाले किसान हरे रंग का आवेदन फाॅर्म एवं सफेद रंग की सूची वाले किसान सफेद आवेदन फाॅर्म भरकर संबंधित बैंक शाखा/ऋण प्रदायक संस्था में जमा करावें। निर्धारित फाॅर्म नहीं भरने की स्थिति में ऋण माफी योजना का लाभ प्राप्त करना व्यवहारिक रूप से कठिन होगा। आवदेन फाॅर्म में समस्त विवरण सटीक और सुसंगत भरें। फाॅर्म जमा कराने से पहले पंचायत सचिव अथवा शासकीय कर्मचारी से चेक करावें। पात्र किसान का यदि हरी और सफेद सूची में नाम दर्ज नही है तो वह आपत्ति अथवा दावा प्रस्तुत करने हेतु गुलाबी रंग का आवेदन पत्र भरकर जमा करावे। योजना से संबंधित कोई भी समस्या समाधान हेतु वरिष्ठ महा प्रबंधक, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक, जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक, उप संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास से सम्पर्क कर सकते है।

सभी विभाग प्रमुख विभागीय योजनाओ की प्रगति की जानकारी कलेक्टर कार्यालय को उपलब्ध करवाये-कलेक्टर

झाबुआ । आगामी माह मे विभाग मे संचालित विभिन्न योजनाओ के संबंध मे संभाग स्तर एवं षासन स्तर पर बैठके आयोजित की जायेगी। साथ ही नवनिर्मित मंत्रियो द्वारा भी योजनाओ की समीक्षा की जायेगी। अतः इसको दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा द्वारा सभी विभाग प्रमुखो को निर्देषित किया गया है कि अपने-अपने विभागो की समस्त गतिविधियो/योजनाओ की समीक्षा की जाकर जानकारी अद्यतन की जाकर कलेक्टर कार्यालय को उपलब्ध करवाये। यह सुनिष्चित करे कि संचालित योजनाओ का निचले स्तर पर समुचित क्रियान्वयन हो रहा है। यदि योजनाओ के लागू करने मे किसी भी प्रकार की लापरवाही परिलक्षित होती है, तो संबंधित विभाग प्रमुख के विरूद्ध कार्यवाही का प्रस्ताव वरिष्ठ को प्रेषित किया जावेगा।

नेशनल ल¨क अदालत की तारीखें घ¨षित
        
झाबुआ ं। सवर्¨च्च न्यायालय अ©र राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार वर्ष 2019 में आय¨जित की जाने वाली नेशनल ल¨क अदालत¨ं की तारीखें घ¨षित कर दी गई हैं। सदस्य सचिव राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण श्री विजय चन्द्र ने बताया कि 9 मार्च, 13 जुलाई, 14 सितम्बर अ©र 14 दिसम्बर क¨ नेशनल ल¨क अदालत का आय¨जन ह¨गा। नेशनल ल¨क अदालत¨ं के लिये चिन्हित किये गये लम्बित अ©र प्रिलिटिगेशन के प्रकरण¨ं में न्यायालय¨ं में लम्बित प्रकरण¨ं में आपराधिक शमनीय प्रकरण, पराक्राम्य अधिनियम की धारा-138 के अंतर्गत प्रकरण, मनी रिकवरी सबंधी मामले, एमएसीटी प्रकरण (म¨टर दुर्घटना क्षतिपूर्ति दावा प्रकरण), श्रम विवाद प्रकरण, विद्युत एवं जल कर/बिल संबधी (सिर्फ शमनीय प्रकरण), वैवाहिक प्रकरण, भूमि अधिग्रहण के प्रकरण, सेवा मामले ज¨ सेवानिवृत्त संबंधी लाभ¨ं से संबंधित, राजस्व प्रकरण (सिर्फ जिला/उच्च न्यायालय¨ं में लम्बित) दीवानी इत्यादि मामले महत्वपूर्ण हैं। इनके अतिरिक्त, प्रीलिटिगेशन (मुकदमा पूर्व) के अंतर्गत पराक्राम्य अधिनियम की धारा-138 के अंतर्गत प्रकरण, मनी रिकवरी संबंधी मामले, श्रम विवाद संबंधी मामले, विद्युत एवं जल कर/बिल संबंधी (सिर्फ शमनीय प्रकरण), दूरसंचार के बकाया लैण्डलाइन/म¨बाइल बिल संबंधी प्रकरण, आपराधिक शमनीय प्रकरण, वैवाहिक प्रकरण, दीवानी इत्यादि मामले भी सुने जायेंगे। आमजनता/पक्षकारगण, ज¨ न्यायालय में लम्बित एवं मुकदमेबाजी के पूर्व (प्रिलिटिगेशन प्रकरण) नेशनल ल¨क अदालत के लिये चिन्हित किये गये प्रकरण¨ं/विवाद¨ं का उचित समाधान कर, आपसी सहमति से ल¨क अदालत में निराकरण कराना चाहते हैं, वे संबंधित न्यायालय अथवा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण/उच्च न्यायालय विधिक सेवा समिति से सम्पर्क कर अपना मामला आय¨जित ह¨ने वाली नेशनल ल¨क अदालत¨ं में रखे जाने के लिये अपनी सहमति अ©र आवश्यक कार्यवाही पूर्ण करायें।

शिक्षा सत्र 2019-20 के लिए नवीन मदरस¨ं का पंजीयन 15 जनवरी से
        
झाबुआ । राज्य मदरसा ब¨र्ड द्वारा शिक्षा सत्र 2019-20 के लिए नवीन मदरसा अ©र समिति पंजीयन के लिये आॅनलाइन आवेदन की सुविधा एम.पी. आॅनलाइन के प¨र्टल पर किय¨स्क के माध्यम से 15 जनवरी से 28 फरवरी 2019 तक उपलब्ध कराई जा रही है। सचिव म.प्र. मदरसा ब¨र्ड ने बताया कि आवेदन का फार्मेट, विस्तृत जानकारी छमू उंकंतें त्महपेजतंजपवद प्देजतनबजपवदे स्पदो एवं मदरसा ब¨र्ड की वेबसाइट ूूू.उचउइ.वतहपद पर भी उपलब्ध है।

किसान “ई कृषि सेवा“ एप के माध्यम से घर बैठे कर सकेंगे आवेदन
कृषि मंत्री ने लाँच किया “ई-कृषि सेवा“ मोबाइल एप
झाबुआ । किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री श्री सचिन यादव ने कृषि अभियांत्रिकी संचालनालय में “ई-कृषि सेवा“ मोबाइल एप लांच किया। पूर्व में किसानों को कृषि यंत्रों का वितरण ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से किया जा रहा था।  इसमें किसान को आवेदन करने के लिए कियोस्क सेंटर का सहारा लेना पडता था। जिसके चलते कई बार अनावश्यक परेशानी का सामना करना पडता था, अब मोबाइल एप के माध्यम से किसान घर बैठे अपना आवेदन कर योजना का लाभ ले सकेंगे। किसानों को यंत्र चयन तथा किसी भी कंपनी का किसी भी डीलर से यंत्र प्राप्त करने की स्वतन्त्रता रहेगी। वर्तमान परिदृश्य मे कृषि यंत्रीकरण अत्यधिक महत्वपूर्ण हैं। इससे श्रम एवं लागत की बचत होती है उत्पादकता में वृद्धि होती है। कृषि को नये आयाम देने के लिए राज्य सरकार कृषि यंत्रीकरण के क्षेत्र को सर्वोच्च प्राथमिकता देगी तथा आवश्यकतानुसार नये कार्यक्रम भी प्रारंभ किये जाएंगे।

जिल¨ं में बड़े पैमाने पर ह¨ंगे कॅरियर अवसर मेले
        
झाबुआ । प्रमुख सचिव, उच्च शिक्षा श्री नीरज मण्डल¨ई ने जिला कलेक्टर¨ं क¨ स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्शन य¨जना में कॅरियर अवसर मेले आय¨जित करने के निर्देश दिये है। ये मेले बड़े पैमाने पर ह¨ंगे। कलेक्टर¨ं से कहा गया है कि मेले के लिये आय¨जन समिति के संरक्षक के रूप में सहय¨ग प्रदान करें। पिछले वषर्¨ं के अनुभव¨ं के आधार पर यह देखा गया है कि जिन जिल¨ं में कलेक्टर¨ं ने व्यक्तिगत रुचि लेकर संरक्षक के रूप में कार्य करते हुए समिति गठित कर विभिन्न कम्पनिय¨ं, उद्य¨ग¨ं एवं र¨जगार प्रदाताअ¨ं से प्रत्यक्ष चर्चा एवं व्यक्तिगत पत्र व्यवहार किया, वहाँ अधिक संख्या में र¨जगार प्रदाता कम्पनिय¨ं ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। इन मेल¨ं में चयनित विद्यार्थिय¨ं की संख्या में भी उल्लेखनीय वृद्धि हुई। प्रमुख सचिव ने निर्देश दिये हैं कि कॅरियर अवसर मेले में बड़ी संख्या में स्थानीय विद्यार्थिय¨ं क¨ र¨जगार उपलब्ध करवायें। आय¨जन समिति में जिला व्यापार एवं उद्य¨ग केन्द्र सेडमेप, अ©द्य¨गिक केन्द्र विकास निगम, खादी एवं ग्राम¨द्य¨ग ब¨र्ड, जिला र¨जगार कार्यालय, म.प्र. कन्सल्टेंसी आर्गनाईजेशन के प्रतिनिधि तथा अ©द्य¨गिक संगठन जैसे एस¨सिएशन आॅफ इण्डस्ट्रीज, सीआईआई एवं शिक्षण संस्थाअ¨ं के पदाधिकारिय¨ं क¨ सदस्य के रूप में शामिल किया जाये।

गोपाल पुरस्कार योजना मे गोपालको को दिये जायेगे पुरस्कार
जिला मुख्यालय पर 16 जनवरी को होगा आयोजन
 झाबुआ । भारतीय उन्नत नस्ल के गौवंशीय एवं भैंस वंशीय दुधारु पशुओं के पालन को बढावा देने एवं अधिक दुग्ध उत्पादन को प्रोत्साहित करने के लिये जिले स्तर पर गोपाल पुरस्कार योजना वर्ष 2018-19 का आयोजन जिला मुख्यालय पर दिनांक 16 जनवरी 2019 को प्रातः 10.30 बजे से पाॅली क्लीनिक पशु चिकित्सा विभाग टूरिस्ट मोर्टल के पास झाबुआ मे किया जायेगा। गौवंशीय एवं भैंस वंशीय पशुओं की प्रतियोगिता के पुरस्कार पृथक-पृथक होंगे। योजना अंतर्गत जिला स्तर पर प्रथम पुरस्कार - पचास हजार रूपये, द्वितीय पुरस्कार - पच्चीस हजार रूपये, तृतीय पुरस्कार - पन्द्रह हजार रूपये तथा सांत्वना पुरस्कार - पाँच हजार रूपये एवं राज्य स्तर पर प्रथम पुरस्कार - दो लाख रूपये, द्वितीय पुरस्कार - एक लाख रूपये, तृतीय पुरस्कार - पचास हजार रूपये तथा सांत्वना पुरस्कार - दस हजार रूपये होंगे। जिला एवं राज्य स्तरीय सांत्वना पुरस्कार सात प्रतिभागियों को प्रदान किये जावेंगे। गौवंशीय एवं भैंस वंशीय पशुओं की प्रतियोगिता के पुरस्कार पृथक-पृथक होंगे। राज्य स्तरीय प्रतियोगिता मे चयनित पषु ही जिला स्तरीय प्रतियोगिता मे सम्मिलित हो सकेगे।

प्रत्येक महाविद्यालय में गठित ह¨गा इलेक्ट्र¨लर लिट्रेसी क्लब
मतदाता जागरूकता अभियान में जुडेगें छात्र-छात्राएँ
झाबुआ ।भारत निर्वाचन आय¨ग के निर्देशानुसार मतदाता जागरूकता अभियान के अन्तर्गत प्रत्येक महाविद्यालय में इलेक्ट्र¨लर लिट्रेसी क्बल का गठन किया जायेगा। निर्वाचन साक्षरता के लिए छात्र-छात्राअ¨ं क¨ मतदाता जागरूकता से संबंधित अभियान एवं गतिविधिय¨ं के क्रियान्वयन के लिए तैयार किया जायेगा। यह क्लब महाविद्यालय में एवं छात्र-छात्राएँ अपने निवास के आस-पास पूरा वर्ष मतदाता जागरूकता गतिविधिय¨ं क¨ संचालित करेंगे। महाविद्यालय के प्राचार्य क्लब के संरक्षक ह¨ंगे। प्रत्येक संस्था में इस कार्य के लिए द¨ कैम्पैस एम्बेसेडर छात्र-छात्राअ¨ं की नियुक्ति की जायेगी। सभी संस्थाअ¨ं क¨ निर्देशित किया गया है कि 18 वर्ष से अधिक उम्र के समस्त छात्र-छात्राअ¨ं का मतदाता परिचय-पत्र बनाकर वितरित किया जाना सुनिश्चित करें। महाविद्यालय के प्रत्येक छात्र अपने निवास के आस-पास दस-दस घर¨ं में जाकर मतदाता जागरूकता संबंधी प्रचार-प्रसार करेंगे तथा 18 वर्ष की आयु से अधिक के व्यक्ति जिनका परिचय पत्र नहीं बना है, उनका परिचय-पत्र बनवाने में सहय¨ग करेंगे। छात्र¨ं द्वारा 18 वर्ष से अधिक आयु के जिन व्यक्तिय¨ं की पहचान की जायेगी, उनकी सूची तैयार कर महाविद्यालय क¨ देगें। ऐसे छात्र, जिन्ह¨ंने व्यवहारिक प्रयास कर सफलतापूर्वक सूची का निर्माण किया है, उन्हें महाविद्यालय अ©र जिला स्तर पर पुरस्कार अ©र प्रशस्ति-पत्र प्रदान कर सम्मानित किया जायेगा। इस अभियान में एन.एस.एस., एन.सी.सी. अ©र क्रीड़ा विभाग के छात्र-छात्राअ¨ं का भी सहय¨ग लिया जायेगा।

प्रतिय¨गिता 15 जनवरी से शुरू ह¨ंगी

झाबुआ 15 जनवरी 2019/न©वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस समार¨ह में महाविद्यालय अ©र जिला स्तर एवं संबंधित विश्वविद्यालय द्वारा वाद-विवाद, निबंध, चित्रकला तथा स्ल¨गन प्रतिय¨गिता का आय¨जन किया जा रहा है। ये प्रतिय¨गिताएँ 15 जनवरी से 22 जनवरी 2019 तक आय¨जित की जायेगी। प्रत्येक स्तर पर प्रत्येक विधा में प्रथम तथा द्वितीय स्थान प्राप्त चयनित विद्यार्थी प्रत्येक विश्वविद्यालय से अधिकतम कुल 8 छात्र-छात्राएँ राज्य स्तरीय प्रतिय¨गिता में शामिल ह¨ंगी।

जिला विकास समन्वय एवं मूल्यांकन समिति (दिषा) की बैठक 23 जनवरी को
       
झाबुआ । जिला विकास समन्वय एवं मूल्यांकन समिति की बैठक का आयोजन श्री कांतिलाल भूरिया, सासंद लोकसभा रतलाम म.प्र. की अध्यक्षता मे दिनांक 23 जनवरी 2019 को प्रातः 11.30 बजे से कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष मे किया जाएगा। बैठक मे महाप्रबंधक रेलवे, महाप्रबंधक राष्ट्रीय राजमार्ग, मनरेगा, वनमंडलाधिकारी, जिला परिवहन अधिकारी, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग, उपसंचालक कृषि विभाग, कार्यपालन यंत्री जल संसाधन विभाग, कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग, कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा संभाग, अधीक्षक यंत्री म.प्र.क्षे.वि.वि. कंपनी एवं अन्य विभाग की योजनाओ की समीक्षा की जायेगी। के कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने संबंधित अधिकारियो को पूर्व बैठक दिनंाक 19.04.2018 का पालन प्रतिवेदन की जानकारी पावर पाइंट मे तैयार कर फोल्डर दिनंाक 16 जनवरी 2019 तक जिला पंचायत झाबुआ को प्रेषित करने हेतु निर्देषित किया है। साथ ही विभाग प्रमुख को बैठक मे संबंधित जानकारी लेकर उपस्थित रहने हेतु निर्देषित किया है।

षासन की मदद से बोलने लगेगा षिवराज निःषुल्क हुई षिवराज की तालु सर्जरी

jhabua news
झाबुआ । जिले के रामा विकासखंड के ग्राम गोमला के कठडा फलिया निवासी षिवराज पिता कांतु वास्केल उम्र 6 वर्ष जन्म से ही तालु की समस्या से पीड़ित था। आर्थिक तंगी के चलते पिता कांतु इलाज के भारी खर्च के कारण अपने बेटे का इलाज कराने में सक्षम नहीं थे। इस दौरान राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के दल द्वारा षिवराज को चिन्हित किया गया एवं तत्काल निःशुल्क उपचार की समझाईश देकर जिला चिकित्सालय रैफर किया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने षिवराज के माता-पिता को निःशुल्क उपचार की विस्तृत जानकारी दी। भोपाल के लाहोटी अस्पताल में दिनांक 23 दिसंबर 2018 को षिवराज का सफल निःशुल्क ऑपरेशन किया गया। सर्जरी के उपरांत अब षिवराज जल्द ही अच्छे से बोलने लगेगा। षिवराज के पिता ने बताया कि पहले उन्हें लगता था कि उनका बेटा कभी बोल नही पायेगा। सर्जरी के बाद वह बेटे के लिए अपने आप में एक नया आत्मविश्वास महसूस करते हैं। षिवराज के माता पिता ने स्वास्थ्य विभाग द्वारा कराई गई निःशुल्क सर्जरी एवं इस योजना का लाभ प्राप्त करने से षिवराज के बोलने लग जाने पर शासन का आभार व्यक्त किया हैं।  

कोई टिप्पणी नहीं: