सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 16 जनवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 16 जनवरी 2019

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 16 जनवरी

एडीएम ने किया वार्षिक केलेन्डर का विमोचन

sehore news
सीहोर। मध्य प्रदेश लघुवेतन कर्मचारी संघ के द्वारा प्रकाशित बहुरंगीन वार्षिक केलेन्डर का विमोचन बुधवार को कलेक्ट्रेट में अपर कलेक्टर बी के चतुर्वेदी के द्वारा किया गया। विमोचन कार्यक्रम में संघ के गीता प्रसाद शर्मा, अशोक कचनेरिया, हरिनारायण सोनी, उमराव सिंह, रहीस खां, उमेश खरे, भगीरथ सिंह परमार, प्रदीप मालवीय, दीलिप सिंह तोमर, राजेंद्र पाल, कुमेर सिंह, मुकेश डोबी, मोहल मालवीय, राजकुमार, निनोद मालवीय, रूप सिंह धनराज सिंह, प्रेमनारायण धानक, रीतेश विश्वकर्मा, संतोष भिलाला आदि कर्मचारी मौजूद थे।

कृषकों की समृद्धि के लिये प्रदेश सरकार किसानों के साथ है
प्रदेश के किसानों के सभी कृषि अल्पकालीन ऋण होंगे माफ - प्रभारी मंत्री श्री आरिफ अकीलजिले के लगभग 1 लाख 50 हजार कृषक होंगे जय किसान ऋण मुक्ति योजना से लाभान्वितप्रदेश के अन्नदाता कृषकों का विकास सरकार की प्राथमिकता - मंत्री श्री सचिन यादव
sehore news
प्रदेश सरकार जय किसान ऋण मुक्ति योजना का लाभ जिले के कृषकों को दिलाने के लिए जिला प्रशासन वृहद स्तर पर कार्य कर रहा हैं। 15 से 25 जनवरी तक प्रत्येक ग्राम पंचायत कार्यालयों में कृषक अपना आवेदन पत्र भरकर जमा कर सकते हैं। इस योजना के लिये हरे, सफेद एवं गुलाबी रंग के आवेदन पत्र जमा किये जाएंगे। जिन कृषकों का नाम हरी सूची में है (जिनका आधार नंबर बैंक खाते से जुड़ा हुआ है) वे हरे रंग का आवेदन पत्र भरेंगे, जिन कृषकों का आधार नंबर बैंक खाते में नहीं जुड़ा है उनका नाम सफेद सूची में होगा और वे सफेद आवेदन पत्र भरेंगे। जिनका नाम हरी एवं सफेद सूची में नहीं है वे दावा प्रस्तुत करने के लिये गुलाबी रंग का आवेदन पत्र भरेंगे। गुरुवार को सीहोर के बिलकिसगंज ग्राम पंचायत में प्रभारी मंत्री एवं भोपाल गैस त्रासदी, राहत एवं पुर्नवास, पिछड़ा वर्ग एवं अल्प संख्यक कल्याण, सुक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्री श्री आरिफ अकील जय किसान ऋण मुक्ति योजना के क्रियान्वयन में आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने कृषकों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार हर कदम पर कृषकों के साथ खड़ी है। कृषकों की समृद्धि के लिये प्रदेश सरकार द्वारा जय किसान ऋण मुक्ति योजना लागू की गई है। इस योजना के अन्तर्गत प्रदेश के किसानों का 2 लाख रुपये तक का कृषि अल्पकालीन ऋण माफ किया जाएगा। उन्होंने कहा कि 22 फरवरी से इस योजना की राशि का भुगतान प्रारंभ होगा। जिले के कृषक पात्रता अनुसार इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। कार्यक्रम में कलेक्टर श्री गणेश शंकर मिश्रा, पुलिस अधीक्षक श्री राजेश चंदेल, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अरुण विश्वकर्मा, अपर कलेक्टर श्री विनोद कुमार चतुर्वेदी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री समीर यादव के साथ-साथ श्री रतन सिंह ठाकुर, श्री शैलेन्द्र पटेल, श्री जफर लाला, श्री राजीव गुजराती, श्री मनोज पटेल, श्रीमती गुलाब ठाकुर, श्री हरिसिंह परमार, श्री राजेश जांगड़े, श्री संतोष पटेल, श्रीमती हेमलता वर्मा, श्री देवेंद्र ठाकुर आदि उपस्थित थे।

जय किसान ऋण मुक्ति योजना कार्यक्रम में शामिल हुए कृषि मंत्री
कृषि कल्याण तथा कृषि विकास, उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण मंत्री श्री सचिन यादव गुरुवार को सीहोर जिले की नसरुल्लागंज तहसील के ग्राम लाड़कुई में जय किसान ऋण मुक्ति योजना के कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने कहा कि प्रदेश के अन्नदाता कृषकों का विकास सरकार की प्राथमिकता है। जनप्रतिनिधि एवं शासकीय अमला मिलकर पात्र किसानों के निर्धारित प्रपत्र में फॉर्म भरवाएं, जिससे एक भी किसान योजना के लाभ से वंचित नहीं रहे। श्री यादव ने लाड़कुई में आयोजित जय किसान ऋण मुक्ति आवेदन अभियान कार्यक्रम का दीप प्रज्जवलित कर शुभारंभ किया। कृषकों द्वारा लकड़ी का हल भेंट कर श्री यादव का स्वागत किया गया।   मंत्री श्री सचिन यादव ने कहा कि प्रदेश सरकार ने किसानों के 2 लाख तक के कृषि ऋण माफ करने की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी है। भले ही किसानों ने एक से अधिक बैकों से फसल के लिए कर्जा लिया हो। उन्होंने किसानों का पंजीयन कर रहे अमले को ताकीद किया कि कोई भी पात्र किसान योजना का लाभ लेने से वंचित नहीं रहना चाहिए। पात्र किसान पंजीयन से छूटे नहीं, इसके लिए सतत रूप से शिविर लगाए जाएं। इस कार्यक्रम में भी कलेक्टर श्री गणेश शंकर मिश्रा, पुलिस अधीक्षक श्री राजेश चंदेल, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अरुण विश्वकर्मा, उपसंचालक कृषि श्री अवनीश चतुर्वेदी के साथ-साथ श्री रतन सिंह ठाकुर, श्री राजकुमार पटेल, श्री शैलेन्द्र पटेल आदि उपस्थित थे।

धर्मगुरूओं ने एक स्वर में कहा मीजल्स-रूबेला बनेगा टीकाकरण जनअभियान
धर्मगुरूओं ने संदेश जारी का अभियान को सफल बनाने का आव्हान किया
मीजल्स-रूबेला टीकाकरण अभियान पर सभी धर्मगुरूओं  ने एक स्वर में कहा मीजल्स-रूबेला टीकाकरण एक जनअभियान बनेगा इसमें समुदाय की भागीदारी में उनका जरूरी सहयोग रहेगा। मंदिर, मस्जिद, गुरूद्वारों और चर्च में अभियान के प्रचार-प्रसार से संबंधित जानकारी प्रसारित की जा रही है! वहीं सभी धर्मगुरूओं ने  समाज के लोगों से अपील की हैं  कि 9 माह से 15 वर्ष तक के बच्चों को मीजल्स-रूबेला का टीका जरूर लगवाएं तथा कोई भी लक्षित बच्चा  टीकाकरण से ना छूटे इसका भी ध्यान समाज के लोग रखें इसकी अपील भी अपने स्तर से धर्मगुरूओं ने जारी की है। प्राचीन चिंतामन गणेश मंदिर के मुख्य पुजारी व नगर पुरोहित पंडित पृथ्वीवल्लभ दुबे, शहर काजी जनाब आशूभाई, ईसाई धर्म गुरू फादर अजय एक्का, जामा मस्जिद गुड़भेला के सदर जनाब इसहाक खान, गुरूद्वारा प्रबंधन कमेटी के कोषा अध्यक्ष तथा सिख समाज के धर्मगुरू श्री इकबाल सिंह तलवार, सदगुरू कबीर आश्रम के प्रमुख महंत मुन्नालाल साहेब, मौलवी हाफीज साहब, गायत्री परिवार से श्री ओ.पी.शैव, मस्जिद कमेटी के सचिव जनाब लतीफ खां, बुद्धिस्ट इंटरनेशनल नेटवर्क के बौद्ध आचार्य राहुल बौद्ध, समाज सेवी डॉ अनीस खान, गौरीमाता मंदिर समिति के मुख्य पुजारी पंडित अनुज लाहीरी, दाउदी बोहरा समाज के प्रतिनिधि मुल्ला हकीमुद्दीन, समाज सेवी मोहम्मद मुमताज, मोहम्मद रईस, समाजसेवी हाफिज करीम ने संदेश जारी कर सर्व समाज को मीजल्स-रूबेला अभियान को सफल बनाने का आव्हान हितग्राही बच्चों के परिजनों से किया है।

जिला पंचायत सामान्य सभा की बैठक आज 

मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अरुण कुमार विश्वकर्मा ने बताया कि जिला पंचायत की सामान्य सभा की बैठक 17 जनवरी को दोपहर 02 बजे जिला पंचायत सभाकक्ष में आयोजित की जाएगी। बैठक की अध्यक्षता जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती उर्मिला मरेठा करेंगी। बैठक में कृषि एवं ऋण माफी योजना, शिक्षा, स्वास्थ्य, जल संसाधन, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, विद्युत मंडल, पशुपालन आदि विभागों की समीक्षा की जाएगी। 

गोपाल पुरस्कार योजना के तहत पुरस्कार वितरण समारोह में पुरस्कृत हुए कृषक 

गुरुवार को जिला पशु चिकित्सालय प्रांगण नदी चौराहा में पशुपालन विभाग द्वारा देशी नसस्ल की गायों एवं भैंसों की गोपाल पुरस्कार योजना के तहत पुरस्कार वितरण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। समारोह में श्री जसपाल अरोरा, श्री राजेश गौर, श्री मायाराम गौर, श्री कमलेश राठौर, श्री अंबाराम, श्री आशीष गेहलोत आदि उपस्थित थे। प्रतियोगिता में अधिकतम दुग्ध देने वाली गायों एवं भैंसों के मालिकों को पुरस्कृत किया गया। पशु पालन विभाग के उप संचालक डॉ एन.पी.एस.गंगवार द्वारा विभागीय योजनाओं की जानकारी प्रदान करते हुए समस्त अतिथियों एवं पशु पालकों का स्वागत किया गया। गायों की प्रतियोगिता में- प्रथम पुरस्कार 50 हजार रुपये श्री गौरव गुड़भेला की गिर नस्ल की गाय जो 19.732 कि.ग्रा दूध देती है, द्वितीय पुरस्कार 25 हजार रुपये श्री नंदलाल इछावर की साहीवाल नस्ल की गाय जो 18.690 कि.ग्रा दूध देती है तथा तृतीय पुरस्कार 15 हजार रुपये श्री रमेशचंद्र की गिर नस्ल की गाय जो 15.069 कि.ग्रा. दूध देती है एवं बाकी अन्य सात पशुपालकों को 5-5 हजार रुपये का सांत्वना पुरस्कार प्रदाय किया गया। भैंसों की प्रतियोगिता में- प्रथम पुरस्कार 50 हजार रुपये श्री धीरेन्द्र निवासी रुपेटा आष्टा की मुर्रा नस्ल की भैंस जो 16.869 कि.ग्रा. दूध देती है, द्वितीय पुरस्कार 25 हजार रुपये श्री रामौतार निवासी खनपुरा नसरुल्लागंज की भैंस जो 16.637 कि.ग्रा दूध देती है एवं तृतीय पुरस्कार 15 हजार रुपये श्री महेश निवासी इंदिरानगर सीहोर की मुर्रा नस्ल की भैंस जो 15.006 कि.ग्रा. दूध प्रतिदिन देती है तथा अन्य सात भैंस पालकों को 5-5 हजार रुपये का सांत्वना पुरस्कार के रूप में प्रमाण पत्र प्रदान किये गये। कार्यक्रम में जिले के नोडल अधिकारी डॉ हरीश त्रिपाठी एवं डॉ सुरेश श्रीवास्तव, डॉ भुवनेश्वरी श्रीवास्तव, डॉ शालिनी गजभिये द्वारा पशुपालकों को तकनीक सलाह देते हुए समस्त आगन्तुकों का आभार व्यक्त किया गया। 

ग्राम पंचायतों में शासकीय उचित मूल्य दुकान आवंटन हेतु आवेदन पत्र आमंत्रित 

अनुविभाग सीहोर की ग्राम पंचायतों में शासकीय उचित मूल्य दूकान आवंटन के लिये आवेदन पत्र आमंत्रित किये जा रहे हैं। मध्यप्रदेश सार्वजनिक वितरण प्रणाली नियंत्रण आदेश 2015 (संशोधित) के अन्तर्गत सीहोर जिले के ग्रामीण क्षेत्र में प्रत्येक पंचायत में शासकीय उचित मूल्य दुकान आवंटन की जानी है। कंडिका 8 (1) में नवीन अनुसूची दो में उल्लेखित उपभोक्ता सोसायटी, विपणन सोसायटी, उत्पादक सोसायटी, संसाधन सोसायटी, बहुप्रयोजन सोसायटी, महिला स्वसहायता समूह, संयुक्त वन प्रबंधन समिति आवेदन के लिये पात्र होंगी। महिला संस्थाओं/भंडारो/महिला स्वसहायता समूहों (सभी सदस्य संचालक मंडल महिला हो) को एक तिहाई स्थानों पर दुकानें आरक्षित की गई है। आवेदन पत्र नवीन कलेक्ट्रेट भवन की प्रथम मंजिल स्थित जिला खाद्य आपूर्ति शाखा के कक्ष क्रमांक 115 एवं सभी अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय में दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक प्राप्त किये जा सकते हैं। दुकान विहीन ग्राम पंचायातों में दुकान खोलने हेतु आवेदन ऑनलाइन पोर्टल nfsa.samagra.gov.in पर किये जा सकते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...