मधुबनी : लोक शिकायत अधिनियम-2015 के सफल क्रियान्वयन हेतु बैठक का आयोजन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 11 जनवरी 2019

मधुबनी : लोक शिकायत अधिनियम-2015 के सफल क्रियान्वयन हेतु बैठक का आयोजन

public-grivances-meeting-madhubani
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) 11,जनवरी,, श्री शीर्षत कपिल अषोक,जिला पदाधिकारी,मधुबनी की अध्यक्षता में शुक्रवार को स्थानीय डी0आर0डी0ए0 स्थित सभागार में बिहार लोक षिकायत निवारण अधिकार अधिनियम-2015 के सफल क्रियान्वयन हेतु बैठक का आयोजन किया गया।  बैठक में उप-विकास आयुक्त,मधुबनी, श्री अजय कुमार सिंह,सहायक समाहत्र्ता,मधुबनी, श्री कुमार गौरव, अनुमंडल पदाधिकारी,झंझारपुर, श्री अंषुल अग्रवाल,जिला लोक षिकायत निवारण पदाधिकारी,मधुबनी, श्री ऋषिकेष शर्मा एवं सभी अनुमंडल लोक षिकायत निवारण पदाधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारी,जयनगर, श्री शंकर शरण ओमी समेत सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी,अंचल अधिकारी एवं बाल विकास विकास परियोजना पदाधिकारी समेत अन्य पदाधिकारीगण उपस्थित थे। बैठक में जिला पदाधिकारी द्वारा 60 दिनों से अधिक समय से विस्तारित मामलों की समीक्षा की गयी। जिसमें सबसे अधिक मामले फुलपरास अनुमंडल से संबंधित पाये गये। साथ ही अंचल अधिकारी,फुलपरास से संबंधित सबसे अधिक मामले 60 थे। वही अंचल अधिकारी,लौकही से संबंधित 20 मामले 60 दिनों से अधिक का पाया गया। जिला पदाधिकारी द्वारा अंचल अधिकारी,फुलपरास एवं लौकही के विरूद्ध विभागीय कार्रवाई करने हेतु निदेष दिया गया। समीक्षा के क्रम में यह पाया गया कि अतिक्रमण से संबंधित मामालों में पुलिस बल की अनुपलब्धता के कारण अतिक्रमण खाली नहीं कराये जाने की कार्रवाई के कारण भी कई मामले लंबित है। जिला पदाधिकारी द्वारा पुलिस उपाधीक्षक,मुख्यालय को अतिक्रमण से संबंधित मामलों में आवष्यकतानुसार पुलिस बल की उपलब्धता सुनिष्चित कराकर अतिक्रमण खाली कराने में सहयोग करने का निदेष दिया गया। जिला पदाधिकारी द्वारा आगामी थाना दिवस के अवसर पर पहले लोक षिकायत से संबंधित मामलों की समीक्षा कर उसका निष्पादन का कार्य करेंगे। साथ ही अतिक्रमण से संबंधित मामलों के निष्पादन हेतु पर थानाध्यक्ष एवं अंचल अधिकारी समन्वय बनाकर कार्रवाई करेंगे। ततपष्चात जिला पदाधिकारी द्वारा सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को 10 फरवरी तक जियो टैगिंग कार्य पूर्ण करने एवं 15 फरवरी को जिला स्तर पर कैंप लगाकर एकाउंट अपडेषन की कार्रवाई करने का निदेष दिया गया। साथ ही 1 जनवरी से 31 जनवरी तक शौचालयों पर पेंटिंग और चित्रकारी से संबंधित एक प्रतियोगिता का आयोजन किया जायेगा। जिसमें चयनित होने पर राष्ट्रीय सम्मान से संबंधित लाभुक को सम्मानित किया जायेगा। साथ ही मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना की राषि डी0बी0टी0 के माध्यम से लाभुकों के खाते में देने की जानकारी दी गयी।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...