राफेल मुद्दा मोदी को फिर सत्ता में लायेगा : सीतारमण - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 4 जनवरी 2019

राफेल मुद्दा मोदी को फिर सत्ता में लायेगा : सीतारमण

rafael-issue-will-bring-modi-in-power-again-nirmala
नयी दिल्ली 04 जनवरी, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस ने राफेल सौदे के बहाने न केवल उन्हें बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ भी अपशब्दों का इस्तेमाल कर उन्हें अपमानित किया है और इस पर माफी मांगने की बजाय संसद तथा देश को भ्रमित किया जा रहा है। श्रीमती सीतारमण ने लोकसभा में राफेल मुद्दे पर दो दिन चली चर्चा का जवाब देते हुए शुक्रवार को कहा कि इस विमान सौदे में किसी तरह की गड़बड़ी नहीं हुई और कांग्रेस राजनीतिक फायदे के लिए झूठ की बुनियाद पर गलत तरीके से आरोप लगाकर उन्हें प्रचारित कर रही है।  उन्होंने कहा कि राफेल मुद्दे को बेवहज तूल देने और इसको लेकर प्रधानमंत्री तथा रक्षा मंत्री को अपशब्द कहने वाली कांग्रेस को समझ लेना चाहिए कि यह मुद्दा उसे महंगा पड़ने वाला है। उन्होंने कहा कि बोफोर्स मुद्दे ने कांग्रेस को सत्ता से बाहर किया था लेकिन राफेल राष्ट्रहित में लिया गया निर्णय है इसलिए यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सत्ता में वापस लायेगा।  रक्षा मंत्री ने यह भी आरोप लगाया कि कांग्रेस के नेतृत्व वाली संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार राफेल खरीदने के पक्ष में ही नहीं थी इसलिए तत्कालीन रक्षा मंत्री ने संसद भवन परिसर में छह फरवरी 2014 को पत्रकारों से कहा था कि विमानों के लिए पैसा कहां से आएगा। यही वजह रही कि कारगिल युद्ध के बाद से जिन राफेल जैसे विमानों की जरूरत महसूस की जा रही थी, उस पर कांग्रेस सरकार ने कोई ठोस निर्णय नहीं लिया। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...