बिहार : राष्ट्रव्यापी आम हड़ताल सफल रहा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 9 जनवरी 2019

बिहार : राष्ट्रव्यापी आम हड़ताल सफल रहा

stike-successfull-bihar
पटना, 09 जनवरी। श्रमिक संगठनों की 8-9 जनवरी की राष्ट्रव्यापी आम हड़ताल के समर्थन में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी सहित छह वामदलों का बिहार बंद आज सफल रहा। राज्य के सभी बैंक, जीवन-बीमा कार्यालय, स्कूल-काॅलेज, सड़क यातायात, छोटे-छोटे कल-कारखानें, बाजार-हाट, आंगनबाड़ी केन्द्र,  रिक्षा-ठेला परिचालन आज राज्य भर में बंद रहा। राज्यधानी पटना की सड़कों पर बस, रिक्षा, टेम्पों नहीं चले। सड़कों पर हाथों में लाल झंडे और बैनर लिये वामदलों के नेताओं एवं कार्यकत्र्ताओं के जुलूस मार्च करते रहे। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव सत्य नारायण सिंह, ऐटक के नेता गजनफर नवाब और महिला समाज की महासचिव राजश्री किरण के नेतृत्व में अदालतगंज के जनषक्ति भवन परिसर से भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के सैकड़ों कार्यकत्र्ताओं का एक जुलूस निकला जो विभिन्न मार्गों से होता हुआ गाँधी मैदान पहुँचा। गाँधी मैदान से एक विषाल जुलूस निकला, जिसका नेतृत्व भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव सत्य नारायण सिंह, राम नरेष पाण्डेय, कपिलदेव यादव, गजनफर नवाब, राजश्री किरण, भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (माक्र्सवादी) के राज्य सचिव अवधेष कुमार, सर्वोदय शर्मा, अरूण मिश्र, माले के राज्य सचिव कुणाल, धीरेन्द्र झा, एसयूसीआई (सी) के मणिकान्त पाठक, फारवर्ड ब्लाॅक के वीरेन्द्र ठाकुर ने किया। जुलूस मुख्य मार्गों से होता हुआ डाक बंगला चैक पहुँचा। जुलूस में महिलाओं की भी अच्छी संख्या थी। जुलूस में शामिल लोग हाथ में लाल झंडे और अपनी मांगों की तख्तियाँ लिये केन्द्र सरकार की मजदूर विरोधी एवं जनविरोधी नीतियों के खिलाफ नारे लगा रहे थे। बिहार के बढ़ते अपराध को रोकने में विफल नीतीष सरकार के खिलाफ भी नारे लगा रहे थे। डाक बंगला चैक पर पहुँच कर जुलूस सभा में तब्दील हो गया। दो घंटे तक सभा चलती रही और यातायात ठप रहा। सभा को संबोधित करते हुए भाकपा के राज्य सचिव सत्य नारायण सिंह ने कहा कि हमारी पार्टी श्रमिक संगठनों की दो-दिवसीय राष्ट्रव्यापी आम हड़ताल का समर्थन करती है। उसी के समर्थन में आज वामदलों के आह्वान पर मुकम्मिल बिहार बंद है। उन्होंने कहा कि केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार बड़े पूंजीपतियों और मुनाफाखोरों का तुष्टिकरण कर रही है और उनको नाना प्रकार के करों में छूट, अनेक रियायतें और अन्य सुविधाएं दे रही हैं जबकि देष के किसान, मजदूर, युवक आदि संकट झेल रहे हैं। इनकी समस्याओं की ओर से सरकार लापरवाह बनी हुई है और उनकी मांगों की उपेक्षा कर रही है। नीतीष सरकार पर निषाना साधते हुए सत्य नारायण सिंह ने कहा कि आज बिहार में अपराधी ताण्डव मचाये हुए हैं। आतंक, भय और असुरक्षा के महौल में लोग जी रहे हैं लेकिन सरकार के कानों पर जूं भी नहीं रेंग रही है। केन्द्र और बिहार की सरकार जनविरोधी सरकार है, उसे सत्ता से उखाड़ फंेकना है। आज यहां पार्टी की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में पार्टी के राज्य सचिव सत्य नारायण सिंह ने कहा कि राज्य के सभी जिलों में बंद सफल रहा। शेखपुरा और लखीसराय में ट्रेन परिचालन भी बाधित हुआ। सरकारी कार्यालयों के कामों पर भी बंद का असर रहा। कुछ जिलों में पुलिस ने बेवजह बंद समर्थकों को गिरफ्तार किया। बन्द समर्थकों की गिरफ्तारियाँ छपरा, खगडिया, कटिहार, मधुबनी आदि जगहों में हुई। आज के बिहार बंद को राजद, कांग्रेस, हिन्दुस्तानी अवामी पार्टी, समाजवादी पार्टी और विकासषील इंसान पार्टी ने भी समर्थन किया। मैं अपनी पार्टी की ओर से उन्हें बधाई देता हूँ। आज के बंद को सफल बनाने के लिए बिहार की जनता को भी हम बधाई देता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...