विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 02 जनवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 2 जनवरी 2019

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 02 जनवरी

64वीं राष्ट्रीय शालेय ताईक्वांडो प्रतियोगिता का शुभांरभ
शिक्षा के साथ-साथ खेलो की ओर रूझान बढ़े-स्कूल शिक्षा मंत्री श्री प्रभुराम चैधरी

vidisha news
स्कूल शिक्षा मंत्री श्री प्रभुराम चैधरी ने आज विदिशा में 64वीं राष्ट्रीय शालेय ताईक्वांडो प्रतियोगिता का शुभांरभ करते हुए उन्होंने कहा कि शिक्षा के साथ-साथ खेलो के प्रति बच्चो का रूझान बढे़ इसके लिए स्कूली बच्चों को बेहतर खेल सुविधाएं मुहैया कराने के प्रबंध राज्य सरकार द्वारा सुनिश्चित किए जाएंगें।  स्कूल शिक्षा मंत्री श्री चैधरी ने कहा कि प्रदेश में शिक्षा का स्तर बढे़, शासकीय स्कूलों में अधिक से अधिक विद्यार्थियों को एडमिशन हो इसके लिए उन्होंने मंच से कहा कि आमजन अपने सुझावों से अवगत करा सकते है। शैक्षणिक हितार्थ सुझावों पर राज्य सरकार विचार विमर्श कर लागू करेगी।  उन्होंने कहा कि खेलो के प्रति मेरा लगाव रहा है मेडीकल काॅलेज की शिक्षा के दौरान मैं स्वंय खेल यूनियन का हिस्सा हुआ करता था। खेलों से बौद्विक और शारीरिक विकास के साथ-साथ अनुशासन विकसित होता है।  राष्ट्रीय शालेय ताईक्वांडो प्रतियोगिता से विदिशा जिला ही नही वरन् पूरा प्रदेश गौरवान्वित होगा। जहां ताईक्वांडो से बच्चों में सुरक्षा के प्रति आत्म विश्वास बढ़ता है वही प्रतियोगिता के माध्यम से उन्हें अपना हुनर दिखाने का जो अवसर मिल रहा है उसका वे खेल भावना से लाभ उठाएं।  स्कूल शिक्षा मंत्री श्री प्रभुराम चैधरी ने कहा कि प्रतियोगिता में विजेता और उपविजेता होते है किन्तु खेलों में भाग लेना ही सबसे बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने ताईक्वांडो खेलो के माध्यम से प्रदेश के खिलाड़ी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर उपलब्धि हासिल कर जिला और प्रदेश को गौरवान्वित करें।  स्कूल शिक्षा मंत्री श्री प्रभुराम चैधरी ने प्रतियोगिता का ध्वजारोहण कर मुक्त आकाश में गुब्बारो को छोड़ा और खेल आयोजन शुभांरभ करने की घोषणा की। मंत्री श्री चैधरी नेे स्वंय बालक और बालिका की प्रथम ताईक्वांडो का शुभांरभ अपनी उपस्थिति में रेफरी की भूमिका से की।  विदिशा विधायक श्री शशांक भार्गव ने कहा कि खेलो के माध्यम से भी अब बच्चे अपना भविष्य बना सकते है। उन्होंने शासकीय स्कूलों में खेलों की व्यवस्थाओं पर बल देते हुए कहा कि स्कूलों में व्हालीबाल, क्रिकेट, बैडमिंटन की किटेें उपलब्ध कराई जाए ताकि बच्चे खेलोेे के माध्यम से अपना भविष्य भी बना सकें। उन्होंने जिले को प्रतियोगिता अर्जित करने का जो गौरव प्राप्त हुआ है की प्रशंसा करते हुए आयोजन की व्यवस्थाओं का क्रियान्वयन करने वालो से कहा कि वे बाहर से आने वाले खिलाडी कोचों को बेहतर सुविधाएं मुहैया कराएं।  कुरवाई विधायक श्री हरिसिंह सप्रे ने कहा कि ताईक्वांडो के माध्यम से जिले के खिलाड़ियों को खेलने और देखने का अवसर मिलेगा। निश्चित ही इससे उनका आत्मबल बढे़गा और खेलों में सुधार कर सकेंगे। विदिशा नगरपालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन ने कहा कि विदिशा में आने वाले सभी राज्यों के खिलाड़ियों को घर जैसा माहौल मिले तभी हमारी मेजबानी सार्थक होगी। पिछली सरकार के द्वारा भी खेलों को बढावा देने के लिए हर संभव प्रयास किए गए है। पिछले प्रयासों का परिणाम है कि जिले में राष्ट्रीय शालेय प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी ने सभी शुभकामनाएं देते है खिलाडियों से कहा कि वे खेल भावना से खेलकर अपना परिचय दें। इससे पहले आयोजन की रूपरेखा से जिला शिक्षा अधिकारी श्री एचएन नेमा ने अवगत कराया। उन्होंने बताया कि 31 राज्यों के प्रतियोगी उक्त प्रतियोगिता में शामिल हो रहे है। हर रोज शाम को सांस्कृतिक कार्यक्रमों की भी प्रस्तुति प्रस्तुत होगी। लगातार छह जनवरी तक चलने वाले इस प्रतियोगिता में खिलाडी अपने हुनरों के साथ-साथ सांस्कृतिक धरोहर की भी छवि का प्रदर्शन कर मिनी भारत का स्वरूप परलिक्षित होगा। आयोजन स्थल पर साकेत, एमजीएम, वात्सल्य एवं ट्रिनीटी स्कूल के छात्रों द्वारा प्रस्तुत किए गए सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियों को भी सभी ने देखा। इस अवसर पर विदिशा जनपद पंचायत की अध्यक्ष श्रीमती रामदेवी ठाकुर, पूर्व विधायक श्री रूद्रप्रताप सिंह, एसजीएफआई के उपाध्यक्ष, स्कूल शिक्षा विभाग के संचालक श्री आलोक खरे के अलावा कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री विनीत कपूर, अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा समेत अन्य विभागों के अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक के अलावा 31 राज्यों के आए खिलाडी, कोच एवं मैनेजर मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन श्रीमती दीप्ति शुक्ला ने किया।

पुष्प प्रतियोगिता के विजेता पुरस्कृत हुए
एसएटीआई संस्था का गौरवमयी इतिहास-स्कूल शिक्षा मंत्री श्री प्रभुराम चैधरी
vidisha news
स्कूल शिक्षा मंत्री श्री प्रभुराम चैधरी ने एसएटीआई के कैलाश सत्यार्थी सभागृह में आयोजित पुष्प प्रदर्शनी की प्रतियोगिता के विजेताओं को आज पुरस्कृत किया। इससे पहले मंत्री श्री चैधरी एवं अन्य अतिथियों ने प्रतियोगिता में शामिल विभिन्न पुष्पों का अवलोकन किया। मंत्री श्री चैधरी ने अपने सम्बोधन में कहा कि सम्राट अशोक अभियांत्रिकीय संस्थान का गौरवमयी इतिहास है। इंजीनियरिंग के क्षेत्र में इस संस्थान का नाम सम्मानपूर्वक लिया जा रहा है यहां गुलाब एवं अन्य पुुष्पों की प्रदर्शनी का आयोजन गतवर्ष की भांति इस वर्ष भी किया गया है। जिला स्तरीय इस प्रकार की प्रदर्शनी भविष्य में राज्य स्तरीय प्रतियोगिता का आयोजन करें कि शुभकामनाएं दी। कार्यक्रम को विधायक श्री शशांक भार्गव, एसएटीआई संचालक श्री जेएस चैहान, पुलिस अधीक्षक श्री विनीत कपूर ने भी सम्बोधित किया। उद्यानिकी विभाग के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित दो दिवसीय गुलाब एवं अन्य पुष्प प्रदर्शनी में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले शासकीय बेतवा उद्यान नर्सरी, माधव उद्यान नर्सरी, पीएनबी प्रशिक्षण संस्थान के अलावा एसएटीआई और अन्य प्रतियोगियों को अतिथियों द्वारा पुरस्कृत किया गया है। आयोजन स्थल पर कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उप संचालक श्री पीके चैकसे, उद्यानिकी विभाग के सहायक संचालक श्री एके मिश्रा के अलावा अन्य विभागो के अधिकारी, कर्मचारी एवं जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक मौजूद थे। 

प्रशिक्षण प्राप्ति हेतु अमेरिका जाएंगे कलेक्टर 

विदिशा कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह अमेरिका की ड्यूक यूनिवर्सिटी में आयोजित प्रशिक्षण में शामिल होंगे। उक्त प्रशिक्षण 14 से 18 जनवरी तक ड्यूक सेन्टर फाॅर इन्टरनेशनल यूनिवर्सिटी (डीसीआईडी) संयुक्त राज्य अमेरिका में पांच दिवसीय लघु प्रशिक्षण में शामिल होंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...