भाजपा.शिवसेना का महाराष्ट्र में आम चुनाव और विधानसभा के लिए गठबंधन का ऐलान - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 18 फ़रवरी 2019

भाजपा.शिवसेना का महाराष्ट्र में आम चुनाव और विधानसभा के लिए गठबंधन का ऐलान

bjp-shiv-sena-declares-alliance-in-assembly-and-parliament-election
मुंबई, 18 फरवरी, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और शिव सेना के बीच राजनीतिक रिश्तों में काफी समय से चली आ रही खटास का सोमवार को पटाक्षेप हो गया. दोनों दलों ने आम चुनाव और राज्य विधानसभा के चुनाव मिलकर लड़ने का एलान किया। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की मौजूदगी में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फण्नवीस ने दोनों दलों के बीच गठबंधन की घोषणा करते हुए कहा कि राज्य की 48 संसदीय सीटों में आम चुनाव में भाजपा 25 और शिवसेना 23 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। इस मौके पर केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल और प्रकाश जावड़ेकर के अलावा पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मनोहर जोशी और दोनों दलों के अन्य प्रमुख नेता भी मौजूद थे। आम चुनाव के कुछ समय बाद राज्य विधानसभा के चुनाव होने हैं जिसमें दोनों दल आधी-आधी सीटों पर उम्मीदवार खड़े करेंगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह फैसला जनभावना का आदर करते हुए लिया गया है। राज्य विधानसभा का पिछला चुनाव दोनों दलों ने अलग.अलग लड़ा था बाद में भाजपा की अगुवाई में बनी सरकार में शिव सेना शामिल हुई। उन्होंने कहा, “ श्री ठाकरे ने अनुरोध किया है कि अयोध्या में राममंदिर का निर्माण किया जाये और भाजपा उनके इस रुख का पूर्ण समर्थन करती है।” मुख्यमंत्री ने 2019 के आम चुनाव में फिर से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन(राजग) की सरकार बनने का भरोसा जताया है।  श्री ठाकरे ने कहा कि मुख्यमंत्री ने संवाददाता सम्मेलन में दोनों दलों के बीच हुए सभी महत्वपूर्ण निर्णयों का खुलासा किया और कहा, “मैं इस पर और अधिक कहने की जरूरत नहीं समझता।” उन्होंने आगे अपनी बात रखने से पहले गुरुवार को पुलवामा में हुए केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवानों पर आत्मघाती आतंकवादी हमले की निंदा करते हुए शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि राज्य की जनता शिवसेना और भाजपा को पिछले तीन दशक से आजमा रही है। इन दौरान 25 साल हम साथ रहे और पिछले पांच साल के दौरान भ्रम रहा लेकिन जैसा मुख्यमंत्री ने कहा है उन्होंने समय-समय पर सरकार को दिशा-निर्देश मुहैया कराये हैं। श्री ठाकरे ने कहा कि लोकसभा चुनाव के चार माह बाद राज्य विधानसभा के चुनाव होने हैं। इसके लिए दोनों दल आधी.आधी सीटों पर चुनाव लड़ेंगे और ‘जिम्मेदारी भी बराबर.बराबर बांटी जायेगी।’ भाजपा अध्यक्ष ने विश्वास जताया कि आम चुनाव में दोनों दल मिलकर राज्य की 48 में से 45 सीटों पर विजय प्राप्त करेंगे। उन्होंने कहा, “ भाजपा और शिवसेना दोनों के कार्यकर्ता गठबंधन चाहते थे।” श्री शाह ने कहा, “ शिव सेना और अकाली दल उतार-चढ़ाव के दौर में भी भाजपा के साथ रहे हैं। कुछ गलतफहमियां हुई लेकिन अब उनका समाधान हो गया है। यह केवल राजनीतिक गठबंधन नहीं है। यह सिद्धांतों पर आधारित है। लोकसभा चुनाव में महाराष्ट्र की 48 में से 43 सीटों पर गठबंधन की जीत होगी।”

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...