मधुबनी : जिले में MSME कार्यक्रम की सफलता को लेकर कार्यक्रम दिल्ली में, DM आमंत्रित - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 13 फ़रवरी 2019

मधुबनी : जिले में MSME कार्यक्रम की सफलता को लेकर कार्यक्रम दिल्ली में, DM आमंत्रित

dm-madhubani-invited-in-delhi-in-msme-programe
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) : 100 दिवसीय एम0एस0एम0ई0 सहयोग एवं संपर्क कार्यक्रम के मधुबनी जिले में सफलता को लेकर श्री शांतमनु,आयुक्त,हस्तशिल्प,वस्त्र मंत्रालय,भारत सरकार के द्वारा सफलता के संबंध में अपने अनुभवों शेयर करने के उदेश्य से दिनांक 13.02.2019 को डाॅ0 अंबेदकर अंतराष्ट्रीय केन्द्र,नई दिल्ली में आयोजित मेगा इवेंट में जिला पदाधिकारी,मधुबनी को आमंत्रित किया गया। कार्यक्रम में श्री अजय तामता,माननीय,राज्य मंत्री, वस्त्र मंत्रालय, डाॅ0 थावर चंद गहलोत,माननीय केन्द्रीय मंत्री,सामाजिक न्याय और सशक्तीकरण, भारत सरकार, श्रीमती स्मृति जुबेन ईरानी, माननीय,केन्द्रीय मंत्री,वस्त्र मंत्रालय, भारत सरकार,डाॅ0 अरूण कुमार पांडा,सचिव,एम0एस0एम0ई,श्री शीर्षत कपिल अशोक,जिला पदाधिकारी, मधुबनी, श्री मुकेश कुमार, सहायक निदेशक, विकास आयुक्त(हस्तशिल्प), श्री सुमेधा कटारिया, डी0सी0, पानीपत(हरियाणा), श्री सुमीत राजेन्द्र भाई पटेल, प्रोपराईटर, मे0 कलर टेक्स, सूरत(गुजरात) समेत अन्य पदाधिकारीगण उपस्थित थे।
       
कार्यक्रम में जिला पदाधिकारी,मधुबनी के द्वारा अपने अनुभवों को शेयर करते हुए बताया गया कि मधुबनी के शिल्पकारों के सहयोग से 100 दिवसीय एम0 एस0 एम0ई0 सहयोग एवं संपर्क कार्यक्रम जो दिनांक 02 नवंबर 2018 से शुरू किया गया। दिनांक 08 फरवरी 2019 को 100 दिन पूरा हुआ। इस कार्यक्रम के माध्यम से कुल 2374 शिल्पियों के मुद्रा ऋण हेतु आवेदन अनुशंसित कर संबंधित बैंकों को अग्रसारित किया गया। जिसमें से अब तक 213 शिल्पियों के आवेदन बैंकों द्वारा स्वीकृत किया गया। कुल राशि लगभग 1.40 करोड़ संबंधित शिल्पियों के खाते में अनुमोदित किया गया साथ ही शेष आवेदनों पर कार्य प्रगति पर है। इस कार्यक्रम के अंतर्गत 5510 नए शिल्पियों की पहचान कर उनको पंजीकृत किया गया और 1431 नए पहचान पत्र शिल्पियों के बीच बांटे गए। 176 शिल्पकारों को आउटरिच प्रोग्राम के तहत उनके उत्पादों की बिक्री हेतु मार्केट उपलब्ध कराया गया। शिल्पियों को पहचान एवं पंजीकरण के लिए जिले में जिला प्रशासन एवं कार्यालय विकास आयुक्त,हस्तषिल्प के सहयोग से जिले में हस्तशिल्प पहचान रथ को चलाया गया।  जिला पदाधिकारी,मधुबनी द्वारा कार्यालय,विकास आयुक्त,हस्तशिल्प द्वारा स्वीकृत क्राॅफ्ट विलेज,क्राॅफ्ट वेस्ट रिसोर्स सेंटर तथ अरवन हाट के संबंध में भी विस्तारपूर्वक जानकारी दी गयी। साथ ही ग्रामीण हस्तशिल्प कलाकारों के सफलता से संबंधित लघु फिल्म का भी प्रदर्शन किया गया। श्रीमती स्मृति जुबेन ईरानी, माननीय,केन्द्रीय मंत्री,वस्त्र मंत्रालय, भारत सरकार, तथा डाॅ0 थावर चंद गहलोत,माननीय केन्द्रीय मंत्री,सामाजिक न्याय और सशक्तीकरण, भारत सरकार द्वारा जिला प्रशासन,मधुबनी द्वारा हस्तशिल्पकारों के हित में किये जा रहे कार्यो की सराहना की गयी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...