ईडी ने धनशोधन मामले में पी. चिदंबरम से पूछताछ की - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 9 फ़रवरी 2019

ईडी ने धनशोधन मामले में पी. चिदंबरम से पूछताछ की

ed-interrogate-chidambaram
नयी दिल्ली, आठ फरवरी, प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने आईएनएक्स मीडिया से जुड़े धनशोधन मामले की जांच के संबंध में शुक्रवार को पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम से पूछताछ की। धनशोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के तहत बयान दर्ज कराने के लिए तलब किए गए कांग्रेस नेता सुबह करीब 11 बजे एजेंसी के मध्य दिल्ली स्थित दफ्तर पहुंचे और करीब तीन घंटे बाद वहां से निकले। चिदंबरम से इस मामले में दिसंबर में भी पूछताछ की जा चुकी है।  माना जाता है कि उनसे इस मामले में एजेंसी द्वारा जब्त दस्तावेजों के बारे में सवाल किये गये। एजेंसी ने उनके बेटे कार्ति से भी इस मामले में बृहस्पतिवार को करीब छह घंटे तक पूछताछ की। ईडी ने पिछले साल कार्ति की भारत एवं विदेश में मौजूद करीब 54 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की थी। केंद्रीय एजेंसी ने सीबीआई द्वारा दर्ज प्राथमिकी के आधार पर पीएमएलए के तहत मामला दर्ज किया था और आईएनएक्स मीडिया को विदेशी चंदा प्राप्त करने के लिए दी गई विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) की मंजूरी में गड़बड़ियों का आरोप लगाया। यह मंजूरी दि‍ए जाने के दौरान पी चिदंबरम वित्त मंत्री थे। एजेंसी ने कार्ति, आईएनएक्स मीडिया एवं उसके निदेशकों - पीटर एवं इंद्राणी मुखर्जी समेत सीबीआई की शिकायत में नामजद अन्य आरोपियों के खिलाफ प्रवर्तन मामला सूचना रिपोर्ट (ईसीआईआर) दर्ज की थी। कार्ति को मामले की जांच कर रही अन्य केंद्रीय एजेंसी, सीबीआई ने पिछले साल 28 फरवरी को गिरफ्तार किया था। उनपर आरोप है कि 2007 में आईएनएक्स मीडिया को एफआईपीबी की मंजूरी दिलाने के लिए उन्होंने कथित तौर पर पैसे लिए थे। उन्हें बाद में जमानत मिल गई थी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...