झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 04 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 4 फ़रवरी 2019

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 04 फ़रवरी

नगरपालिका में गाया राष्ट्रगान व राष्ट्रगीत ’’

jhabua news
झाबुआ ।  दिनांक 01 फरवरी 2019 को नगरपालिका कार्यालय परिसर में शासन निर्देशानुसार प्रतिमाह की 1 तारीख को राष्ट्रगान व राष्ट्रगीत गाया जाना है जिसके तारतम्य में नगरपालिका झाबुआ में अध्यक्ष मन्नुबेन डोडियार, मुख्य नगरपालिका अधिकारी एल.एस.डोडिया की उपस्थिति में समस्त नगरपालिका स्टाॅफ द्वारा नगरपालिका कार्यालय परिसर में राष्ट्रगान व राष्ट्रगीत गाया ।

विहिप के प्रांतीय उपाध्यक्ष एवं धर्म प्रसार जिला प्रमुख, आदिवासी संत खुमसिंह महाराज का स्वर्गावास, 4 फरवरी को कालीदेवी के कोकावद से निकलेगा अंतिम ढोला

jhabua news
झाबुआ। विष्व हिन्दू परिषद् के जाने-माने प्रांतीय उपाध्यक्ष एवं विहिप धर्म प्रसार के जिला प्रमुख तथा जिले के आदिवासी संत खुमसिंह महाराज का रविवार को सुबह स्वर्गावास हो गया। उनका स्वार्गावास हिन्दू संप्रदाय के लिए एक अपूरणीय क्षति है। विषेषकर आदिवासी समाज में गहरा दुख व्याप्त है। अंतिम यात्रा (ढोला) उनके निवास कालीदेवी के ग्राम कोकावद से 4 फरवरी सोमवार को दोपहर निकाली जाएगी। खुमसिंह महाराज वर्ष 2003 से विहिप हिन्दू परिषद् से जुड़े होकर संगठन के अनेक पदो पर कार्यरत रहे। वे हाॅल ही में संगठन में रहते हुए उल्लेखनीय कार्यों के लिए विहिप के प्रांतीय उपाध्यक्ष बनाए गएं। इसके साथ ही धर्म प्रसार जिला प्रमुख पद पर भी कार्य किया। इससे पहले भी जिले में हिन्दू संप्रदाय एवं विषेषकर आदिवासी समाज, भगत समाज के लोगों के लिए उन्होंने कार्य किया। उनके द्वारा विहिप में रहते हुए गौ-माता की रक्षा एवं गौ-हत्या रोकने के लिए कारगर कदम उठाएं गए। इसके साथ ही हिन्दू समाज में जागृति लाने तथा धर्मांतरण रोकने में भी उनकी सराहनीय भूमिका रहंी। इसके लिए उन्हें पूर्व में राष्ट्रीय स्तर पर पुरस्कृत भी किया जा चुका था।

कुंभ से होकर बीते शनिवार को ही लौटे थे घर
विहिप के धर्म प्रसार के जिला मंत्री राजू निनामा एवं जरूभाई डामोर ने बताया कि संत खुमसिंह महाराज विहिप के पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं के साथ 26 जनवरी को इलाहबाद कुंभ में दर्षन हेतु गए थे एवं बीते शनिवार शाम को ही घर लौटे थे। तब-तक वह स्वस्थ थे। बताया जाता है कि रविवार को सुबह उन्हें अचानक चक्कर आने के बाद उल्टी हुई। परिजनों द्वारा दाहोद के लिए ले जाते समय रास्ते में उनकी मृत्यु हो गई, मृत्यु का कारण संभवतः ह्रदयघात होना या ब्लड प्रेषर में कमी-बढ़ोत्तरी आना हो सकता है।

पूरे जिले में छाया गहरा शोक
खुमसिंह महाराज के स्वार्गावास की खबर जिले में फैलते ही शोक की लहर छा गई। विष्व हिन्दू परिषद् के राष्ट्रीय-प्रादेषिक एवं जिला पदाधिकारी-कार्यकर्ताओं द्वारा उनके निधन पर गहरा दुख व्यक्त करने के साथ आदिवासी संत होने से जिलेभर में आदिवासी समाज, हिन्दू संप्रदाय, जिले की विभिन्न सामाजिक-धार्मिक संस्थाओं के पदाधिकारी-सदस्यों, गणमान्य नागरिकों एवं राजनैतिक पार्टियों ने भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की है।

4 फरवरी को निकाली जाएगी अंतिम यात्रा
विहिप धर्म प्रसार के जिला मंत्री एवं खुमसिंह महाराज से विषेष रूप से जुड़े राजू निनामा ने बताया कि अंतिम यात्रा (ढोला) उनके गृह ग्राम कालीदेवी के ग्राम कोकावद से 4 फरवरी, सोमवार को दोपहर करीब 12 बजे निकाली जाएगी, जिसमें विहिप के राष्ट्रीय-प्रादेषिक पदाधिकारी, जिला पदाधिकारी-कार्यकर्ताओं के साथ समस्त आदिवासी समाज बड़ी संख्या में शामिल होगा। अंतिम संस्कार का स्थान अभी तय नहीं किया गया है।

मेरू तेरस के अवसर पर भक्तामर अष्टप्रकारी पूजन का हुआ आयोजन, समाज की महिलाओं ने मेरूजी को सिर पर उठाकर नगर भ्रमण करवाया

jhabua news
झाबुआ। पुण्य सम्राट राष्ट्रसंत आचार्य श्रीमद् विजय जयन्तसेन सूरीष्वरजी मसा के पट्टधर आचार्यद्वय श्री नित्यसेन सूरीष्वरजी मसा एवं श्री जयरत्न सूरीष्वरजी मसा के आज्ञानुसार झकनावदा विराजित मातृ ह्रदया परम पूज्य गुरूवर्या श्री कोमललता श्रीजी मसा की सुषिष्या साध्वी श्री अनेकान्तलता श्रीजी मसा, यषोलता श्रीजी,  अतिषयलता श्रीजी, श्रेयसलता श्रीजी एवं परमे ठीलता श्रीजी मसा के पावन निश्रा में जिले के श्री केसरियानाथ जैन मंदिर झकनावदा में मेरू तेरस के सुअवसर पर झकनावदा श्री संघ ने भगवान आदिनाथजी का मोक्ष कल्याणक दिवस मनाया। जिसमें प्रातः 9ः30 बजे साध्वी श्रीजी द्वारा व्याख्यान के माध्यम से समाजजनों को मेरू तेरस का महत्व बताया। पष्चात् महिलाओ द्वारा घी का मेरू पर्वत बनाकर षीतला माता मंदिर प्रांगण से मेरू पर्वतजी को अपने सिर पर उठाकर ‘‘त्रिषला नंदन वीर की जय बोलो महावीर ....’’ के जयघोष के साथ ढोल की थाप पर नगर भ्रमण करवा कर केसरियानाथ मंदिर में विराजमान किया। तत्पष्चात् साध्वीश्री के मुखारविन्द से भक्तामर का वाचन हुआ।

समुधर स्तवनों से गूंजा मंदिर परिसर
दोपहर में भक्तामर महाभिषेक, अखंड अभिषेक एवं भक्तामर अष्टप्रकारी पूजन का भव्य आयोजन रखा गया। जिसमें बहनो ने पूरी विधि-विधान पूर्वक पाट पर अक्षत, फल, श्री फल, धूप दीप से पूजन की। भगवान का जलाभिषेक किया। इस दौरान पूरा मंदिर परिसर ‘‘बोल बोल आदेष्वर वाला काई थारी मर्जी रे ...’’ जैसे समधुर स्तवनों से गूंज उठा। इस अवसर पर समाज की महिलाओं ने बढ-़चढ़ कर चढावे भी लिए।

रूल आॅफ लाॅ अंतर्गत वाहन चेकिंग के दौरान आरटीओ ने वसूला 2.50 लाख का राजस्व
         
jhabua news
झाबुआ । भारत निर्वाचन आयोग तथा कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा के निदेशानुसार रूल आॅफ लाॅ के अंतर्गत परिवहन विभाग तथा पुलिस विभाग द्वारा वाहनो की जांच का सघन अभियान चलाया जा रहा है। जिसमे विशेष तौर पर वाहनो की बाॅडी मे बिना अनुमति के फेरबदल, वाहनो पर अनाधिकृत रूप से हूटर, बैनर, नियम विरूद्ध नंबर प्लेट, काली फिल्म, सर्च लाइट, बिना परमिट संचालित वाहनो पर कार्यवाही की जा रही हैं। विगत 2 सप्ताह मे परिवहन विभाग झाबुआ द्वारा 80 चालान बनाये जाकर लगभग 2.50 लाख रूपये राजस्व के रूप मे वसूल किये गये है। नियम विरूद्ध कई नंबर प्लेटे, सर्च लाइट, काली फिल्म वाहनो से निकलवाकर चालानी कार्यवाही की जा रही हैं। अवैध रूप से लगे हुए हूटर भी निकाले जाकर चालान बनाये गये। परिवहन विभाग द्वारा यह कार्यवाही झाबुआ, पेटलावद, थांदला क्षेत्रो मे की गई है। कुछ लोगो ने कार्यवाही के दौरान रौब दिखाने की भी कोशिश की, किंतु उन्हे चालान बनवाना पडा। कलेक्टर श्री सिपाहा से प्राप्त निर्देशो के अनुरूप शीघ्र ही वाहनो पर नियम विरूद्ध हूटर, नंबर प्लेट, काली फिल्म, सर्च लाइट, प्रेशर हाॅर्न तथा जीपो के ऊपर सवारी बिठाने के उद्देश्य से लोहे के कैरियर, पायदान, आदि निकालवाने की कार्यवाही की जायेगी एवं निर्माताओ तथा उन्हे लगने वालो के खिलाफ भी परिवहन पुलिस व प्रशासन संयुक्त रूप से सख्त कार्यवाही की योजना बनाई गई है। लोकसभा निर्वाचन तक यह कार्यवाही सतत रूप से जारी रहेगी। विगत दिनो मे पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार भी पुलिस द्वारा 1300 चालान बनाये जाकर लगभग 4 लाख रूपये राजस्व वसूला गया है। परिवहन विभाग तथा आबकारी विभाग द्वारा भी रात्रि मे वाहनो की चैकिंग का संयुक्त अभियान चलाया गया है। खनिज विभाग भी इस संयुक्त कार्यवाही मे शामिल करके अवैध परिवहन पर लगाम कसी जा रही हैं। संपूर्ण कार्यवाही मे जिला परिवहन अधिकारी के अलावा विभागीय तथा चेक पोस्ट का अमला भी सम्मिलित है।

पन्ना को 1 लाख 72 हजार रूपये आर्थिक सहायता स्वीकृत

झाबुआ ।  जिले के मेघनगर तहसील के ग्राम गुवाली में रहने वाले कृषक पन्ना पिता वजहींग का संपूर्ण आवासीय कच्चा मकान अचानक अग्निदुर्घटना से जलकर नष्ट होने के साथ साथ कपडे, बर्तन, कृषि औजार, फसल, 3 बैल एवं एक बछडा, बकरी के बच्चे की मृत्यू हो जाने पर कृषक पन्ना पिता वजहींग निवासी गुवाली को रूपयें 1 लाख 72 हजार की आर्थिक सहायता राशि एसडीएम मेघनगर श्रीमती प्रीति संघवी द्वारा स्वीकृत की गई है। स्वीकृत राशि बैंक खाते में ई-पेमेन्ट द्वारा भूगतान की जाएगी।

बाल विवाह रोकथाम अभियान अंतर्गत समस्त बाल विकास परियोजना मे कंट्रोल रूम स्थापित
       
झाबुआ । बाल विवाह रोकथाम अभियान अंतर्गत समस्त बाल विकास परियोजना महिला एवं बाल विकास विभाग मे कंट्रोल रूम स्थापित किये गये है। कंट्रोल रूम दिनांक 31 जनवरी 2019 से 30 जनवरी 2020 तक नियमित प्रातः 9 बजे से शाम 6 बजे तक खुला रखा जायेगा। कंट्रोल रूम हेतु जिला कार्यालय झाबुआ मे श्री आर एस बघेल जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग मोबाइल नंबर 9630662451 एवं श्री अजय चैहान सहायक संचालक महिला एवं बाल विकास विभाग मोबाइल नंबर 8964077275, थांदला मे श्री मगनसिंह कनेल परियोजना अधिकारी मोबाइल नंबर 975457325, पेटलावद मे कुमारी ईशीता मसानिया परियोजना अधिकारी 8319415415, मेघनगर मे श्रीमती वर्षा चैहान विकासख्ंाड महिला सशक्तिकरण अधिकारी मोबाइल नंबर 7697130123, झाबुआ मे श्रीमती मीरा गाडगे परियोजना अधिकारी मोबाइल नंबर 9827825981, रामा मे श्रीमती रामली डावर प्रभारी परियोजना अधिकारी मोबाइल नंबर 9752299119 एवं राणापुर मे श्री नंदकिशोर धनौतिया परियोजना अधिकारी मोबाइल नंबर 9977756180 की ड्यूटी लगाई गई है। संबंधित अधिकारी/कर्मचारी बाल विवाह से संबंधित जानकारी प्राप्त होने पर परियोजना अधिकारी को अवगत करायेंगे व बाल विकास परियोजना अधिकारी/विकासखंड महिला सशक्तिकरण अधिकारी त्वरित कार्यवाही कर महिला एवं बाल विकास विभाग को अवगत करायेंगे।

सरकारी स्कूलों में आयोजित की गई पालक-शिक्षक संघ की बैठक

jhabua news
झाबुआ । जिले के शासकीय स्कूलों मे आज पालक-शिक्षक मीटिंग आयोजित की गई। स्कूलों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों के पालक मीटिंग में शामिल हुए। शासकीय स्कूलों में पालक-शिक्षक मीटिंग आयोजित कर पालकों को उनके बच्चे की शैक्षणिक जानकारी दी गई तथा स्कूल की अकादमी गतिविधियों से अवगत कराया गया। पालको से उनके सुझाव प्राप्त किये गये एवं बच्चों को प्रेरित कर शिक्षा के स्तर में सुधार लाने के लिए पालकों को जागरूक किया गया।

जिले मे मिजल्स रूबेला टीकाकरण अभियान के तहत बच्चो का टीकाकरण सतत जारी

jhabua news
झाबुआ । मिजल्स रूबेला टीकाकरण अभियान के तहत झाबुआ जिले में अभियान 15 जनवरी से चलाया जा रहा है। जिले के अन्य स्कूलो के साथ ही आज झाबुआ ब्लाक के ग्राम गंूदीपाडा के स्कूल के बच्चो को टीकाकृत किया गया। खसरा रूबेला रक्षक अभियान अंतर्गत पूरे जिले में 9 माह से 15 वर्ष तक के सभी बच्चों को टीकाकृत किया जा रहा है। सुक्ष्मकार्ययोजना के अनुसार सभी शासकीय व अशासकीय स्कूलों में अध्ययनरत कक्षा नसर्री से कक्षा 10 वी तक के बच्चों को दाहिनी बाजू में चमडी के भीतर दर्दरहित एवं सुरक्षित टीका प्रशिक्षित स्वास्थ्य कर्मचारियों के माध्यम से समस्त स्कूलों में लगाया जा रहा है। अब तक जिले मे 1 लाख 60 हजार से अधिक स्कूली बच्चो का टीकाकरण किया जा चुका है। फरवरी माह मे आंगनवाडी केंद्रो के बच्चो का टीकाकरण कार्य भी प्रारंभ किया जायेगा। जिला टीकाकरण अधिकारी द्वारा सभी एएनएम आशा कार्यकर्ता एवं स्कूल शिक्षको को निर्देशित किया गया है कि स्कूल मे मीजल्स रूबेला टीकाकरण अभियान से छूटे हुए बच्चो को मीजल्स रूबेला का टीका अवश्य लगवाये अगर वह बाहर है तो लौटने पर उन्हे समीपस्थ चिकित्सालय मे ले जाकर टीकाकरण करवाये।

शिक्षा सत्र 2019-20 के लिए नवीन मदरसों का पंजीयन 28 फरवरी तक
         
झाबुआ । राज्य मदरसा बोर्ड द्वारा शिक्षा सत्र 2019-20 के लिए नवीन मदरसा और समिति पंजीयन के लिये ऑनलाइन आवेदन की सुविधा एम.पी. ऑनलाइन के पोर्टल पर कियोस्क के माध्यम से 28 फरवरी 2019 तक उपलब्ध कराई जा रही है। सचिव म.प्र. मदरसा बोर्ड ने बताया कि आवेदन का फार्मेट, विस्तृत जानकारी छमू उंकंतें त्महपेजतंजपवद प्देजतनबजपवदे स्पदो एवं मदरसा बोर्ड की वेबसाइट ूूू.उचउइ.वतहण्पद पर भी उपलब्ध है।

जिले को 6,96,000 लीटर केरोसिन आवंटित

झाबुआ । खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण संचालनालय भोपाल द्वारा जिले के डीलरवार मेसर्स एम.आर.देसाई, झाबुआ को 240000 लीटर, मेसर्स एल.के. मेहता पेटलावद को 228000 लीटर तथा मेसर्स एस.आर. मिश्रा झाबुआ को 228000 लीटर इस प्रकार कुल 696000 लीटर केरोसीन का आवंटन माह फरवरी 2019 हेतु जारी किया गया है। खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के समग्र पोर्टल की वेबसाईड ीजजचरूध्ध्देिंण्ेंउंहतंण्हवअण्पद पर उपलब्ध उचित मूल्य दुकानवार/निकायवार/ उपलब्ध केरोसीन आवंटन के आधार पर थोक केरोसीन डीलरवार, सेमी केरोसीन डीलरवार पुर्नरांवटन कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा द्वारा किया गया है। केरोसीन वितरण शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्र में अन्त्योदय परिवार, को 5 लीटर एवं प्राथमिकता परिवार को 3 लीटर समान रूप से कलेक्टर द्वारा निर्धारित दर अनुसार किया जायेगा। जारी पुर्नरावंटन आदेशानुसार झाबुआ ब्लाक की दुकानो के लिए 130861 लीटर, रामा ब्लाक के लिये 103281 लीटर, रानापुर ब्लाक के लिये 115063 लीटर, मेघनगर ब्लाक के लिए 101554 लीटर, थांदला ब्लाक के लिए 108552 लीटर, पेटलावद ब्लाक के लिए 136689 लीटर केरोसीन माह फरवरी 2019 के लिये आवंटित किया गया है।

स्वाइन फ्लू एवं अन्य मौसमी बीमारियों से बचाव हेतु आवश्यक उपाय
     
झाबुआ । प्रदेश के कई क्षेत्रों में स्वाईन फ्लू के प्रकरण दर्ज किये जा रहे है। भोपाल, इन्दौर में स्वाईन फ्लू के केसेस मिले हैं, इन जगहों पर यात्रा करने वाले आमजन जब भी इन जिलों में भ्रमण करने पर भीड़ वाले इलाको भ्रमण के द्वौरान सावधानी बरतें। स्वाईन फ्लू से बचाव एवं रोकथाम के लिए विभाग द्वारा जरूरी दिशा निर्देश समस्त बीएमओ तथा सिविल सर्जन को दिए गए हैं। संभावित स्वाईन फ्लू के मरीजों की स्क्रीनिंग, निदान, उपचार व रोकथाम के लिए भी दिशा निर्देश जारी किए गए हैं तथा समस्त स्वास्थ्य संस्थाओ में अलग से सर्दी-खांसी ओ.पी.डी. संचालित की जा रही है। जहां पर सर्दी-खांसी, बुखार के संदिग्ध मरीजो का पल्स आक्सीमीटर से परीक्षण कर उचित उपचार किया जा रहा है। समस्त स्वास्थ्य संस्थाओ में आवश्यक दवाईयां एवं उपकरण उपलब्ध है। स्वाईन फ्लू के प्रमुख लक्षणों में उच्च ग्रेड का बुखार और दवाईयों का असर नहीं होना, श्वांस लेने में परेशानी या छोटी-छोटी श्वांस का चलना, पेट और छाती में दर्द या दबाव, चक्कर आना या भ्रम की स्थिति गंभीर और लगातार उल्टियां वहीं बच्चों में पाए जाने वाले लक्षणों चमडी का रंग नीला होना, पर्याप्त तरल खाद्य नहीं ले पा रहा हो, चल नहीं पा रहा हो या बातचीत नहीं कर पा रहा हो चिडचिडा होना व अत्यधिक बुखार होना प्रमुख है। अधिकतर सर्दी के मौसम में स्वाईन फ्लू के मरीज मिलने की संभावना बनी रहती है। मरीजों को शीघ्र उपचार प्रारंभ करने के लिए उपरोक्त लक्षणों की पहचान शीघ्र होना जरूरी है। सावधानी के लिए खांसते और छींकते समय मुंह को रूमाल से ढका जाना चाहिए। सर्दी जुकाम से संक्रमित होने पर अन्य व्यक्तियों से कम से कम 1 मीटर की दूरी बनाकर रखना चाहिए। हाथ मिलाने और गले मिलने से बचें। संक्रमित व्यक्ति के द्वारा उपयोग किए गए टिश्यू, रूमाल, तौलिए, कपडे आदि का उपयोग न करें। सर्दी जुकाम के लक्षण है तो तुरंत चिकित्सकीय सलाह लें। भीड वाले क्षेत्रों से बचना चाहिए। सर्दी के दिनों में स्वाईन फ्लू का वायरस अत्यधिक सक्रिय रहता है। स्वाईन फ्लू से संबंधित ए श्रेणी को मरीजों में सामान्य सर्दी, हल्का बुखार, जुकाम, उल्टी एवं दस्त एवं बदन दर्द की शिकायत रहती है। इसके लिए मरीज को दवा देकर घर पर रहकर आराम करने की सलाह दी जाती है वहीं बी श्रेणी में उपरोक्त ए श्रेणी के लक्षण के साथ-साथ तेज बुखार एवं श्वांस लेने में तकलीफ हो तब मरीज का टेमीफ्लू टेबलेट दी जाती है एवं घर पर आराम करने की सलाह दी जाती है वहीं सी श्रेणी के मरीजों में उपरोक्त दोनों श्रेणी के साथ-साथ श्वांस लेने में तकलीफ, छाती में दर्द, खखार में खून आना, नाखून नीले पडना आदि लक्षण होने पर मरीज को आईसोलेशन वार्ड में भर्ती कर स्वाईन फ्लू का उपचार टेमीफ्लू टेबलेट दी जाती है एवं रोगी की जांच हेतु थ्रोट स्वॉब लेकर एम्स भोपाल, क्षेत्रीय जनजाति आर्युविज्ञान अनुसंधान केन्द्र जबलुपर एवं डी.आर.डी.ओ. ग्वालियर में से किसी एक जांच केन्द्र पर सुविधानुसार सेंपल जांच के लिए जिला स्तर से भेजे जाते हैं।

अमृत योजना में क्लस्टर आधारित बस सेवा के लिए बनेंगे सर्व सुविधायुक्त बस स्टैण्ड

झाबुआ । अमृत योजना में प्रदेश के शहरों में क्लस्टर आधारित बस संचालन के लिये सर्व-सुविधायुक्त बस टर्मिनल/स्टैण्ड बनाये जायेंगे। शहरी एवं अंर्तशहरीय मार्गों पर बस चलाई जा रही हैं। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह ने बस स्टैण्डों का निर्माण समय-सीमा में करवाने के निर्देश दिये। बस स्टैण्ड पर बसों में चढने और उतरने के लिये बस-वे का निर्माण, बसों के लिये पार्किंग एरिया, टिकिट काउंटर के लिये स्थान और यात्री प्रतीक्षालय बनाये जायेंगे। इसके साथ ही यात्रियों के लिये बस स्टैण्ड में स्वल्पाहार की सुविधा, प्रसाधन कक्ष की सुविधा, पेयजल, बस चालक एवं परिचालक विश्राम के लिये डोरमेट्री और दिव्यांगों के लिये जरूरी सुविधाएँ उपलब्ध करवाई जायेंगी।  बस टर्मिलन/बस स्टैण्ड निर्माण में पब्लिक प्रायवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) मोड को प्राथमिकता दी जायेगी। पीपीपी मोड के द्वारा बस स्टैण्ड का निर्माण संभव नहीं होने पर व्यवसायिक गतिविधि संचालित कर निर्माण राशि की प्रतिपूर्ति की जायेगी। हर निकाय में होगा शव वाहन  नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री सिंह ने दिए निर्देश नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह ने कहा है कि प्रत्येक नगरीय निकाय को कम से कम एक शव वाहन जरूर उपलब्ध करवायें। शमशान घाट दूर होने पर शव वाहन नहीं होने से स्थानीय नागरिकों को परेशानी होती है। नगरीय क्षेत्रों का आंकलन कर सुविचारित कार्ययोजना बनायें और शव वाहन के संचालन की प्रक्रिया भी सुनिश्चित करें।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...