मोदी सरकार पूर्वोत्तर के हर राज्य पर वैचारिक हमला कर रही है : राहुल गाँधी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 26 फ़रवरी 2019

मोदी सरकार पूर्वोत्तर के हर राज्य पर वैचारिक हमला कर रही है : राहुल गाँधी

modi-government-attacking-northeast-rahul-gandhi
गुवाहाटी, 26 फरवरी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ‘नागपुर की विचारधारा’ थोप कर पूर्वोत्तर के हर राज्य पर हमला कर रही है और सत्ता में आने पर कांग्रेस पूर्वोत्तर की संस्कृति, इतिहास और भाषा की रक्षा करेगी। उन्होंने पाकिस्तान में आतंकवादी शिविरों पर हवाई हमले के लिये भारतीय वायुसेना (आईएएफ) की भी सराहना की। असम में चुनाव प्रचार शुरू करते हुए गांधी ने क्षेत्र के लिये कई वादे भी किये और सत्तारूढ़ भाजपा सरकार पर विभिन्न मुद्दों पर हमला किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ‘भाजपा-आरएसएस की नफरत और हिंसा की विचारधारा’ से ‘सहिष्णुता और प्रेम की अपनी विचारधारा’ से लड़ना चाहती है। असम में लोकसभा की 14 सीटें हैं। कांग्रेस ने सिर्फ तीन सीटों पर जीत हासिल की थी जबकि भाजपा ने सात सीटें अपनी झोली में डाली थीं।  उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा-आरएसएस की विचारधारा पूर्वोत्तर के प्रत्येक राज्य को जला रही है। वे आपकी जीवन शैली, संस्कृति, भाषा और इतिहास पर हमला कर रहे हैं। वे नागपुर की संस्कृति आपपर थोपना चाहते हैं।’’ 

उन्होंने अनिवासियों को स्थायी निवास प्रमाण पत्र (पीआरसी) सौंपने को लेकर अरुणाचल प्रदेश में अशांति और विवादास्पद नागरिकता (संशोधन) विधेयक पर समूचे पूर्वोत्तर क्षेत्र में हो रहे जबर्दस्त विरोध प्रदर्शन का उल्लेख करते हुए इसे इन राज्यों के मूल निवासियों की पहचान पर हमला करार दिया। उन्होंने कहा, ‘‘नरेंद्र मोदी ‘चौकीदार’ और मोहन भागवत (आरएसएस प्रमुख) सुन लें कांग्रेस पार्टी इस हमले की अनुमति नहीं देगी। हम संस्कृति और पहचान की रक्षा करेंगे और माकूल जवाब देंगे।’’  गांधी ने कहा कि उन्हें भरोसा है कि उनकी पार्टी केंद्र में सत्ता में आएगी और क्षेत्र के हितों की रक्षा करेगी। गांधी ने आरोप लगाया कि अरुणाचल प्रदेश में दो युवकों को गोली मारने की घटनाएं, हरियाणा में जाटों की गैर जाटों से लड़ाई, महाराष्ट्र से उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों को खदेड़ा जाना, दिल्ली में पूर्वोत्तर के लोगों को मिल रही धमकियां और बेंगलुरू में महिलाओं पर हमला भाजपा-आरएसएस की नफरत की विचारधारा के उदाहरण हैं। इन आरोपों पर भाजपा की ओर से तत्काल कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। 

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘आज भारत में दो विचारधाराओं की लड़ाई चल रही है। एक नरेंद्र मोदी की हिंसा की विचारधारा है। दूसरी कांग्रेस की सहिष्णुता और प्रेम की विचारधारा है। भाजपा नागपुर की विचारधारा थोप रही है, लेकिन कांग्रेस जानती है कि भाजपा-आएसएस को कैसे हराया जाए।’’  उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा किसी न किसी मुद्दे पर हर राज्य को आग में झोंकना चाहती है ताकि अनिल अंबानी समेत सिर्फ 15-20 कॉरेपोरेटों को सारे लाभ मिलें।’’  गांधी मोदी सरकार पर राफेल लड़ाकू विमान सौदे में अनिल अंबानी नीत रिलायंस समूह को अनुचित फायदा पहुंचाने का आरोप लगाते रहे हैं। सरकार और रिलायंस समूह ने इन आरोपों को खारिज किया है। उन्होंने कहा, ‘‘समूचे असम और भारत में किसान कराह रहे हैं। असम में लाखों छात्र पढ़ाई के लिये कर्ज लेते हैं। मोदी सरकार ने बड़े कॉरपोरेट के साढ़े तीन लाख करोड़ रुपये का कर्ज माफ किया, लेकिन छात्रों और किसानों का कर्ज माफ नहीं किया गया।’’  उन्होंने अनिल अंबानी, विजय माल्या, नीरव मोदी और ललित मोदी का नाम लेते हुए यह कहा।

उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस सत्ता में आयी तो देश में सभी गरीबों के लिये ‘न्यूनतम आय गारंटी’ लागू की जाएगी और उनके बैंक खातों में रकम जमा की जाएगी। उन्होंने असम का ‘विशेष दर्जा’ बहाल करने और पूर्वोत्तर औद्योगिक और निवेश प्रोत्साहन नीति (एनईआईआईपीपी) वापस लाने का वादा किया। गांधी ने जोर देते हुए कहा कि भाजपा ने पूर्वोत्तर के लोगों के अधिकार छीन लिए हैं। हम उन्हें बहाल करने के लिए सबकुछ करेंगे। असम के चाय बागान क्षेत्र में हालिया शराब त्रासदी पर शोक जताते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘नरेंद्र मोदी ने चाय बागानों के लिये बड़ी घोषणा की थी, लेकिन कुछ भी नहीं किया। हम हर चाय बागान कर्मी के लिये न्यूनतम मजदूरी की गारंटी देंगे।’’ 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...