बेगुसराय : उत्साह पूर्वक मनाया गया अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 21 फ़रवरी 2019

बेगुसराय : उत्साह पूर्वक मनाया गया अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस

mother-langauge-day-begusaray
अरुण कुमार (आर्यावर्त) गंगा ग्लोबल इंस्टिट्यूट ऑफ टीचर एडुकेशन ने यूनेस्को द्वारा 1999 में बनाये गये तथा विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के पत्र के आलोक में अपनी मातृभाषा के अतिरिक्त अन्य भाषाओं को सीखने के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस मनाया।इस अवसर पर गंगा ग्लोबल बी0एड0 काॅलेज के सत्र 2018-20 के प्रशिक्षुओं ने कार्यक्रम आयोजित किया।बिहार में प्रचलित मातृभाषा का महत्व पर निबंध लेखन प्रतियोगिता के साथ अंगिका, मैथिली, ब्रज और अवधी भाषा में कहानी, गायन व संभाषण की प्रस्तुति की गयी।प्राचार्य डाॅ0 शैलेन्द्र प्रताप दुबे ने अवधी भाषा का प्रयोग किया वहीं सहप्राचार्य डाॅ0 राजेश सिंह ने भागलपूरी अंगिका में तथा प्रो0 रूपेश कुमार ने बेगूसराय की अंगिका में मातृभाषा के प्रभाव और उसका महत्व पर विस्तार से प्रकाश डाला।प्रो0 सुधाकर पाण्डेय ने भी अपने विचार प्रकट किये।प्रशिक्षु रौशन कुमार, दीपक कुमार ने उद्देश्यपरक कहानी सुनाया वहीं कामिनी कुमारी, प्रियंका कुमारी, विकास कुमार तथा प्रो0 राजीव कुमार ने हिन्दी, मैथिली व अंगिका में गायन से मातृभाषा में अभिव्यक्ति का प्रभाव दिखाया।राजा कुमार ने इसके उद्देश्य और महत्व पर आलेख प्रस्तुत किया।कार्यक्रम का संयोजन व संचालन प्रो0 परवेज़ यूसुफ़ ने किया।इस अवसर पर प्रशिक्षुओं के साथ प्रो0 अनामिका, प्रो0 कामायिनी, प्रो0 विपिन कुमार, प्रो0 सूर्यप्रताप, प्रो0 बिनोद, डाॅ0 नीरज, प्रो0 अमर व प्रो0 रश्मि उपस्थित थी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...