राहुल ने मोदी के राज्य में किया चुनावी अभियान का श्रीगणेश - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 14 फ़रवरी 2019

राहुल ने मोदी के राज्य में किया चुनावी अभियान का श्रीगणेश

rahul-starts-election-campaign-in-gujarat
वलसाड (गुजरात), 14 फरवरी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के गृहराज्य गुजरात में आज अपनी पार्टी के चुनावी अभियान की विधिवत शुरूआत करते नोटबंदी, राफेल सौदा, भूमि अधिग्रहण कानून, किसानाें की कर्ज माफी और जीएसटी कर जैसे मुद्दों को लेकर उन पर सीधा हमला बोला और दावा किया कि लोकसभा चुनाव के बाद कांग्रेस की सरकार बनने पर न केवल मौजूदा जीएसटी कानून को बदल कर इसका सरलीकरण किया जायेगा बल्कि गरीबों के खाते में सीधे धन जमा करने संबंधी गारंटी आय योजना को भी लागू किया जायेगा।

श्री गांधी ने दक्षिण गुजरात के आदिवासी बहुल वलसाड जिले के धरमपुर तालुका के लालडुंगरी में आयोजित जनआक्रोश रैली की शुरूआत ही राफेल मुद्दे के साथ की और लोगों से चौकीदार चोर है का नारे भी लगवाये। उन्होंने कहा कि वायु सेना के दस्तावेजों में साफ तौर पर लिखा है कि मोदी जी ने राफेल का सौदा सरकारी क्षेत्र की एचएएल कंपनी से छीन कर 45 हजार करोड़ के कर्जदार अनिल अंबानी को दिला दिया। पूरी देश और दुनिया अब कह रही है कि चौकीदार चोर है पर मोदी जी चुप हैं। जब वह लोकसभा में इस बारे में डेढ़ घंटे तक भाषण दे रहे थे तो ऊपर नीचे इधर उधर हर तरफ देख रहे थे पर मुझसे आंखे नहीं मिला पाये। राफेल सौदे से जुड़े मेरे चार सवालों को जवाब नहीं दे पाये।  कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि सरकार ने केवल राफेल सौदे में ही चोरी नहीं की है। इसने 15 चुनींदा उद्योगपतियों का साढे़ तीन लाख करोड़ का कर्ज माफ कर दिया। अनिल अंबानी 45 हजार करोड, नीरव मोदी और मेहुल चौकसी 35 हजार करोड, विजय माल्या 10 हजार करोड और ललित मोदी हजारो करोड़ रूपये का घपला कर फरार हो गये। पर सरकार गुजरात के अथवा अन्य राज्यों के किसानों का कर्ज माफ नहीं करती। कांग्रेस ने तो वादे के अनुरूप छत्तीसगढ, मध्य प्रदेश और राजस्थान में ऐसा किया। गुजरात के लिए भी हमने पिछले चुनाव में ऐसा वायदा किया था तब भाजपा ने हम पर झूठे वादे का इल्जाम लगाया था। मोदी जी और इन राज्यों के मुख्यमंत्री पहले कहते थे कि किसानों की कर्ज माफी के लिए पैसा नहीं है पर असल में पैसे की कोई कमी नहीं है।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार किसानों और आदिवासियों के मुद्दों से सरोकार नहीं रखती। यह अलग अलग परियोजनाएं भारतमाला, बुलेट ट्रेन और औद्योगिक कारिडोर वगैरह लाती है जिसके खिलाफ कोई नहीं है पर जमीन अधिग्रहण के पहले संबंधित कानून के अनुरूप किसानों और आदिवासियों की अनुमति ली जानी चाहिए और उन्हें बाजार कीमत का चार गुना मुआवजा मिलना चाहिए। अगर पांच साल के भीतर अधिग्रहित जमीन पर कारखाना अथवा परियोजना का काम नहीं हुआ तो इसे आदिवासियों को लौटाना होगा। हमारी छत्तीसगढ़ की भूपेश वघेल सरकार ने इसी के तहत बस्तर जिले में टाटा कंपनी की ओर से अधिग्रहित जमीन किसानों को वापस कर दी। राजस्थान और मप्र में भी भूमि अधिग्रहण कानून के तहत ऐसा किया जा रहा है पर मोदी जी ने तो गुजरात और अन्य राज्यों में इस कानून को लागू ही नही किया। भारत माला परियोजना तो भारत-मारा बन गयी है जिसके तहत जबरन जमीन ली जा रही है।  श्री गांधी ने कहा कि विकास होना है और सड़के बननी चाहिए पर आदिवासियों की, किसानों की आवाज कुचली नहीं जा सकती। उन्होंने नोटबंदी की चर्चा करते हुए भी श्री मोदी पर अपने विशेष लहजे में प्रहार किया। उन्होंने कहा कि अनिल अंबानी या अन्य करोडपति अरबपति नोटबंदी के बाद लाइन में नहीं लगे थे और देश के सारे बेइमानों ने बैंक के पिछले दरवाजे से अपने काले धन को सफेद कर लिया पर सारे आम लोगों ईमानदार लोगों को लाइन में लगा दिया गया। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और जय शाह के बैंक में इस दौरान 700 करोड़ के पुराने नोट बदल लिये गये। इसके बाद गब्बर सिंह टैक्स यानी जीएसटी को लागू कर दिया गया। अरूण जेटली जी ने छोटे कारोबारियों को चोर मान लिया। अगले चुनाव के बाद कांग्रेस की सरकार बनी तो मौजूदा जीएसटी को बदल कर एक कर और सहज यानी सिंपल टैक्स बना दिया जायेगा। 

श्री गांधी ने कहा कि पार्टी पूर्व की श्वेत और हरित तथा कंप्यूटर क्रांति की तर्ज पर एक ऐतिहासिक काम करने जा रही है। इस पर तीन चार माह से योजना बनायी जा रही है। पार्टी देश के गरीब लोगों के लिए आय गारंटी की धारणा लायेगी। सरकार बनने पर ऐसे लोगों के खाते में सीधे एक रकम डाली जायेगी। उन्होंने इस मामले में भी प्रधानमंत्री पर तंज करते हुए कहा कि उन्होंने किसानों के लिए मात्र प्रति दिन तीन रूपया या उनके परिवार के लिए साढ़े सत्रह रूपये देने की अपमानजक घोषणा कर भाजपा से संसद में इतनी ताली बजवायी कि वह हैरान रह गये। श्री मोदी श्री अंबानी के खाते में राफेल सौदे के लिए 30 हजार करोड डालते हैं पर कांग्रेस सीधे गरीबों के खाते में पैसे डालेगी और यह रकम तीन या साढ़े सत्रह रूपये नहीं होगी। श्री गांधी ने कहा कि कांग्रेस लोगों के मन की बात सुनती है और उनके आदेश का पालन करती है न कि भाजपा की तरह केवल अपने मन की बात सुनाती है।  गुजरात की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि राज्य के दो सपूतों सरदार पटेल और महात्मा गांधी ने देश को रास्ता दिखाया था और अब गुजरात पूरे देश काे रास्ता दिखायेगा। वह और अधिक बार गुजरात का दौरा करना चाहेंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा के शासन में गुजरात में किसानों, आदिवासियों और आम लोगों पर दमन हो रहा है जबकि मात्र गिने चुने 15 से 20 लोगों को फायदा पहुंचाया जा रहा है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...