स्वस्थ भारत यात्रा : नाग नदी के तट से शुरू हुआ स्वस्थ भारत यात्रा-2 का दूसरा चरण - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 22 फ़रवरी 2019

स्वस्थ भारत यात्रा : नाग नदी के तट से शुरू हुआ स्वस्थ भारत यात्रा-2 का दूसरा चरण

दूसरे चरण में पांच राज्यों में जनऔषधि, पोषण एवं आयुष्मान पर अलख जगाएंगे स्वस्थ भारत यात्री नागपुर में जनऔषधि केन्द्रों का लिया जायजा, जल्द ही खुलेंगे 3 और केन्द्र यात्री दल ने नागपुर के जीरो माइलस्टोन से दिया स्वास्थ्य का संदेश पहले चरण में पूरी हुई दक्षिण भारत सहित 9 राज्यों की यात्रा, 21 दिनों में हुए 51 आयोजन 21 हजार किमी की यह यात्रा 90 दिनों में होगी पूर्ण देश भर में मिल रहा है यात्रा को अपार समर्थन दूसरे चरण के दूसरे दिन जबलपुर पहुचेगी यात्रा 

swasthy-bharat-yatra-2-2nd-phase
नागपुर 22 फ़रवरी, साबरमती आश्रम से गांधी के स्वास्थ्य चिंतन की धारा को फैलाने के लिए निकले स्वस्थ भारत यात्री दल ने यात्रा का दूसरा चरण नाग नदी के उद्गम स्थल नागपुर से शुरू किया। 20 फरवरी को नागपुर पहुंचे स्वस्थ भारत यात्रा दल ने यहां के प्रभाकर टटके स्मृति अस्पताल में पूअर पीपल्स वेलफेयर सोसायटी के द्वारा संचालित जनऔषधि केन्द्रों का जायजा लिया। इस अवसर पर केन्द्र संचालक नितिन गोथे को स्वस्थ भारत (न्यास) द्वारा आभार पत्र देकर सम्मानित किया गया। नितिन गोथे ने बताया कि जल्द ही शहर में तीन और जनऔषधि केन्द्र उनकी संस्था खोलने जा रही है। इस बावत नगरपालिका से उन्हें स्थान आवंटित हो गया है। इसके पूर्व यात्री दल के सभी सदस्य भौगोलिक रूप से महत्वपूर्ण माने जाने वाले जीरो माइलस्टोन पर गए और यहां से देश के लोगों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहने का संदेश दिया। 

swasthy-bharat-yatra-2-2nd-phase
स्वस्थ भारत यात्रा के दूसरे चरण की जानकारी देते हुए यात्रा प्रमुख आशुतोष कुमार सिंह ने बताया कि इस चरण में यात्रा नागपुर से शुरू होकर जबलपुर, रायपुर, बस्तर, बिलासपुर, संबलपुर, कटक, भूवनेश्वर, कोलकाता, रांची, जमशेदपुर, धनबाद, पांकुड़ होते हुए सिलीगुड़ी तक जायेगी और स्वस्थ भारत के तीन आयामः जनऔषधि पोषण एवं आयुष्मान के बारे में लोगों को जागरूक किया जाएगा। प्रथम चरण की उपलब्धियों के बारे में बताते हुए आशुतोष ने बताया कि दक्षिण भारत जैसे अहिंदी प्रदेशों में भी आम जनता तक यात्रा के संदेश को आसानी से फैलाने में हमें कामयाबी मिली। इस दौरान 9 राज्यों में 51 छोटे-बड़े आयोजन आयोजित किए गए, जिनमें सभी वर्ग के लोगों ने अपनी हिस्सेदारी निभाई।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...