दरभंगा : एकबार फिर अशांति फैलाने का किया गया प्रयास - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 13 फ़रवरी 2019

दरभंगा : एकबार फिर अशांति फैलाने का किया गया प्रयास

try-to-violant-darbhanga
दरभंगा (ज़ाहिद अनवर राजु) अमन और शांति  की प्रतीक शहर,दरभंगा ज़िला को कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा बार बार अशांत करने का असफल प्रयास किया जा रहा है। शांतिप्रिय लोगो के समझ मे आ रहा है कि चुनाव नजदीक है जिसके कारण माहौल बिगाड़ने की कोशिश की जा रही है। ताज़ा घटना दरभंगा ज़िला के सदर थाना क्षेत्र से जुड़ा है। मब्बी ओपी के करकौली गांव में एक धार्मिक स्थल के पास आपत्तिजनक सामग्री फेके जाने से बुधवार की सुबह लोगों में काफी आक्रोश फूट पड़ा। दूसरे पक्ष पर आपत्तिजनक सामग्री फेंके जाने का आरोप लगाते हुए जुटी भीड़ ने जमकर बवाल खड़ा कर दिया।जिसमें जमकर रोड़ेबाजी शुरू हो गई। घटना की सूचना मिलते ही आसपास के आधे दर्जन थाने की पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस को देख कर लोग आक्रोशित हो गये और पुलिस पर ही पथराव करते हुए उन्हें खदेड़ दिया। बाद में स्थिति की गंभीरता को देखते हुए दरभंगा जिलाधिकारी त्यागराजन एस एम और एसएसपी बाबूराम ने भारी संख्या में पुलिस बल,दंगा नियंत्रणबल के साथ मौके पर पहुँच कर हल्का बल प्रयोग करते हुए मामले को नियंत्रित किया। पूरा इलाका पुलिस छावनी में तब्दील हो गया। दोनों पक्षों के बीच आपसी सौहार्द बनाने के लिए जिला शांति समिति के साथ साथ गणमान्य लोग स्थानीय लोगों को समझाने में लगे हुए हैं। इस बावत वरीय पुलिस अधीक्षक बाबूराम ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि पूरे घटना में 5 पुलिसकर्मी सहित 2 दर्जन से अधिक लोग घायल हुए है। जिनका ईलाज स्थानीय नर्सिंग होम व डीएमसीएच में कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि घटना को लेकर पुलिस द्वारा प्राथमिक दर्ज की जा रही है। जिसमें कई नामजद अभियुक्त सहित अज्ञात लोग भी शामिल हैं। वरीय पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पूरे घटनाक्रम पर जिला व पुलिस प्रशासन नजर रखें हुए है। उन्होंने कहा कि आपसी सौहार्द बिगाड़ने वाले को किसी भी हाल में बख्शा नहीं जाएगा। वहीं आपत्तिजनक सामग्री फेंके जाने से लेकर पत्थरबाज़ी करने वाली घटना की पुलिस गहराई से जांच कर रही है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...