अमेरिका ने अपने नागरिकों को पाकिस्तान ना जाने की सलाह दी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 14 फ़रवरी 2019

अमेरिका ने अपने नागरिकों को पाकिस्तान ना जाने की सलाह दी

usa-suggest-citizen-not-to-go-pakistan
वाशिंगटन, 14 फरवरी, अमेरिका ने मुख्य रूप से आतंकवाद और पाकिस्तान के भीतर या उसके समीप नागरिक विमानों को होने वाले खतरे के कारण अपने नागरिकों से एशियाई देश की यात्रा पर पुनर्विचार करने का अनुरोध किया है। संघीय विमानन प्रशासन ने बुधवार को जारी एक नोटिस में कहा कि आतंकवादी समूह पाकिस्तान में संभावित हमलों की योजना बना रहे हैं। विदेश मंत्रालय ने अपने ताजा यात्रा परामर्श में कहा, ‘‘आतंकवाद के कारण पाकिस्तान की यात्रा पर पुन: विचार करें।’’  उसने अमेरिकी नागरिकों से आतंकवाद और सशस्त्र संघर्ष की संभावना के कारण पूर्व संघीय प्रशासित जनजातीय इलाकों (एफएटीए) और कश्मीर के पाकिस्तान के कब्जे वाले हिस्से समेत बलूचिस्तान तथा खैबर पख्तूनख्वा प्रांत की यात्रा ना करने के लिए कहा है। मंत्रालय ने कहा कि आतंकवादी समूह पाकिस्तान में हमलों की योजना बना रहे हैं। आतंकवादी परिवहन के हब, बाजार, शॉपिंग मॉल, सैन्य प्रतिष्ठानों, हवाईअड्डों, विश्वविद्यालयों, पर्यटक स्थलों, स्कूलों, अस्पतालों, प्रार्थना स्थलों और सरकारी केंद्रों को निशाना बना सकते हैं। उसने कहा कि पिछले कई वर्षों में बड़े पैमाने पर आतंकवादी हमलों से सैकड़ों लोग घायल हुए हैं।  अपने नागरिकों से कश्मीर के पाकिस्तान के कब्जे वाले हिस्से में ना जाने का अनुरोध करते हुए विदेश मंत्रालय ने कहा कि ऐसा पता चला है कि इलाके में आतंकवादी समूह सक्रिय हैं। उसने कहा, ‘‘भारत और पाकिस्तान के बीच सशस्त्र संघर्ष का खतरा बना हुआ है। भारत और पाकिस्तान की सेनाओं के बीच नियंत्रण रेखा पर बार-बार गोलीबारी होती है।’’ 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...