विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 04 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 4 फ़रवरी 2019

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 04 फ़रवरी

पेयजल के पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित करें-प्रभारी मंत्री श्री हर्ष यादव
प्रभारी मंत्री की अध्यक्षता में जिला योजना समिति की बैठक सम्पन्न
vidisha news
कुटीर एवं ग्रामोद्योग नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री श्री हर्ष यादव की अध्यक्षता में जिला योजना समिति की बैठक आज जिला पंचायत के सभागार कक्ष में आयोजित की गई थी। बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी, विधायक सर्वश्री शशांक भार्गव, श्री हरि सिंह सप्रे, श्री उमाकांत शर्मा, श्रीमती लीना जैन, प्रतिनिधि श्री रूद्रप्रताप सिंह के अलावा समिति के अन्य सदस्यगण तथा कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री विनायक वर्मा समेत विभिन्न विभागों के जिलाधिकारी समस्त एसडीएम, जनपद सीईओ और निकायों के अधिकारी मौजूद थे।  प्रभारी मंत्री श्री हर्ष यादव ने कहा कि ग्रीष्मकाल के दौरान पेयजल की आपूर्ति सतत बनी रहे के पुख्ता प्रबंध अभी से सुनिश्चित किए जाएं। उन्होंने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के माध्यम से पेयजल के लिए किए जा रहे प्रबंधो की समीक्षा की।  प्रभारी मंत्री श्री यादव ने कहा कि प्रत्येक ग्राम पंचायतों में जनप्रतिनिधियों के माध्यम से टंेकर उपलब्ध कराए गए है जिनका दुरूपयोग ना हो का विशेष ध्यान ग्रीष्मकाल के दौरान रखा जाए। मंत्री श्री यादव ने टेंकरो को जनपदो के सीईओ के नियंत्रण में टंेकर संधारित करने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि बिजली आपूर्ति से एक भी नलजल योजना बंद ना रहें। ऊर्जा विभाग संयुक्त रूप से इस ओर विशेष ध्यान दें।  पेयजल की समस्याओं की प्राप्ति हेतु जिला मुख्यालय के साथ-साथ खण्ड मुख्यालयों पर कंट्रोल रूम स्थापित करने, बिगडे़ हैण्डपंपो का तीन दिवस के भीतर मरम्मत कार्य पूर्ण करने तथा ऐसे हेण्डपंप जिनमंे सिंगल फेस की मशीन डालने से जल की आपूर्ति बनी रह सकती है उनका चिन्हांकन कर शीघ्रतिशीघ्र सिंगल फेस की मशीन का संचालन कराया जाए। बिगडे हेण्ड पंपो की सूचना प्राप्ति के उपरांत सुधार हेतु हेण्डपंपो मैकेनिकों को अविलम्ब जानकारी मिले इसके लिए पृथक से नेटवर्क संचालित करने के निर्देश दिए गए है। इस दौरान लोक स्वास्थ्य यांत्रिकीय विभाग के माध्यम से खनन कराए जाने वाले हेण्डपंपो के संबंध में निर्देश दिए गए है कि जनप्रतिनिधियों की सहमति से संबंधित ग्रामो मंे हेण्उ पंप खनन का कार्य कराया जाए। इस दौरान विकासखण्डवार स्थापित हेण्डपंप, नलजल योजना और क्रियाशीलों की जानकारी दी गई वही प्रगतिरत नलजल योजना को पूर्ण कराने की समयावधि से अवगत कराया गया। प्रभारी मंत्री श्री हर्ष यादव ने राजस्व कार्यो की समीक्षा के दौरान कहा कि पटवारी किन-किन ग्रामों में किस दिन उपलब्ध रहेंगे की सूचना दीवारो पर अंकित की जाए साथ ही साथ उनके मोबाइल नम्बर भी प्रदर्शित किए जाएं। उन्होंने गिरदावरी के संबंध में पटवारी खेतों पर पहुंचकर मौका मुआयना उपरांत ही गिरदावरी में लगाई गई फसल की जानकारी अंकित करें। सीमांकन के कार्यो को सर्वोच्च प्राथमिकता से समयावधि में पूरा कराया जाएं। इस दौरान अविवादित और विवादित मामलों के सीमांकन हेतु निर्धारित मापदण्ड प्रक्रिया से अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा ने अवगत कराया। इस दौरान कुरवाई विधायक श्री हरिसिंह सप्रे ने कम्प्यूटर रिकार्ड में दर्ज लिपिकीय त्रुटियों पर सुधार पर बल दिया। ततसंबंध में प्रभारी मंत्री ने इस प्रकार की त्रुटियों को अविलम्ब ठीक कराने के निर्देश दिए है। प्रभारी मंत्री श्री यादव ने प्रत्येक ग्राम पंचायत में गौशाला संचालन हेतु शासन की मंशा के अनुरूप भूमि आरक्षित करने के संबंध में अब तक की गई कार्यवाही की भी बिन्दुवार जानकारी प्राप्त की। प्रभारी मंत्री श्री हर्ष यादव ने जय किसान फसल ऋण माफी योजना के माध्यम से सम्पादित किए जाने वाले कार्यो की भी गहन समीक्षा की। उन्होंने कहा कि शासन की मंशा के अनुरूप सुपात्र हितग्राहियों को ही उक्त योजना के तहत लाभंावित किया जाए। पात्र छूटे ना और अपात्र जुडे़ ना का पूरा ध्यान रखा जाए। इसके लिए उन्होंने मानिटरिंग हेतु गठित जिला स्तरीय समिति के सदस्यों की महती भूमिका को रेखांकित किया। इस दौरान बताया गया कि तहसील स्तर पर गठित समितियां सबसे पहले प्राप्त होने वाले शिकायतो का निदान करती है इसके पश्चात् लंबित रहती है तो उसकी मानिटरिंग जिला स्तरीय समिति द्वारा की जाती है। जय किसान फसल ऋण माफी योजना के शिकायतों की प्राप्ति हेतु जिला स्तर पर कंट्रोल रूम संचालित किया जा रहा है जिसका दूरभाष क्रमांक 07592-233153 है। उक्त नम्बर पर योजना संबंधी किसी भी प्रकार की शिकायत दर्ज कराई जा सकती है। इस दौरान बतलाया गया कि 15 जनवरी को बकाया ऋण धारकों की सूची प्रदर्शित की जा चुकी है आधार सीडेड ऋण खातो की हरी सूची एवं गैर आधार सीडेड ऋण खातो की सफेद सूची के संबंध में विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई। इस दौरान बताया गया कि जिला स्तरीय समिति द्वारा स्वीकृत प्रकरणों में ऋण माफी की राशि 22 फरवरी से ऋण खातो में जमा कराने का कार्य प्रारंभ किया जाएगा। लाभांवित किसानों को एसएमएस से सूचना देेने के अलावा फसल ऋण माफी प्रमाण पत्र, किसान सम्मान प्रदान किए जाएंगे। लाभंावित किसानों की सूची बैंक शाखा और ग्राम पंचायत में भी चस्पा की जाएगी। इस दौरान बताया गया कि बैंक द्वारा पोर्टल पर अब तक दो लाख 52 हजार 525 आवेदनों को अपडेट किया जा चुका है। इस दौरान जय किसान फसल ऋण माफी योजना के संबंध में प्राप्त होने वाली शिकायतो की मानिटरिंग के लिए गठित क्रियान्वयन समिति के सदस्यों, दायित्व और कार्यो से भी अवगत कराया गया। टोल फ्री नम्बर पर शिकायत प्राप्त होने पर उसे आॅन लाइन प्रदर्शित किया जा रहा है। कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने कहा कि ऐसी समितियां जहां किसानों के ऊपर फर्जी ऋण दर्ज करने की शिकायते प्राप्त हो रही है उनकी जांच हेतु जिला स्तर पर पृथक से समिति गठित की गई है और जांच में यदि त्रुटि पाई जाती है तो संबंधित के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के साथ-साथ कठोर कार्यवाही की जाएगी। जिला योजना समिति की बैठक में स्वास्थ्य कार्यो की भी समीक्षा की गई जिसमें डाक्टरों की उपस्थिति सुनिश्चित कराने, मीजल्स रूबेला अभियान के तहत सम्पादित टीकाकरण कार्य की बिन्दुवार जानकारी दी गई। इस दौरान विदिशा विधायक श्री शशांक भार्गव ने जिला चिकित्सालय में इलाज के दौरान बरती जा रही लापरवाहियों को रेखांकित करते हुए मरीजों को भोपाल रेफर करने के संबंध में श्रीमती कंचन तिवारी के प्रकरण को रेखांकित किया।  प्रभारी मंत्री श्री हर्ष यादव ने सभी अधिकारियों को सचेत करते हुए कहा कि आमजन अपनी समस्याओं के निदान हेतु भटके ना का विशेष ध्यान अधिकारी रखेगे। उन्होंने कहा कि तहसील स्तरीय समस्या तहसील स्तर पर ही हल हो। ग्राम स्तरीय अमला अपने मुख्यालय पर रहना सुनिश्चित करें। प्रभारी मंत्री श्री यादव ने कलेक्टर को निर्देश दिए कि सभी अधिकारी, कर्मचारियों के मुख्यालय निवास की प्रमाणिक जानकारियां प्राप्त कर औचक निरीक्षण कराएं। उन्होंने कहा कि अधिकारी, कर्मचारी मधुर व्यवहार, कार्यो को शीघ्र सम्पादित करने की छवि से जाने जाएं। 

यातायात का संदेश रैली से 

यातायात नियमों एवं सड़क सुरक्षा के प्रति सजगता बढ़ाने हेतु जिले में यातायात सप्ताह का आयोजन आज से शुरू हुआ। वाहन चालको को यातायात नियमों की जानकारी दी गई। सीएसपी श्री भारतभूषण ने नीमताल पर जनजागरूता रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था। रैली मुख्य मार्ग से होते हुए माधवगंज पर सम्पन्न हुई जबकि मोटर साइकिल रैली शहर के प्रमुख मार्गो से होते हुए विवेकानंद चैराह (ईदगाह) पर सम्पन्न हुई। पैदल रैली में एनसीसी कैडेटो के हाथो में यातायात सुरक्षा के संदेशों की जानकारीयुक्त तख्तियां थी। इसी प्रकार मोटर साइकिल सवारों के यातायात नियमों का पालन करें, सावधानी रखे, दुर्घटना से बचें, सुरक्षित रहें इत्यादि को रेखांकित करने वाली तख्तियां हाथो में थी। 

कलेक्टर कांफ्रेस आज

भोपाल संभागायुक्त श्रीमती कल्पना श्रीवास्तव की अध्यक्षता में कलेक्टर कांफ्रेस का आयोजन पांच फरवरी को किया गया है। समीक्षात्मक बैठक कमिश्नर कार्यालय भोपाल के सभाकक्ष में प्रातः 11 बजे से शुरू होगी। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...