विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 23 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 23 फ़रवरी 2019

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 23 फ़रवरी

ओला प्रभावित ग्रामों का दौरा विधायक शशांक भार्गव ने प्रभावित कृषको को हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया।

vidisha news
विदिशा:- विधायक शशांक भार्गव द्वारा ओलावृष्टि से प्रभावित ग्राम अटारीखेजड़ा, दीघोरा, सुआखेडी, सिमरहार, मढीपुर, नादौर, अम्बार, रामगढ़चक्क, नौलास, महुआखेडा, खेजडापडरात एवं मोहाना आदि ग्रामों का दौरा कर ओलावृष्टि से हुई फसलों को भारी क्षति के संबंध में मौके पर पहुॅचकर क्षति का जायजा लिया एवं प्रभावित कृषकों से चर्चा की उन्हांेने कहा कि वास्तव में किसानों को काफी अधिक नुकसान हुआ है, किसान भाईयो को आश्वस्त किया कि म.प्र. की कांग्रेस सरकार किसानांे के हित में संकट की घडी में हर संभव मदद करेगी, जो भी फसल का नुकसान हुआ है उसका सर्वे मौके पर राजस्व विभाग के अमले द्वारा किया जायेगा। इसमें पेंसिल का उपयोग न करते हुये ईंन्क पेन के माध्यम से ही क्षति का आंकलन दर्ज किया जायेगा किसी भी किसान के साथ राहत राशि में सर्वे कार्य में किसी भी प्रकार का कोई भेदभाव या अनियमितता नहीं वर्ती जायेगी, फसलों को हुये नुकसान के प्रभावित कृषकों को यथाशीघ्र सभी को शासन स्तर से मदद मिलेगी, साथ ही विधायक शशांक भार्गव द्वारा प्रभावित किसानों केा आश्वस्त किया गया एवं संबंधित अधिकारियों, पटवारियों को निर्देश दिये कि मौके पर ही खेत पर पहुॅचकर संबंधित प्रभावित कृषक के समक्ष फसलों को हुई क्षति का सर्वे पेन से दर्ज किया जाये एवं विधायक शशांक भार्गव ने किसानों को आश्वस्त किया कि त्रुटीवश या जानबूझकर आपके नाम छोडें जाते है, तो आप हमे सूचित करे, आपकी समस्या का ईमानदारी से समाधान होगा। सभी को क्षति की शतप्रतिशत मुआबजा राशि प्रदान किये जाने के संबंध में यथाशीघ्र कार्यवाही होगी।  प्रभावित ग्रामों के दौरे के समय एसडीएम ग्यारसपुर एवं तहसीलदार एवं संबंधित क्षेत्रों के पटवारियों सहित कृषि विभाग के अधिकारी/कर्मचारी भी उपस्थित थे, साथ ही दौरा कार्यक्रम में मुख्यरूप से विधायक प्रतिनिधिगण अनुज लोधी, दीवान किरार, देवेन्द्रसिंह दांगी एवं सुरेन्द्र लोधी, संतोष गुर्जर, भैयालाल लोधी, बलरामसिंह लोधी, गगन गुर्जर, नवीन श्रीवास्तव, देवेन्द्र राजपूत, खिलानसिंह, पहाडसिंह रघुवंशी, चंद्रपाल, अशोक राजपूत, दयाल रघुवंशी, मोहरसिंह लोधी, मोहनबाबू, हेमराज चैकसे आदि उपस्थित रहे।

बीमित फसलों में ओला से नुकसान की सूचना बीमित कंपनी को दंे

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना अंतर्गत रबी मौसम 2018-19 हेतु गेहूं सिंचित, चना एवं मसूर फसलों का जिन कृषकों के द्वारा फसल बीमा कराया गया है उनकी फसलों में यदि ओलावृष्टि के कारण नुकसान हो तो इसकी सूचना 72 घंटे के अंदर क्षेत्रीय प्रबंधक, एग्रीकल्चर इन्श्योरेन्स कंपनी आफ इंडिया लिमिटेड भोपाल, जिला प्रशासन, राजस्व विभाग, कृृषि विभाग, फसल बीमा कंपनी के टोल फ्री नम्बर 18001030061 पर नुकसान संबंधी सूचना दें। ताकि बीमा कंपनी द्वारा आंकलन प्रतिनिधि नियुक्त कर उनसे नुकसान प्रतिशतता का निर्णय प्रभावित क्षेत्र के नमूना सर्वेक्षण की अपेक्षितता के आधार पर कराया जाकर योजनानुसार कार्यवाही की जाएगी।  

अपर कलेक्टर श्री वर्मा भारमुक्त हुए
कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा का स्थानांतरण हो जाने के कारण श्री वर्मा को आज भारमुक्त करने के आदेश जारी कर दिए है। जारी आदेशानुसार अपर कलेक्टर का प्रभार जिला पंचायत सीईओ डाॅ पंकज जैन को सौंपा गया है। 

मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन हुआ, 17984 मतदाता बढे़

एक जनवरी 2019 के मान से फोटो निर्वाचक नामावली 2019 के विशेष संक्षिप्त पुर्नरीक्षण कार्यक्रम अनुसार विदिशा जिले की पांचो विधानसभाओं की मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन 22 फरवरी शुक्रवार को किया गया है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी के द्वारा मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन किया गया है। तुलनात्मक पत्रक अनुसार 26 दिसम्बर 2018 की स्थिति में जिले में कुल मतदाताओं की संख्या 967879 थी जबकि जारी कार्यक्रम अनुसार 22 फरवरी 2019 तक मतदाताओं की संख्या बढ़कर 985863 हो गई है अर्थात जिले की पांचो विधानसभाओं में कुल 17984 मतदाता बढ़े है। जिसमें पुरूष 9535 एवं महिला मतदाताओं की संख्या 8452 है जबकि अन्य मतदाताओं की संख्या गतवर्ष 12 थी जबकि वर्ष 2019 में यह संख्या 11 हो गई है।ं

बोर्ड परीक्षाओं में परीक्षार्थी 15 मिनिट पहले तक ही प्रवेश पा सकेंगे, केन्द्राध्यक्ष परीक्षा के मापदण्डों से अवगत हुए

जिले में हायर सेकेण्डरी, हाई स्कूल बोर्ड परीक्षा को निर्विध्न रूप से सम्पन्न करने हेतु किए गए प्रबंधों की समीक्षा की गई वही नियुक्त केन्द्राध्यक्षों को माध्यमिक शिक्षा मण्डल के द्वारा जारी परीक्षा संबंधी दिशा निर्देशों से भलीभांति अवगत कराया गया है।  हायर सेकेण्डरी, हाई स्कूल बोर्ड परीक्षा में नियत तिथि को परीक्षा प्रारंभ होने पर प्रातः 8.45 बजे तक ही परीक्षार्थियों को परीक्षा केन्द्र में प्रवेश दिया जाएगा अर्थात प्रातः पौने नौ बजे के पश्चात् आने वाले परीक्षार्थियों को परीक्षा में बैठने की पात्रता नही होगी। परीक्षा प्रारंभ होने के दस मिनिट पूर्व उत्तरपुस्तिका एवं इसके पांच मिनिट पश्चात प्रश्न पत्र दिया जाएगा। ज्ञातव्य हो कि हायर सेकेण्डरी एवं हाई स्कूल बोर्ड परीक्षाएं एक मार्च से प्रारंभ हो रही है दोेनो बोर्ड परीक्षाओं का समय प्रातः नौ बजे से अपरान्ह 12 बजे तक का समय नियत किया गया है। छात्र-छात्राओं की तलाशी का कार्य शालीनता किन्तु दृढता से किया जाए। छात्राओं की तलाशी का कार्य महिला शिक्षिका द्वारा ही किया जाएगा।  जिला पंचायत सीईओ डाॅ पंकज जैन ने शनिवार को विदिशा जिले में बोर्ड परीक्षाओं को सम्पन्न कराने हेतु नियुक्त केन्द्राध्यक्षों की बैठक आहूत की। उन्होंने संबंधितों से कहा कि बोर्ड द्वारा परीक्षा के संबंध मंे जारी दिशा निर्देशो का अक्षरशः पालन करना सुनिश्चित करें। किसी भी प्रकार की शंका हो तो उसका समाधान प्राप्ति के उपरांत ही मीटिंग हाल को छोडे़।  जिला पंचायत के सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई उक्त बैठक के संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी श्री एचएन नेमा ने माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा परीक्षा के संबंध में जारी दिशा निर्देशो से अवगत कराते हुए बताया कि जिले में हाई स्कूल उच्चतर माध्यमिक बोर्ड परीक्षा नकलरहित रहें इसके लिए व्यापक प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। जिले में गठित 72 परीक्षा केन्द्रों पर केन्द्राध्यक्ष एवं सहायक केन्द्राध्यक्ष की नियुक्ति के लिए आॅन लाइन प्रविष्टियां कर दी गई है जिले में हाई स्कूल में 23434 तथा हायर सेकेण्डरी की बोर्ड परीक्षा में 14036 परीक्षार्थी शामिल होंगे। जिले के चार परीक्षा केन्द्र संवेदनशील तथा 14 अतिसंवेदनशील है। प्रत्येक अतिसंवेदनशील परीक्षा केन्द्र पर चार-एक का गार्ड पुलिस नियुक्त किए जाएंगे। जिन केन्द्रों पर निजी स्कूलों के परीक्षार्थी परीक्षा देने आएंगे। उक्त केन्द्रों को अतिसंवेदनशील की श्रेणी में रखा गया है।  प्रत्येक परीक्षा केन्द्र के बाहर सूचना पटल पर केन्द्र में शामिल होने वाले विद्यालयों के नाम व रोल नम्बर प्रदर्शित किए जाएंगे। निर्धारित प्रक्रिया अनुसार पुलिस थाने से प्रश्न पत्र कलेक्टर द्वारा नियुक्त प्रतिनिधि की उपस्थिति में ही निकाले जाएंगे। कलेक्टर प्रतिनिधि की अनुपस्थिति में प्रश्न पत्र निकालने की कार्यवाही कदापि नही की जाएगी। केन्द्राध्यक्ष, सहायक केन्द्राध्यक्ष प्रतिदिन प्रश्न पत्र के पैकेट स्वंय निकालते समय थाने में रखी अभिरक्षा पंजी क्रमांक-एक एवं परीक्षा केन्द्र पर रखी पंजी क्रमांक-दो पर यथा स्थान प्रविष्टियां कर हस्ताक्षर करना सुनिश्चित करेंगे। प्रश्न पत्रों के बक्सों में दो मजबूत ताले रहेगे। एक ताले की चाबी केन्द्राध्यक्ष एवं दूसरे ताले की चाबी सहायक केन्द्राध्यक्ष के पास रहेगी तथा बाक्स को प्रतिदिन शील्ड किया जाएगा। जिले में नियुक्त समस्त केन्द्राध्यक्षों को प्रश्न पत्र वितरण हेतु सीलबंद पैकेट का पंचनामा बनाकर खोलने से पूर्व केन्द्राध्यक्ष, सहायक केन्द्राध्यक्ष एवं पर्यवेक्षक व अन्य स्टाफ के मोबाइल फोन एकत्रित कर अलमारी में सीलबंद कराए जाएंगे एवं परीक्षा केन्द्र पर परीक्षार्थियों को मोबाइल फोन ना लाने हेतु नोटिस बोर्ड पर सूचना चस्पा कराई जाएगी। हाई स्कूल एवं हायर सेकेण्डरी परीक्षाओं के दृष्टिहीन, मूकबाधिर एवं अन्य परीक्षाओं के प्रश्न पत्र अलग-अलग पेटी में रखवाए जाएंगे। उस पर परीक्षाओं का नाम बडे-बडे अक्षरो मेें लिखा जाएं। परीक्षा केन्द्र पर परीक्षा के दौरान कोई भी अनाधिकृत व्यक्ति कर्मचारी उपस्थित नही रहेगा। यदि कोई व्यक्ति अनाधिकृत रूप से नकल कराने का प्रयास कराता है तो उसके विरूद्व परीक्षा अधिनियम 1937 की धाराओं के तहत पुलिस में एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। निर्धारित परीक्षा केन्द्र के सौ मीटर के आसपास कोई भी अनाधिकृत व्यक्ति प्रवेश ना करें। इसके लिए सौ मीटर के दायरे में चूना की लाइन अथवा बेरीकेट्स लगाकर चिन्हित किया जाएगा। परीक्षा के उपरांत परीक्षार्थियों से उत्तरपुस्तिका लेने के उपरांत ही परीक्षार्थियों को एक ही गेट से बाहर जाने के संबंध में प्रायोगिक जानकारी दी गई।

जय किसान फसल ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरण कार्यक्रम जारी, कलेक्टर द्वारा तैयारियों की समीक्षा
 
जय किसान फसल ऋण माफी प्रमाण पत्र, किसान सम्मान पत्र वितरण कार्यक्रम का आयोजन जिले की सभी तहसीलों में किया जाएगा। उक्त आयोजन हेतु तिथि व समयवार कार्यक्रम जारी किया जा चुका है।  कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने शनिवार को जिला पंचायत के सभागार कक्ष में जय किसान फसल ऋण माफी प्रमाण पत्र एवं सम्मान पत्र वितरण हेतु किए जा रहे प्रबंधों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के प्रमुख सचिव के द्वारा जारी दिशा निर्देशों का अनुपालन करते हुए वितरण की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए।  जय किसान फसल ऋण माफी प्रमाण पत्र, किसान सम्मान पत्र वितरण कार्यक्रम केे संबंध में बताया गया कि विदिशा तहसील में ततसंबंधी कार्यक्रम 25 फरवरी को आयोजित किया गया हैै। उक्त कार्यक्रम पुरानी कृषि उपज मंडी विदिशा में अपरान्ह 12 बजे से शुरू होगा। 26 फरवरी को बासौदा एवं नटेरन में आयोजित किया गया है जिसके अनुसार लाल परेड ग्राउण्ड तहसील परिसर बासौदा में प्रातः 11 बजे से तथा पुलिस ग्राउण्ड नटेरन में दोपहर एक बजे से आयोजित किया गया है। 27 फरवरी को शमशाबाद एवं सिरोंज तहसील में एक साथ आयोजित किया गया है। शमशाबाद में हायर सेकेण्डरी स्कूल बिछिया में दोपहर दो बजे से तथा कृषि उपज मंडी सिरोंज में तीन बजे से, 28 फरवरी को लटेरी एवं त्योंदा तहसील में आयोजित किया गया है। कृषि उपज मंडी लटेरी में प्रातः 11 बजे से, काजी मार्केट के सामने त्योंदा में दोपहर एक बजे से आयोजित किया गया है। जय किसान फसल ऋण माफी प्रमाण पत्र, किसान सम्मान पत्र वितरण के अंतर्गत एक मार्च को क्रमशः गुलाबगंज, ग्यारसपुर, पठारी एवं कुरवाई चारो तहसीलो में एक साथ आयोजित किया गया है। जारी कार्यक्रम अनुसार एक मार्च की प्रातः 11 बजे से कृषि उपज मंडी गुलाबगंज में, दोपहर एक बजे से तहसील परिसर ग्यारसपुर में, दोपहर तीन बजे से कृषि उपज मंडी पठारी में तथा शाम छह बजे से बस स्टेण्ड के पास कुरवाई में उपरोक्त कार्यक्रम का आयोजन किया गया है।

बेटी बचाओं, बेटी पढ़ाओ योजनातंर्गत बालिका कबड्डी का हुआ आयोजन
 
vidisha news
जिला खेल और युवा कल्याण विभाग विदिशा एवं महिला बाल विकास विभाग के तत्वाधान में बेटी बचाओं, बेटी पढ़ाओ योजनातंर्गत बालिकाओं को सशक्त बनाने हेतु बालिका कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसमें बालिकाओं की दस टीमें सम्मिलित हुई। खेल प्रतियोगिता का शुभांरभ जिला खेल अधिकारी सुश्री पूजा कुरील एवं केन्द्रीय विद्यालय की खेल प्रभारी श्रीमती रंजना वर्मा ने दोनो टीमों से परिचय प्राप्त कर किया। कार्यक्रम के समापन अवसर पर महिला एवं बाल विकास अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे, श्रीमती रंजना वर्मा, श्री भूपेन्द्र शर्मा, श्री अविनाश स्नेहा, श्री अभिनव सिंह राजपूत एवं आरती शर्मा आदि उपस्थित रहें। जिन्होंने विजेता और उपविजेता टीमों को पुरस्कार वितरण करते हुए सम्मिलित होने वाली बालिका टीमो की पढ़ाई के साथ-साथ हमेशा खेलों में आगे बढ़ने की अपील की और जीवन में खेलों के महत्व को बताया। आज के आयोजन में जिला खेल परिसर, स्टेडियम की बालिका टीम ने केन्द्रीय विद्यालय की बालिका टीम को हराकर प्रथम स्थान प्राप्त किया।  इस अवसर पर विगत दिनों बास्कोडिगामा में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय थाई बाक्सिंग प्रतियोगिता में 60 किलोग्राम में कांस्य पदक विजेता श्री सुरेन्द्र यादव को भी सम्मानित किया गया। इस अवसर पर विभाग की प्रशिक्षक श्रीमती ज्योति ठाकुर, श्री हनीफ खाॅन, श्री अरविन्द ठाकुर, श्री भूपेन्द्र शर्मा, श्री सुरन्द्र पहलवान, श्री दर्शन दुबे, श्री अजय श्रीवास्तव, श्री अजय चैहान, श्री योगेश धुर्वे, श्री धीरेन्द्र मिश्रा, श्री संतोष शाक्य, श्री सोनू शाक्य आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन एवं आभार व्यक्त समन्वयक मो हनीफ खान ने किया।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...