पूर्णियां :समाजसेवी ने शहर की समस्याओं पर पदाधिकारियों का कराया ध्यान आकृष्ट - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 28 मार्च 2019

पूर्णियां :समाजसेवी ने शहर की समस्याओं पर पदाधिकारियों का कराया ध्यान आकृष्ट

attention-for-city-issue-madhubaniपूर्णिया : शहरवासी कई मुख्य समस्याओं से जूझ रहे हैं लेकिन इस दिशा में जो सार्थक प्रयास होने चाहिए वो नहीं हो रहा है। उक्त बातें समाजसेवी सोनी सिंह ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा। उन्होंने जिले के पदाधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराते हुए कहा कि आजतक शहरवासियों को जाम की समस्या से निजात नहीं मिल पाया है। हर चौक चौराहे पर जाम से लोगों की परेशानी बढ़ गई है। जो मंजिल आधे घंटे में तय होती है उसे पूरा करने में एक घंटे से अधिक का समय लगाना पड़ता है। वहीं दूसरी ओर बिहार टॉकीज रोड, मधुबनी माता स्थान जाने वाली सड़क पर धूल के कारण राहगीरों को एवं स्थानीय दुकानदारों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। इन सड़कों के निर्माण कार्य की शुरूआत नहीं हो पाई है। वहीं दूसरी ओर सड़कों पर सरपट दौड़ रहे वाहनों पर भी उन्होंने नकेल कसने की आवाज उठाई है। उन्होंने कहा कि आज के दौर में युवा चालक, ट्रैक्टर चालक हो या अन्य वाहन चालक तेज रफ्तार के कारण आए दिन दुर्घटना के शिकार हो रहे हैं। इस पर परिवहन विभाग लगाम नहीं लगा पा रहा है। निजी स्कूलों के बारे सोनी सिंह ने कहा कि अभिभावकों का शोषण निजी स्कूलों में तरह तरह के फीस के जरिये हो रहा है। इस पर पदाधिकारी से लेकर जनप्रतिनिधि तक चुप्पी साधे हैं और अभिभावकों की लाचारी का फायदा उठाकर उन्हें शोषित किया जाता है। सरकारी स्कूलों में पढ़ाई नगण्य है। गरीब बच्चों को शिक्षा से दूर किया जा रहा है। शहर में मुख्य नाला नहीं रहने के कारण कई जगहों से दुर्गंध आती है। जो कि उस रास्ते से गुजरना मुश्किल हो जाता है और नाक पर हाथ रखकर गुजरने को मजबूर हो जाते हैं। विद्युत विभाग की लापरवाही के कारण बीच सड़क पर पोल का होना एवं जर्जर तार से शहरवासियों को काफी दिक्कत महसूस करना पड़ता है। विद्युत विभाग की लापरवाही के कारण लगातार जर्जर तार से शहर में बिजली गुल रहती है। वहीं खेल खिलाड़ी पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि शहर में युवाओं के लिए खेल के मैदान को राजनीतिक सभा में तब्दील कर दिया गया है। साथ ही डिज्नीलैंड मेला लगा दिया जाता है जिससे बच्चों को खेलने में काफी परेशानी झेलनी पड़ती है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...