बृहन्मुंबई ढांचे को नष्ट करने के संबंध में करेगा फैसला - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 15 मार्च 2019

बृहन्मुंबई ढांचे को नष्ट करने के संबंध में करेगा फैसला

bmc-will-take-dissision
मुंबई, 15 मार्च, दक्षिणी मुंबई में एक रेलवे स्टेशन के पास बृहस्पतिवार की शाम एक पैदल पार पुल का कुछ हिस्सा ढह जाने की घटना के बाद बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) प्रमुख ढांचे को लेकर आगे की कार्रवाई के संबंध में निर्णय लेने के लिए आज एक बैठक की अध्यक्षता करेंगे। बीएमसी के एक प्रवक्ता ने बताया कि महानगरपालिका आयुक्त अजोय मेहता शुक्रवार को सड़क एवं पुल विभाग के अधिकारियों से मुलाकात करेंगे और पूरे पुल को नष्ट करने के संबंध में फैसला करेंगे। बीएमसी ने पुल के हिस्से के ढहने की घटना के बाद सुरक्षा इंतजाम के लिए शुक्रवार सुबह व्यस्त डीएन सड़क को बंद रखा। एक अन्य महानगरपालिका अधिकारी ने कहा, ‘‘डीएन सड़क को एहतियातन बंद कर दिया गया है। बीएमसी आयुक्त मेहता ने इसे पुन: खोलने के संबंध में निर्णय लेने के लिए बैठक बुलाई है।’’  उन्होंने बताया कि रायगढ़ जिले के मलाड में बारिश में सावित्री पुल के बह जाने के बाद अगस्त 2016 में लेखा परीक्षा के दौरान इस पैदल पार पुल की जांच की गई थी और इसे सुरक्षित पाया गया था।  अधिकारी ने कहा, ‘‘जिस पुल का हिस्सा बृहस्पतिवार को ढहा, उसे सीटूबी चिह्नित किया गया था। इसका अर्थ यह हुआ कि इसके लिए थोड़ी-बहुत मरम्मत की आवश्यकता थी। मरम्मत के लिए निविदाएं जारी की गई थीं लेकिन उन्हें रोक दिया गया। हम जांच करेंगे कि निविदा को बीएमसी स्थायी समिति ने रोका था या सड़क एवं पुल विभाग ने ऐसा किया था।’’ 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...