बोइंग ने 737 मैक्स विमानों की उड़ान पर लगाई रोक - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 14 मार्च 2019

बोइंग ने 737 मैक्स विमानों की उड़ान पर लगाई रोक

boeing-stops-putting-737-max-planes-on-flight
नयी दिल्ली 14 मार्च, अमेरिका के नियामक फेड्रेशन विमानन प्राधिकरण (एफएए) के बोइंग 737-मैक्स की उड़ानों को निलंबित करने के आदेश के बाद अमेरिकी विमान निर्माता कंपनी बोइंग ने गुरुवार को बोइंग 737-मैक्स विमान के परिचालन को दुनिया भर में फिलहाल स्थगित करने का फैसला किया है।  एफएए की विज्ञप्ति में कहा गया, “एफएए बोइंग 737-मैक्स के विमानों के परिचालन को फिलहाल के लिए उसकी सेवा रोकने का आदेश देता है। एफएए ने डेटा एकत्रीकरण और हादसे की जगह से एकत्र किए नए साक्ष्य के परिणामस्वरुप यह निर्णय लिया है।”  एफएए के आदेश के बाद बोइंग ने बयान जारी कर कहा, “बोइंग का 737- मैक्स की सुरक्षा पर पूरा विश्वास है। हालांकि एफएए, अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा बोर्ड (एनटीएसबी) और विमानन प्राधिकरण की सलाह के बाद कंपनी विमानों की सुरक्षा और एफएए के जारी आदेश के मद्देनजर दुनिया भर में बोइंग 737-मैक्स विमानों की सेवा को फिलहाल स्थगित करने का फैसला करती है।”  बोइंग के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी डेनिस मुईलेनबर्ग ने कहा, “मैं पूरी बोइंग टीम की तरफ से विमान हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं। हम सुरक्षा के मद्देनजर इस कदम का समर्थन कर रहे हैं। हमारे लिए सुरक्षा हमेशा ही पहली प्राथमिकता रही है और आगे भी रहेगी।” श्री डेनिस ने कहा, “सुरक्षा से बढ़कर हमारी कंपनी और हमारे उद्योग के लिए दूसरी कोई बड़ी प्राथमिकता नहीं है। हम जांच अधिकारियों के साथ मिलकर इस हादसे का पता लगाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं और साथ ही सुरक्षा बढ़ाने तथा ऐसे हादसे फिर नहीं हो यह सुनिश्चित करने में सहायता कर रहे हैं।”  गौरतलब है कि इथोपियन एयरलाइंस का बोइंग 737-800 मैक्स विमान गत रविवार को सुबह इथोपिया में बिशोफ्तू के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिसमें विमान के चालक दल के सदस्यों समेत उसमें सवार सभी 157 लोग मारे गये थे। इस हादसे बाद भारतीय विमानन नियामक नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने देश के वायु क्षेत्र में मैक्स विमानों के उड़ान भरने पर प्रतिबंध लगा दिया था।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...