चौकसी ने जेटली की पुत्री के खाते में पैसा जमा कराया : राहुल गाँधी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 27 मार्च 2019

चौकसी ने जेटली की पुत्री के खाते में पैसा जमा कराया : राहुल गाँधी

chauksee-deposited-money-in-jaitley-s-daughter-s-account-rahul
जयपुर, 26 मार्च,  कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज यहां आरोप लगाया कि बैंकों का पैसा लेकर भागे मेहुल चौकसी ने केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली की पुत्री के खाते में रिश्वत का पैसा जमा कराया है। श्री गांधी ने शक्तिकेंद्र के कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि भ्रष्टाचार का पैसा वित्तमंत्री जेटली के पास भी गया है। बैंकाें का पैसा लेकर भागे मेहुल चौकसी ने उनकी बेटी के खाते में पैसे डलवाये हैं। श्री गांधी ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नीरव मोदी और ललित मोदी की चौकीदारी करते हैं। उन्होंने सवाल किया कि आखिर इनके नाम के साथ मोदी शब्द क्यों जुड़ा हुआ है। उन्होंने श्री मोदी पर आरोप लगाया कि नोटबंदी के जरिए आम आदमी की जेब से पैसा निकालकर बैंकों में डलवाया गया जिसे बाद में अनिल अम्बानी जैसे उद्योगपतियों को बांट दिया। अनिल अम्बानी की जेब में 30 हजार करोड़ रुपये डाले गये। उन्होंने कहा कि केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनी तो उद्योगपतियों से बैंक की चाभी लेकर आम आदमी को सौंपी जायेगी।  उन्होंने कहा कि केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनी तो युवा उद्यमियों को नया उद्योग खड़ा करने पर तीन वर्ष तक कोई सरकारी इजाजत की जरूरत नहीं पड़ेगी। इसके बाद वे औपचारिकता पूरी कर सकते हैं। उन्होंने केंद्र सरकार के स्टार्टअप मेक इन इंडिया को ढकोसला बताते हुए कहा कि हकीकत में सरकार ने कोई काम नहीं किया।  श्री गांधी ने जीएसटी को गब्बर सिंह टैक्स बताते हुए कहा कि कांगेस का शासन आया तो इसे हटाकर एक सरल और साधारण टैक्स लगाया जायेगा। उन्होंने कहा कि व्यापारियों को अभी पांच करों का सामना करना पड़ता है। तथा आयकर विभाग वाले उनका खून चूसते हैं।  15 लाख रुपये हर बैंक खाते में डालने के श्री मोदी के वायदे को याद करते हुए श्री गांधी ने कहा कि उनका यह विचार बहुत अच्छा था, लेकिन उन्होंने 15 लाख की बात गलत बोली। हमने बड़े बड़े अर्थशास्त्रियों से सम्पर्क करके न्यूनतम आय योजना बनाई जिसमें 20 प्रतिशत गरीब परिवारों के बैंक खाते में हर वर्ष तीन लाख साठ हजार रुपये जमा होंगे।  उन्होंने कहा कि कांग्रेस चाहती है कि 21वीं सदी में एक भी गरीब नहीं रहे तथा 12 हजार रुपये न्यूनतम आय की लाइन निर्धारित की गई है जिससे कम कमाई करने वालों के खाते में सरकार उसकी भरपाई करेगी।  शक्ति केंद्र के कार्यकर्ताओं को भरोसा दिलाते हुए उन्होंने कहा कि भविष्य में उनका उपयोग पार्टी संगठन में किया जायेगा, यह लम्बा रास्ता हो सकता है, लेकिन उन्हें संगठन में जगह मिलेगी। इस अवसर पर शक्ति केंद्र के 10 कार्यकर्ताओं का सम्मान किया गया।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...