मसूद पर चीन के अडंगे को लेकर कांग्रेस एवं भाजपा में आरोप प्रत्यारोप - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 14 मार्च 2019

मसूद पर चीन के अडंगे को लेकर कांग्रेस एवं भाजपा में आरोप प्रत्यारोप


congress-bjp-counter-charges-each-other
नयी दिल्ली 14 मार्च, मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषिक करने के मार्ग में चीन द्वारा अड़ंगा लगाने के मुद्दे पर राहुल गांधी के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधे जाने पर पलटवार करते हुए भाजपा ने बृहस्पतिवार को कहा कि आज आपकी विरासत के कारण ही चीन सुरक्षा परिषद का सदस्य है। राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए भाजपा के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर कहा गया कि देश आपके (राहुल गांधी) परिवार की गलतियों को सुधार रहा है। भरोसा रखें कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई भारत जरूर जीतेगा । उन्होंने कहा कि अगर पंडित जवाहर लाल नेहरू ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में चीन को वीटो पावर देने के लिए समर्थन नहीं दिया होता तो आज ऐसा न होता। भाजपा ने कहा कि आप गुप्त रूप से चीनी राजदूत से गलबहियां करते रहें । इस विषय को प्रधानमंत्री मोदी पर छोड़ दें । भाजपा प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि चीनी राजदूत से सीक्रेट मीटिंग करने वाले और चीन से गलबहियां करने वाले कांग्रेस अध्यक्ष आज सवाल पूछ रहे हैं । उन्होंने कहा कि एक तरफ चीन से गलबहियां करें और दूसरी तरफ सवाल पूछे ... यह ठीक नहीं है।


गौरतलब है कि चीन ने एक बार फिर जैश सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने के मार्ग में अडंगा लगा दिया है। चीन ने संयुक्त राष्ट्र में इस प्रस्ताव के विरोध में अपने वीटो पावर का इस्तेमाल कर ऐसा किया । इसके बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से डरे हुए हैं और चीन के खिलाफ उनके मुंह से एक शब्द नहीं निकलता।राहुल गांधी ने ट्वीट कर दावा किया, 'मोदी की चीन कूटनीति : गुजरात में शी के साथ झूला झूलना, दिल्ली में गले लगाना, चीन में घुटने टेक देना रही' ।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...