बेगुसराय : आज से होली मिलन समारोह की हो गई शुरुआत - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 16 मार्च 2019

बेगुसराय : आज से होली मिलन समारोह की हो गई शुरुआत

holi-milan-starts-in-begusaray
अरुण कुमार (आर्यावर्त) यूँ ही बेगूसराय कला साहित्य और संस्कृति के क्षेत्र का राजधानी नहीं मानी जाती है।बेगूसराय के लाल का कुछ ऐसा ही करामात है,संस्कृति के हर क्षेत्र में इसलिये इस जिले को काला की राजधानी का गौरव प्राप्त है।आज नगर के पोखरिया मोहल्ले में होली मिलन समारोह का आयोजन नगरवासियों के सौजन्य से होना तय हुआ।इस आयोजन में गायिका कविता कुमारी,गायक भूषण भारती,आशुतोष कुमार उर्फ लिलानन्द, नाल पर कन्हैया कुमार आदि ने आयोजन में चार चाँद लगाया।आयोजक डॉ०रितेश कुमार,रौशन सिंह,रामउदय सिंह,रामशंकर सिंह।स्वागत करता :- पछियारी टोल-पोखरिया समस्त परिवार के साथ कल्याण सिंह,देव कुमार देव,विजय कुमार जबकि मंच संचालन आशुतोष कुमार और कवि प्रफुल्ल चन्द्र मिश्रा ने संयुक्त रूप से कर श्रोताओं को काफी गुदगुदाया।वहीं कविता कुमारी शारदा सिन्हा के गीत से श्रोताओं को झूमाते रही।भूषण भारती कवि प्रफुल्ल द्वारा लिखित बिहार गीत "सुन्दर हमर बिहार गे"गा कर लोगों को गुदगुदाया।वही हरेराम मिश्रा ने भी मैथिली गीत से मिथला का दर्शन कराया "धन्य दरभंगा,ढोरी अंगा" गाकर ताली बटोरी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...