बिहार : और नाश्ते पर ‘चढ़ा’ दिये गये पत्रकार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 23 मार्च 2019

बिहार : और नाश्ते पर ‘चढ़ा’ दिये गये पत्रकार

nda-press-confrence-bihar-election-2019
शुक्रवार यानी 22 मार्च को पटना के होटल मौर्या में महागठबंधन की सीटों की घोषणा के लिए प्रेस वार्ता आयोजित थी। इसमें महागठबंधन के नेताओं के पहुंचने में 15 मिनट का विलंब हुआ तो मीडिया वाले राजद सांसद मनोज झा पर चढ़ गये। विलंब के लिए मनोज झा को माफी मांगनी पड़ी। आज 23 मार्च को एनडीए के उम्मीदवारों की घोषणा के लिए आयोजित प्रेस वार्ता में विलंब होने लगा तो पत्रकारों को नाश्ते पर ‘चढ़ा’ दिया गया। इस बीच एनडीए के नेता भी करीब 15 मिनट विलंब से पहुंचे और अगले 15 मिनट में उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर पीसी की समाप्ति की घोषणा कर दी गयी। एनडीए की प्रेस वार्ता भाजपा के प्रदेश मुख्यालय स्थित अटल सभागार में थी। करीब 10.54 बजे जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह, मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव और सांसद आरसीपी सिंह के साथ भाजपा मुख्यालय पहुंचे। उन्हें अतिथि कक्ष में बैठाया गया। इसके बाद भाजपा के बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव, संगठन महामंत्री नागेंद्र नाथ त्रिपाठी और प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय अतिथि कक्ष में पहुंचे। इसके साथ ही अतिथियों के लिए जलपान की व्यवस्था शुरू हुई। आयोजकों को लगा कि पीसी में विलंब हो सकता है तो पत्रकारों को नाश्ते के लिए आमंत्रित किया गया। इस बीच हम सभागार और अतिथि कक्ष के बीच दौड़ लगाते रहे। एक तरफ नाश्ता और दूसरी ओर खबर। दोंनों के बीच संतुलन बनाना मुश्किल हो रहा था। नाश्ता तो भर प्लेट लिये, लेकिन पूरा खाये बिना अतिथि कक्ष की ओर पहुंचे। करीब 11.13 बजे पर एनडीए के नेताओं का काफिला सभागार की ओर प्रस्थान किया। आगे-आगे भूपेंद्र यादव और उनके साथ आरसीपी सिंह और अन्य नेता। इस काफिले में दो उम्मीदवार नित्यानंद राय और पशुपति पारस भी शामिल थे। उधर सभागार में नेताओं के पहुंचने के बाद पत्रकार भी नाश्ते का प्लेट रखकर मंच की ओर पहुंचे।

भूपेंद्र यादव ने लोकसभा के एनडीए की ओर से 39 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की। लोजपा कोटे की सीट खगडि़या से अभी उम्मीदवार तय नहीं हुए हैं। विधान सभा की दो सीटों के लिए उपचुनाव होना है। इसमें नवादा से जदयू के कौशल यादव को उम्मीदवार बनाया गया है, जबकि डिहरी भाजपा के कोटे में गयी है, लेकिन उम्मीदवार तय नहीं हुए हैं। भाजपा ने अपने 14 उम्मीदवारों को फिर से टिकट दे दिया है। लोजपा और जदयू ने अपने 2-2 उम्मीदवारों को टिकट दिया है। एनडीए ने पूर्व छह सांसदों को टिकट दिया है। इसमें वैजनाथ महतो, प्रदीप सिंह, दिनेश चंद्र यादव, गिरधारी यादव, राजीवरंजन सिंह और महाबली सिंह शामिल हैं। एनडीए ने चार विधायकों को टिकट दिया है। इसमें कविता कुमारी, अजय मंडल, गिरधारी यादव व दिनेश चंद्र यादव शामिल हैं। एनडीए ने 39 में 6 अतिपछिड़ा को टिकट दिया है। इसमें रामप्रीत मंडल, दिलेश्वर कामत, प्रदीप सिंह, अजय निषाद, अजय मंडल और चंद्रेश्वर चंद्रवंशी शामिल हैं। एनडीए ने 3 बनिया को टिकट दिया है, इसमें संजय जयसवाल, रमा देवी और वरुण कुमार शामिल हैं। प्रमुख जातियों में 7 राजपूत और 5 यादव को टिकट मिला। जबकि भाजपा के आधार वोटर बी थ्री (B-3) यानी ब्राह्मण, बनिया और भूमिहार को 8 सीटों पर संतोष करना पड़ा। इसमें 3 बनिया, 3 भूमिहार और 2 ब्राह्मण को टिकट मिला है। एक कुर्मी के मुकाबले 3 कोईरी को टिकट दिया गया है।एनडीए के उम्मीदवार की सूची जारी होने के बाद अब महागठबंधन के घटक दलों के बीच सीट और उम्मीदवारों के नामों का इंतजार है, तभी कुछ परिदृश्य साफ होगा। हालांकि कुछ सीटों पर त्रिकोणीय मुकाबले की भी संभावना है।  



--वीरेंद्र यादव--

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...