ओडिशा में चिटफंड घोटाला के अपराधी नहीं बख्शे जायेंगे : राहुल गाँधी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 16 मार्च 2019

ओडिशा में चिटफंड घोटाला के अपराधी नहीं बख्शे जायेंगे : राहुल गाँधी

rahul-slams-naveen-for-looting-chit-fund
बरगढ़,15 मार्च, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आेडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक पर जनता की गाढ़ी कमाई की लूट का आरोप लगाया और कहा कि अगर कांग्रेस सत्ता में आयी तो राज्य में चिटफंड और खनन घोटाला के अपराधियों को बख्शा नहीं जायेगा। श्री गांधी ने शुक्रवार को यहां सारासरा मैदान पर आयोजित ‘परिवर्तन संकल्प समावेश’ रैली को संबोधित करते हुए कहा कि श्री पटनायक ने खनन घोटाले में 50 हजार करोड़ और चिटफंड घोटाला के जरिए पांच हजार करोड़ रूपयों की लूट की है और अपने मित्रों के बीच इसे बांटा है। उन्होंने आश्वस्त किया कि यदि कांग्रेस राज्य की सत्ता में आती है तो पीड़ितों को इंसाफ मिलेगा और उनके पैसे लौटाए जायेंगे। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और श्री पटनायक पर हमला बोलते हुए कहा कि दोनों नेताओं ने जनता और किसानों से झूठे वादे किए हैं। उन्होंने कहा कि ओडिशा के मुख्यमंत्री ने पूरे राज्य में कोल्ड स्टोरेज और खाद्य प्रसंस्करण यूनिट का निर्माण , स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता और धान का प्रति क्विंटल 300 रूपए बोनस दिए जाने का वादा किया था जबकि प्रधानमंत्री ने दो करोड़ रोजगार और किसानों की मदद का वादा किया था , लेकिन इनमें से कोई भी वादे पूरे नहीं किए गये। उन्होंने कहा कि ओडिशा के बरगढ़ को धान का कटोरा कहा जाता है , लेकिन इसके बाजवूद इन इलाके के किसान रोज आत्महत्या कर रहे हैं। ऐसा कोई एक दिन नहीं , जब किसानों की आत्महत्या की रिपोर्टें न मिली हो। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री ने अपने 15 उद्यमी मित्रों के साढ़े तीन लाख करोड़ रूपए माफ कर दिए और नीरव मोदी, विजय माल्या जैसे लोगों को करोड़ों रूपये लेकर विदेश जाने की अनुमति दे दी लेकिन किसानों के फसल के रिण माफ नहीं किये गये। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने अपने वादों के मुताबिक धान का अधिकतम समर्थन मूल्य प्रति क्विंटल 2500 रूपये देने आैर किसानों का कर्ज माफ किया है तथा छत्तीसगढ़, राजस्थान तथा मध्यप्रदेश की सत्ता में आने के बाद इन राज्यों में खाद्य प्रसंस्करण यूनिट की स्थापना की प्रक्रिया शुरू की गयी है। उन्होंने जनता से कांग्रेस को अपना समर्थन देने की अपील की और कहा कि उनकी पार्टी राज्य में छत्तीसगढ़ माॅडल को लागू करेगी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...