भोपाल : वन अधिकार कानून व चुनौतीयों पर संवाद - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 3 मार्च 2019

भोपाल : वन अधिकार कानून व चुनौतीयों पर संवाद

seminar-on-van-adhikar-law-bhopal
भोपाल, 03 मार्च। मध्यप्रदेश में है भोपाल। यहां के गांधी भवन में  एकता परिषद, भोपाल के तत्वावधान में वन अधिकार कानून व चुनौतीयों पर संवाद पर आयोजित की गयी। संवाद में आगत जन प्रतिनिधियों  ने समाज को स्थाई आजीविका खड़ी करने के लिए अहिंसात्मक संघर्ष करने पर बल दिया। इसके अलावे वरिष्ठ समाजसेवियों ने संगठन/संस्थाओं के साथ मिलकर शासन की योजनाओं व  कानून के क्रियान्वयन  पर जोर दिया। वहीं ग्रामीण  जनता व समितियों के सदस्यों के  साथ मिलकर कार्य करने का निश्चय किया।उनके कंधे से कंधा मिलाकर चलने के लिए तैयार हुए।  एकता परिषद के संस्थापक राजगोपाल पी.व्ही.के मार्गदर्शन में  जन समुदाय आधारित भूमि अधिकार मोर्चा का गठन किया गया।  जिसमें वन अधिकार कानून व चुनौतीयों के साथ आजीविका खड़ी गांव में हो सके। राजगोपाल ने बल दिया कि हम सब  साथ चले और अपनी समस्या,अपनी ब्यवस्था को दुरूस्त करें। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...