मधुबनी : शिल्पोत्सव-सह-हस्तशिल्प उत्पादों के प्रदर्शनी एवं बिक्री कार्यक्रम का शुभारंभ - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 8 मार्च 2019

मधुबनी : शिल्पोत्सव-सह-हस्तशिल्प उत्पादों के प्रदर्शनी एवं बिक्री कार्यक्रम का शुभारंभ

shilpotsaav-madhubani
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) 08,मार्च, जिला पदाधिकारी,मधुबनी के द्वारा शुक्रवार को कार्यालय, विकास आयुक्त,हस्तषिल्प,भारत सरकार एवं को-हैंड,नई दिल्ली के द्वारा प्रायोजित शील्पोत्सव -सह-हस्तषिल्प उत्पादों के प्रदर्षनी एवं बिक्री कार्यक्रम का उदघाटन फीता काटकर एवं दीप प्रज्वलित कर किया गया।  इस अवर पर श्री सुनील कुमार सिंह,अनुमंडल पदाधिकारी,सदर मधुबनी,श्रीमती तेजस्विनी, डाॅ0 रष्मि वर्मा,जिला प्रोग्राम पदाधिकारी, आई0सी0डी0एस0, मधुबनी, सुश्री पूनम कुमारी, सहायक निदेषक, सामाजिक सुरक्षा कोषांग, मधुबनी, श्री मुकेष कुमार, सहायक निदेषक, कार्यालय,विकास आयुक्त, हस्तषिल्प विभाग, भारत सरकार समेत अन्य पदाधिकारीगण उपस्थित थे।

shilpotsaav-madhubaniजिला पदाधिकारी,मधुबनी द्वारा कार्यक्रम के शुभारंभ के पष्चात विभाग द्वारा अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर महिला हस्तषिल्पियों के लाभ के लिए विषेष इवेंट कार्यक्रम में 50 अनूसूचित जाति के महिलाओं द्वारा मिथिला पेंटिंग एवं अन्य हस्तषिल्प उत्पादों का लगाये गये स्टाॅल का निरीक्षण किया गया। तत्पष्चात कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला पदाधिकारी ने कहा कि अंतराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर सभी महिलाओं खासकर मधुबनी जिले की महिलाओं को सषक्त बनने एवं आगे बढ़ने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि मधुबनी जिले की महिलाएं अपने घर परिवार के काम-काज के साथ-साथ मिथिला पेंटिंग एवं अन्य हस्तकला से संबंधित कार्य कर आत्मनिर्भर हो रही हैं। यह आवष्यक है कि सभी महिलाएं अपने अधिकार के प्रति सजग होकर आगे बढ़ें। उन्होंने कहा कि अब महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पुरूषों से कम नहीं। चाहें वह पुलिस-प्रषासन,राजनीति,मीडिया,सीमा की सुरक्षा एवं प्रत्येक क्षेत्रों में पुरूषों के साथ कंथे-से-कंधा मिलाकर आगे बढ़ रही है।  जिला पदाधिकारी,मधुबनी द्वारा उपस्थित लोगों से अपने बच्चियों की षिक्षा एवं उन्हें सषक्त बनाने हेतु आगे बढ़ने में सहयोग करने एवं बिना किसी भेद-भाव के सभी क्षेत्रों में आगे बढ़ने को कहा। कार्यक्रम में 4 षिल्पकार बंगाल से, 02 षिल्पकार पटना से, 02 षिल्पकार समस्तीपुर से, आरा से 01 भाग लेने आये है। षिल्पोत्सव कार्यक्रम दिनांक 07.03.2019 से प्रारंभ होकर 13.03.2019 तक चलेगा। जिसमें प्रत्येक दिन स्थानीय कलाकारों द्वारा नृत्य-संगीत भी प्रस्तुत किया जायेगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...