बिहार : 21 करोड़ की लागत से सीवरेज ट्रीट प्लांट का हुआ उद्घाटन। - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 1 मार्च 2019

बिहार : 21 करोड़ की लागत से सीवरेज ट्रीट प्लांट का हुआ उद्घाटन।

sivrej-plant-inaugrated-khagadiya
अरुण कुमार (आर्यावर्त्त) खगड़िया नगर परिषद के वार्ड नंबर-01स्थित सम्प हाउस के पास आज गुरुवार अर्थात 28 फरवरी को नगर सभापति श्रीमति सीता कुमारी,बिहार विधान परिषद सदस्य सोनेलाल मेहता तथा नगर उप सभापति सुनील कुमार पटेल की उपस्थिति में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी द्वारा 21 करोड़ की लागत से राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन,जल संसाधन,नदी विकास एवं गंगा संरक्षण मंत्रालय द्वारा नमामि गंगे योजना के तहत खगड़िया में I&D(आई एंड डी) के साथ सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट(4.5M L D) का शिलान्यास किया गया।शिलान्यास कार्यक्रम के बाद नगर सभापति श्रीमती सीता कुमारी ने अपने संबोधन में कहा कि नगर परिषद खगड़िया पिछले कई वर्षों से प्रयासरत है कि शहर से निकलने वाले गंदे पानी को ट्रीटमेंट प्लांट से साफ कर बाहर नदी में फेंका जाय।कई बार बिहार सरकार एवं केंद्र सरकार को ट्रीटमेंट प्लांट लगाने के लिए डीपीआर बना कर भेजा गया था।उन्होंने कहा कि भारत सरकार के द्वारा जब नमामि गंगे योजना चलायी गयी थी तो खगड़िया जिले को उसमें शामिल नहीं किया गया था।उन्हें जानकारी हुई तो उनके द्वारा नगर विकास एवं आवास विभाग को पत्र लिख कर कहा गया कि उनके नगर क्षेत्र से नदी गुजरती है।इसलिए खगड़िया को भी शामिल किया जाय। पटना में आयोजित स्वच्छ भारत मिशन की बैठक में भी इस बात को नगर विकास एवं आवास विभाग के प्रधान सचिव के समक्ष रखा था। उन्होंने आश्वासन दिया था कि पटना से टीम भेजकर जांच कराकर इस पर अमल किया जाएगा।बीते वर्ष 2018के 06 अगस्त को पटना से आई टीम को दान नगर स्थित संम्प हाउस के पास और जेएनकेटी स्टेडियम स्थित स्लूइस गेट के पास दिखाया गया।प्रथम चरण में दान नगर संम्प हाउस का चयन किया गया है।

उन्होंने यह भी कहा कि नगर परिषद बोर्ड की बैठक से बीते वर्ष 2018के 10 अगस्त को दान नगर वार्ड नं-01 में ट्रीटमेंट प्लांट बनाने की स्वीकृति दी गई थी।विधान परिषद सदस्य सोनेलाल मेहता ने कहा कि यह सही है कि नमामि गंगे में खगड़िया छूट गया था।उन्हें भी पता है कि नगर सभापति श्रीमति सीता कुमारी ने इसके बाबत नगर विकास विभाग से अनुरोध कर कर खगड़िया को शामिल करवाया।          उन्होंने यह भी कहा कि नगर सभापति के प्रयास से इस योजना का चयन हुआ है।विधान पार्षद ने दावे के साथ कहा कि खगड़िया नगर परिषद क्षेत्र में जो भी विकास कार्य दिख रहा है,वह नगर सभापति श्रीमति सीता कुमारी एवं पूर्व नगर सभापति मनोहर कुमार यादव के प्रयास का नतीजा है।उन्होंने कहा कि आज बिहार में कुल14 जगहों पर ट्रीटमेंट प्लांट का शिलान्यास केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के द्वारा छपरा से किया गया है।भारत सरकार के द्वारा नमामि गंगे की योजना के तहत नदी को साफ रखने की योजना को अमलीजामा पहनाया जा रहा है।इसी योजना के तहत आधारशिला रखा गयी है।पूर्व नगर सभापति मनोहर कुमार यादव ने कहा कि हमलोग भी वर्ष 2015 में ही ट्रीटमेंट प्लांट के लिए बेंगलौर की कम्पनी से डीपीआर बना कर नगर विकास विभाग को बोर्ड से स्वीकृत कर भेजा गया था। भारत सरकार से स्वीकृति मिल गयी और बुडको से टेंडर भी हो गया था।लेकिन किसी कारण टेंडर प्रक्रिया पूरी नहीं हो पाई थी।आज नमामि गंगे योजना के तहत नगर परिषद खगड़िया की यह योजना स्वीकृत हो पायी।इस योजना से शहर का गंदा पानी साफ कर बाहर फेंका जायेगा।मौके पर नगर उपसभापति सुनील कुमार पटेल,सशक्त स्थायी समिति के सदस्य आफरीन बेगम,चंद्रशेखर कुमार,नगर पार्षद रणवीर कुमार,लीना श्रीवास्तव, जितेंद्र गुप्ता,अजय चौधरी,नवीन तुलस्यान,पूर्व पार्षद पप्पू यादव,रविशचंद्र उर्फ बंटा, मो०रुस्तम अली, जावेद अली,पूर्व मुखिया अशोक सिंह,समाजसेवी नितिन कुमार चुन्नू,राजेश कुमार,हंसराज,शम्भू झा,नगर कार्यपालक पदाधिकारी राजीव कुमार गुप्ता,नगर प्रबंधक राजीव झा,कनीय अभियंता रौशन कुमार,नमामि गंगे क्रियान्वयन के सहायक गगन कुमार सिन्हा,स्वछता निरीक्षक राजीव रंजन सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...