बिहार : इस बार लोक सभा चुनाव में दिखेगी चुनाव आयोग की पारदर्शिता - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 11 मार्च 2019

बिहार : इस बार लोक सभा चुनाव में दिखेगी चुनाव आयोग की पारदर्शिता

transparent-election
अरुण कुमार (आर्यावर्त) चुनाव आयोग ने इस बार चुनाव पारदर्शिता बढ़ाने और शिकायतों के त्वरित समाधान के लिए कई नए कदम भी उठाए हैं। इनसे मतदाताओं को भी राहत मिलने की आशा है।

जीपीएस ट्रैकिंगः 
इस बार EVM (इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन) में जीपीएस भी लगाया जाएगा। इसके साथ ही पोलिंग ऑफिसर की गाड़ी में जीपीएस लगेगा। इससे मशीनों को बूथ से बिना अनुमति दूर ले जाने जैसी शिकायतें दूर होंगी।

मोबाइल ऐपः
चुनाव आयोग ने आचार संहिता के उल्लंघन समेत सभी अन्य शिकायतों के लिए मोबाइल ऐप लॉन्च की सुविधा दी जाएगी। 100 मिनट के भीतर इन शिकायतों पर कार्रवाई भी की जाएगी।

कैंडिडेट्स की फोटो :-
चुनाव आयोग पहली बार ईवीएम पर प्रत्याशियों की फोटो लगाने जा रहा है। इससे समान नाम वाले प्रत्याशियों से मतदाताओं में होने वाली गलतफहमी को दूर किया जा सकेगा। लोकसभा चुनाव की पूरी चुनावी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी होगी और आयोग के कंट्रोल रूम में 24 घंटे शिकायत भी की जा सकेगी। चुनाव के दौरान हेल्पलाइन नंबर- 1950: मुख्य चुनाव आयुक्त के अनुसार चुनाव के दौरान एक हेल्पलाइन नंबर- 1950 जारी किया जाएगा। इसके द्वारा चुनाव संबंधी कोई भी शिकायत दर्ज कराई जा सकती है।

सोशल मीडिया पर पोस्ट पर रहेगी नजर :-
मुख्य चुनाव आयुक्त के मुताबिक सोशल मीडिया पर पोस्ट होने वाले कैंडिडेट्स के प्रचार सामाग्री पर भी मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट लागू होगा। चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवार को अपने सोशल मीडिया अकाउंट की जानकारी भी चुनाव आयोग को देनी पड़ेगी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...