बिहार : विभा देवी और चन्दन सिंह में होगी कांटे की टक्कर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 23 मार्च 2019

बिहार : विभा देवी और चन्दन सिंह में होगी कांटे की टक्कर

vibha-devi-and-chandan-singh-fight
अरुण कुमार (आर्यावर्त) , एनडीए की ओर से उम्मीदवारों का एलान होने की चर्चाएं शुरू हो चुकी है। चुनाव की घोेषणा होने से पहले ही कई सीटें चर्चा में थी जीसमें एक सीट नवादा भी था। यह सीट गिरिराज सिंह की थी मगर इस बार उन्हें बेगूसराय का रास्ता दिखाया गया है। वैसे सूरजभान की पत्नी भी पहले से ही नवादा से चुनाव नहीं लड़ना चाहती थी वे मुंगेर से ही लड़ने की तैयारी में थी मगर वह सीट जेडीयू को चले जाने के कारण लोजपा को नवादा सीट दी गई।हांलाकि सूरजभान सिंह ने लोजपा नेतृत्वकर्ता से बात कर उन्हें मना लिया मगर वीणा देवी चुनाव न लड़ सकी। हां सूरजभान ने वहां से अपने भाई चंदन सिंह को मैदान में उतार कर अपनी चलती कायम रखने का मैसेज जरुर दे दिया है। चंदन सिंह की ​लड़ाई राजद उम्मीदवार विभा देवी से होगी। जो जेल में बंद राजबल्लभ यादव की पत्नी है।लोगों की माने तो वहां इन्हीं दोनों के बीच फैसला होना है। दोनों दबंग परिवारों के बीच में आखिरकार बाजी कौन मारता है यह तो वक्त ही बतायेगा मगर मुकाबला कांटे का होगा यह तो साफ हो गया है। वैसे 3 मार्च को हुई एनडीए की संकल्प रैली में वीणा देवी ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया था जिससे यह माना जा रहा ​था कि वे खुद चुनाव मैदान में इस बार भी उतरेगी। मगर सूरजभान सिंह ने अपने भाई का नाम आगे कर क्या रणनीति बनाई है यह तो वही जाने।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...