राहुल के पास अमेठी के लिये समय नहीं,देश का क्या करेंगे भला : स्मृति ईरानी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 4 मार्च 2019

राहुल के पास अमेठी के लिये समय नहीं,देश का क्या करेंगे भला : स्मृति ईरानी

who-never-care-amethi-how-can-care-nation-smriti
अमेठी 03 मार्च , केन्द्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने रविवार को कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी देश का भला कैसे कर सकते है जब उनके पास अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी की समस्यायों और क्षेत्र के विकास के लिये ही समय नहीं है।  श्रीमती ईरानी ने यहां आयोजित एक जनसभा में कहा कि वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में पीपरी गांव के लोगों ने मतदान का बहिष्कार किया था क्योंकि कटान के चलते उनके खेत जलमग्न हो गये थे लेकिन श्री गांधी के कान में जूं तक नहीं रेंगी थी। ऐसे सासंद से लोग क्या उम्मीद कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) भले ही अमेठी में चुनाव हार गयी थी लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की विजय के बाद भाजपा के कार्यकर्ताओं ने प्रदेश की तत्कालीन सरकार से पीपरी गांव के निवासियों की समस्यायों पर गौर करने का अनुरोध किया था लेकिन लखनऊ में सत्ता की कुर्सियों पर बैठे लोगों को पीपरी के निवासियों की चिंता नहीं थी। उन्होने रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के प्रति आभार जताते हुये कहा कि श्री गांधी ने सुश्री निर्मला सीतारमण को अपशब्द कहे लेकिन इसके बावजूद वह उनके संसदीय क्षेत्र अमेठी में पधारी,इसके लिए वह उन्हे धन्यवाद कहती है। उन्होने कहा कि अमेठी है तैयार, एक बार फिर मोदी सरकार। अमेठी की ललकार अबकी बार एक बार फिर मोदी सरकार।  इस मौके पर रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि यहां लघु उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए केंद्र और राज्य सरकार मदद करेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयास से राइफल फैक्ट्री के लिए रुस से समझौता हुआ है। उनके प्रयास से दुनिया भर में प्रख्यात क्लाश्निकोव की अत्याधुनिक एके -203 राइफल का अमेठी में निर्माण शुरू होगा।  उन्होने कहा कि भारत रूस समझौता के तहत अमेठी के आयुध निर्माणी में आधुनिक एके 203 राइफल की साढ़े सात लाख राइफल बनाई जाएगी। इस अवसर पर उन्होंने रूस के राष्ट्रपति पुतिन का बधाई संदेश भी पढ़ कर सुनाया। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...