पूर्णियां : विश्व रंगमंच दिवस पर आकाशवाणी में सेमिनार, वक्ताओं ने महत्ता पर डाला प्रकाश - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 27 मार्च 2019

पूर्णियां : विश्व रंगमंच दिवस पर आकाशवाणी में सेमिनार, वक्ताओं ने महत्ता पर डाला प्रकाश

world-stage-day
पूर्णिया : विश्व रंगमंच दिवस पर आकाशवाणी पूर्णिया में स्टूडियो सेमिनार का आयोजन किया गया। सेमिनार का आरंभ करते हुए आकाशवाणी के समानुदेशिती उमेश आदित्य ने अतिथियों का परिचय दिया। केंद्र प्रधान डॉ प्रभात नारायण झा ने अतिथियों का स्वागत करते हुए रंगमंच की महत्ता पर प्रकाश डाला। सेमिनार में उपस्थित देवानंद ने नुक्कड़ नाटक की महत्ता के बारे लोगों को जानकारी दी। इस मौके पर बंगला रंगमंच से जुड़े अजय शान्याल ने भी अपने विचार प्रकट किए। ग्रामीण रंगमंच से जुड़े सुरेंद्र मंडल ने रंगमंच की महत्ता के बारे जानकारी साझा की। इस मौके पर कार्यक्रम अधिशासी राजकिशोर ने रंगमंच की वर्तमान प्रासंगिकता पर उदगार व्यक्त किए। अंत में अभियंत्रण प्रधान मो जावेद अंजुम द्वारा धन्यवाद ज्ञापन किया गया। इस माैके पर प्रसारण अधिकारी शिवाजी झा, डॉ रूपेश कुमार रूप, वरीय उदघोषक इंद्रदेव रजक, अभियंत्रण सहायक रमेश कुमार साह व आनंद प्रकाश, लेखापाल मनोज कुमार सिन्हा, अरूण कुमार सिन्हा, ज्ञानेश कुमार सिन्हा, कलाकार सोनाली चक्रवर्ती समेत कई अन्य आकाशवाणी कर्मी मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...