मोदी ने रीति-रिवाजों को संवैधानिक संरक्षण देने का दिया आश्वासन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 20 अप्रैल 2019

मोदी ने रीति-रिवाजों को संवैधानिक संरक्षण देने का दिया आश्वासन

modi-gives-assurance-to-give-constitutional-protection-to-customs
तिरुवनंतपुरम 19 अप्रैल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि यदि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सत्ता में आती है, तो रीति-रिवाजों को संवैधानिक संरक्षण प्रदान करने के लिए कदम उठाए जाएंगे। श्री मोदी ने गुरुवार को यहां पार्टी की ‘विजय संकल्प’ रैली को संबोधित करते हुए विवादास्पद सबरीमाला मुद्दे का उल्लेख किया और कहा, “तेईस मई को मतगणना के बाद हम रीति-रिवाजों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए अदालत और संसद में लड़ाई लड़ेंगे।” उन्होंने कहा कि जो लोग भगवान अय्यप्पा के भक्तों पर लाठी चार्ज करवा रहे हैं और उन्हें झूठे मुकदमे में फंसा रहे हैं उनसे बदला लेने के लिए राज्य का प्रत्येक बच्चा आगे आएगा और रीति-रिवाजों की रक्षा करेगा। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के केरल के वायनाड संसदीय क्षेत्र से चुनाव लड़ने का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, “यदि आप दक्षिण भारत में संदेश देना चाहते हैं, तो आप तिरुवनंतपुरम या पथनमथिट्टा से चुनाव क्यों नहीं लड़ रहे हैं?” उन्होंने कहा कि केरल के लोग देख सकते हैं कि आपने अमेठी में किस तरह का विकास किया हैं। उन्होंने कहा कि लोगों को इंटरनेट के माध्यम से इस तरह का विवरण मिल सकते हैं क्योंकि यह अब सरल रास्ता है। श्री मोदी ने राज्य की कम्युनिस्ट सरकार पर तीखा हमला किया और लवलीन मामले में मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन पर मामला दर्ज होने का उल्लेख करते हुए कहा कि सूबे के कई मंत्री भ्रष्टाचार के गंभीर आरोपों का सामना कर रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...