श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर नागरिक यातयात शुरू - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 25 अप्रैल 2019

श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर नागरिक यातयात शुरू

civil-commute-begins-on-srinagar-jammu-national-highway
श्रीनगर, 25 अप्रैल, कश्मीर घाटी को देश के बाकी हिस्सों से जोड़ने वाले श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर गुरुवार को नागरिक वाहनों का परिचालन शुरू हो गया। सुरक्षा बलों के काफिले के सुरक्षित आवाजाही के लिए अधिकारियों ने बुधवार को राजमार्ग पर नागरिक वाहनों के परिचालन पर प्रतिबंध लगा दिया था। लद्दाख क्षेत्र को कश्मीर से जोड़ने वाला राष्ट्रीय राजमार्ग अभी भी बंद है हालांकि इस मार्ग पर बर्फ को हटाने का काम लगभग पूरा हो चुका है। उधर, 86 किलोमीटर लंबा ऐतिहासिक मुगल रोड और अनंतनाग-किश्तवाड़ रोड भी बर्फ के जमाव के कारणबंद है। यातायात पुलिस के एक अधिकरी ने यूनीवार्ता को बताया कि हमने आज सुबह राजमार्ग पर नागरिक वाहनों के परिचालन की अनुमति दे दी। उन्होंने बताया कि सड़क को चौड़ करने के लिए हो रहे काम के अलावा अचानक हुये भूस्खलन और चट्टानों के गिरने की घटना के कारण राजमार्ग को आज सिर्फ एक ओर खेला गया है। उन्होंने बताया कि गुरुवार को सिर्फ जम्मू से श्रीनगर की ओर जाने वाले वाहनों के परिचालन की अनुमति दी गई है और आज दूसरी ओर से कोई वाहन नहीं चलेंगे। गौरतलब है कि 14 फरवरी को पुलवामा के अनंतिपुरा में राष्ट्रीय राजमार्ग पर हुए आतंकवादी हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 40 से अधिक जवान शहीद हो गये थे जिसके बाद सरकार ने राजमार्ग पर सुरक्षा बलों के वाहनों की सुरक्षित आवाजाही के लिए सप्ताह में दो दिन रविवार और बुधवार को नागरिक वाहनों के परिचालन पर पर प्रतिबंध लगा रखा है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...