मधबनी : शकील भाजपा के एजेंट के रूप में : धनेश्वर महतो - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 17 अप्रैल 2019

मधबनी : शकील भाजपा के एजेंट के रूप में : धनेश्वर महतो

dhaneshwar-mahto-attack-shakiil
मधबनी (आर्यावर्त संवाददाता) 16 अप्रैल को पार्टी कार्यालय पर भारतीय मित्र पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष धनेश्वर महतो ने कहा मधुबनी लोकसभा डॉक्टर शकील अहमद ने नामांकन निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में दाखिल किया यह वही शकील अहमद हैं जो अपनी एक सीट के लिए कांग्रेस पार्टी को बिहार में डू बोने का काम किया शकील अहमद ने कभी चाहा ही नहीं कि कांग्रेस पार्टी मैं कोई दूसरा नेता बन सके खासतौर से मिथिलांचल में और आज वह इस कदर हताशा पर चले गए हैं की पार्टी की तारा लुटिया डुबाने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन किया इससे स्पष्ट पता चलता है कि अब यह भाजपा के एजेंट के रूप में काम करने का लगे हैं क्योंकि पिछले 20 सालों में शकील अहमद कभी क्षेत्र में किसी जनता से या मुस्लिम समाज से कभी उनके दुख सुख में मुलाकात करने तक नहीं आए क्योंकि इनके अपने बाल बच्चे यहां बिहार में नहीं रहते इंडिया में नहीं रहते वह विदेश में रहते हैं सिर्फ इनको मधुबनी से वोट चाहिए मधुबनी से दो बार लोकसभा चुनाव जीत चुके हैं एक बार मंत्रालय में भी रह चुके हैं तीन बार विधायक रह चुके हैं लेकिन एक बार भी रैयाम लो हाट सकरी चीनी मिल के ऊपर कोई बयान नहीं आया नेता हुकुमदेव भी मंत्री रह चुके हैं चार बार सांसद रहने के बाद एक बार मंत्री कभी रैयामचीनी मिल लो हॉट चीनी मिल सकरी के विषय में या मधुबनी का विकास कैसे हो इस पर कभी कोई चर्चा कभी संसद में उन्होंने या विधानसभा में कभी नहीं उठाया इसका जवाब हुकुमदेव भी दें और डॉ शकील अहमद भी दे कि आप सिर्फ मधुबनी की जनता इनको वोट क्यों दें ऐसा क्या मधुबनी के लिए दोनों पूर्व मंत्रियों ने किया और आज हुकुमदेव नारायण के लड़का अशोक यादव मैदान में उतरे हुए हैं जो एक तरफ भाजपा यह कहती है कि हम वंशवाद की राजनीतिक नहीं करते हैं के 10 साल हुकुमदेव कंटिन्यू सांसद रह चुके 1999 में हुकुमदेव यहां से मंत्री रह चुके हैं हैं और अब उनका हुकुमदेव का बेटा अशोक यादव यह वंशवाद नहीं है तो क्या है उधर सुनने को आ रहा है कि फातमी साहब भी अट्ठारह को नामांकन करेंगे तो मैं कहना चाह रहा हूं दरभंगा मधुबनी की जनता से फातमी साहब भी 5 साल मिनिस्टर रह चुके हैं लेकिन रोजी रोजगार कैसे बढ़ेगा इस को लेकर एक भी नेता ना ही कोई आंदोलन आज तक किया है इन्होंने और ना ही कभी सदन में इसके लिए आवाज उठाई है तो ऐसे नेता को मधुबनी और दरभंगा से वोट मांगने का भी मैं समझता हूं कोई अधिकार नहीं है मौके पर प्रदेश अध्यक्ष ललित कुमार सिंह मधुबनी जिला अध्यक्ष राजेश कुमार महतो इनामुल रहमान अंसारी मोहम्मद इस्लाम मोहम्मद टीपू राम अवतार यादव विलास यादव रामाशीष यादव शंकर महतो मौजूद थे. 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...