झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 29 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 29 अप्रैल 2019

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 29 अप्रैल

रोड नही तो वोट नहो, ग्रामीणों ने किया मतदान का बहिष्कार

jhabua news
पारा । रस्म ब्लाक की ग्राम पंचायत आंबा के सालर पड़ा फलिये के ग्रामीणों ने आगामी लोकसभा चुनाव में  मतदान का बहिष्कार करने का निर्णय लिया है। ग्रामीणों का कहना है की रोड नही तो वोट नही। प्राप्त जानकारी के अनुसार कई प्रकार की कठिन समस्य से जूझते ग्राम पंचायत अम्बा के अन्नापुरिया व सालर पाड़ा के रहवासियों ने। आगामी लोकसभा चुनाव में  सामुहिक रूप से मतदान करने का बहिष्कार किया है। ग्रामीणों का कहना है कि हमारे फलिये में जब तक रोड नही बनेगा तब तक हम समस्त ग्रामीण लोकसभा निर्वाचन में भाग नही लगे। डर असल में ग्राम अम्बा के रहवासियों की उनके फलिये में सड़क निर्माण की मांग बरसो पुरानी है।  इस गांव के लोग हमेशा से पारा राजगड रॉड से अन्नापुरिया सलरपडा होते हुवे खयडु तक रोड निर्माण की मांग बरसो से करते आ  रहे है बावजूद इसके आजादी के साहठ सालों के बाद भी इस मार्ग का नही बनना  बड़ा ही विचारणिय है। बताया जता है ही उक्त मार्ग  लोकनिर्माण विभाग के अधीन है और विभाग इस मार्ग का निर्माण कागजो में कर रखा है समय समय पर विभाग दुवारा इस मार्ग के संधारण का कार्य कर पैसा भी निकाला जाता है बाबजूद इसके इस मार्ग पर कभी भी किसी भी प्रकार का निर्माण नही किया गया। विभाग दुव्रा किये गये फर्जी निर्माण का पैसा कहा गया यह जांच का विषय है। बाहर हाल ग्रामीणों को इस बात का पता यब चला जब इस रोड के निर्माण के लिए ग्रामीणों के प्रधनमंत्री सड़क विभाग से सम्पर्क किया तो पता चलाकी यह मार्ग पूर्व में लोकनिर्माण विभाग दुवारा निर्मित है इसलिए इस मार्ग पर प्रधनमंत्री सड़क दुव्रारा निर्माण सम्भव नही है। बावजूद इसके प्रधनमंत्री सड़क विभाग के कर्मचारियों ने इस मार्ग के निर्माण की अनुमति विरिष्ठ अधिकारी से मांगी है ।इन फलियों वासियो को दैनिक जीवन मे अपने किसी भी काम करने के लिए  4 से 5 किलोमीटर तक पैदल चल कर सड़क पर आना पड़ता है तब जा कर ग्रामीणों की आवागमन के साधन उपलब्ध हो पाते है । बारिश के दिनों मैं तो यह ओर भी कठिन ही जाता है जिस के चलते कई लोग स्वास्थ्य सुविधा से वंचित रहना पड़ता है।इसी रोड पर आसपास में 6 से 7 मिडिल स्कूल है जहां पर बच्चों को पहुंचने में भी काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है।मजबूरन ग्रामीणों को अपने वाजिब हक़ की लडाई लड़नर के लिए सड़क पर उतरना पड़ा। व हार कर उन निर्णय समूहिक रूप से लिया ही रोड नही तो वोट नही।

भाजपा प्रत्याशी श्री डामोर ने किया पारा क्षेत्र का तुफानी दोरा

jhabua news
पारा-- लोकसभा निर्वाचन 2019 के चलते आगामी 19 मई को रतलाम-झाबुआ संसदीय क्षेत्र मेे मतदान होना हे। इसी प्रक्रिया के चलते भारतीय जनता के प्रत्याशी गुमानसिह डामोर ने भाजपा के पारा मण्डल का तुफानी दोरा किया व ग्राम पंचायत पारा के ग्राम लखपुरा मे क्षेत्र के कार्यकर्ताओ से भेंट कि। प्राप्त जानकारी के अनुसार भाजपा के लोंकसभा प्रत्याशी गुमानसिह डामोर ने ग्राम लखपुरा मे क्षेत्र के भाजपा कार्यकर्ताओ से भेट कि। व उपस्थित कार्यकर्ताओ से एक जुट होकर भाजपा को विजय दिलवाने व नरेन्द्र मोदी को पुनः प्रधानमंत्री बनाने कि अपिल की। श्री डामोर ने कहा की भाजपा का कार्यकर्ता देव दुर्लभ हे। जिसे सुन कर भाजपा के कार्यकर्ताओ मे जोश भर गया। कांग्रेस पार्टी को आडे हाथो लेते हुए श्री डामोर ने कहा कि कांग्रेस ने जनता व किसानो के साथ धोखा किया हे जिसका बदला अब जनता लोकसभा चुनाव मे लेगी। वर्तमान प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने भारतीय जनता पार्टी कि शिवराजसिह चोहान सरकार द्वारा चलायी गई सारी जन हितेशी  योजनाओ को बंद कर दिया हे। वह योजनाए फिरसे चालु करने के लिए भाजपा को अपना वोट दे। जनता द्वारा भाजपा को दिया गया एक वोट दो सरकार बनाए गी। दिल्ली मे नरेन्द्र मोदी की व प्रदेश मे एक बार फिर से भाजपा कि। अपने भाषण मे श्री डामोर ने भाजपा के पुर्व सांसद दिलीपसिह भुरिया को याद करते हुए कहा श्री भुरिया क्षेत्र के ऐसे जन नेता थे जो हमेश जनता के बिच मे रहे। सघन दोरे के दोरान श्री डामोर कोे जनता से मिल रहे अपार जन सर्मथन की जानकारी भी सभी के बिच साझा कि। श्री डामोर के साथ पुर्व विधायक निर्मला भुरिया व प्रदेश कार्यकारणी सदस्य शेलेश दुबे ने भी कार्यकर्ताओ संबोधित किया। इससे पुर्व श्री डामोर ने राधास्वामी आश्रम लखपुरा मे जा कर मत्था टेका व आर्शिवाद लिया। श्री डामोर ने लखपुरा के अलावा ग्राम रजला, कलमोडा, बावडी, आम्बा, खयडु आदि ग्रामो मे जन सम्पर्क किया व जनता से भाजपा के लिए आशिर्वाद मांगा व भाजपा को वोट देकर विजयी बनाने कि अपिल कि। लखपुरा पहुचने पर पारा मण्डल के अध्यक्ष ओकरसिह डामोर ने भाजपा प्रत्याशी श्री डामोर का भव्य स्वागत किया व शाल श्रीफल के साथ तीरकमान भी भेट किए। श्री डामोर के साथ प्रफुल गादिया, श्रीमति सुरज डामोर, सोमसिह सोलंकि मदन भुरा, वेस्ता बामनिय सरदरसिह डावर, कुंवर गजेन्द्रसिह राठोर, आनंद सरतलीया शुभम सोनी, अमृत राठोर, सेकु रावत, राजेश पारगी, कुजरसिह रावत, केसरी हिहोर, किशेर भाभर,रोमी राज सेन ,पलाश कोठारी, संदिप सोनी, दिलीप किराडे,जुवानसिह चोहान, बच्चु निनामा सहीत सेकडो कार्यकर्ता उपस्थित थे।

लेखक सम्मान समारोह में श्री भंडारी सम्मानित, विष्व पुस्तक एवं काॅपी राईड दिवस के अवसर पर हुआ आयोजन

jhabua news
झाबुआ। शहर के वरिष्ठ समाजसेवी एवं साहित्यकार यषवंत भंडारी ‘यष’ को विगत दिनों इंदौर में आयोजित इंदौर संभाग पुस्तकालय संघ एवं शासकीय श्री अहिल्या केंद्रीय पुस्तकालय द्वारा विष्व पुस्तक एवं काॅपी राईड दिवस के अवसर पर सम्मानित किया गया। यह सम्मान श्री भंडारी को इस वर्ष अपने काव्य संग्रह ‘ना-जायज का दर्द’’ के प्रकाषित होने के उपलक्ष में प्राप्त हुआ। उक्त जानकारी देते हुए राष्ट्रीय षिक्षक संचेतना की जिलाध्यक्ष श्रीमती कुंता सोनी ने बताया कि शासकीय पुस्तकालय एवं ग्रंथालय की ओर से विष्व पुस्तक एवं काॅपी राईड दिवस पर इंदौर सभाग में इस वर्ष जिन साहित्यकारों एवं लेखकों की पुस्तके प्रकाषित हुई, उन्हें शासकीय अहिल्या लाईब्रेरी एवं ग्रंथालय की ओर से सम्मानित किया गया। सम्मान समारोह मंें मुख्य अतिथि के रूप में देष के वरिष्ठ साहित्यकार एवं संपादक कृष्णकुमार आष्टाना उपस्थित थे। अध्यक्षता आयोग की पूर्व अध्यक्ष श्रीमती स्नेहलता उपाध्याय ने की। इस अवसर पर जानकारी देते हुए आयोजन समिति के संयोजक जीडी अग्रवाल ने बताया कि शासकीय देवी अहिल्या लाईब्रेरी की ओर से प्रतिवर्ष उन समस्त साहित्यकारों, लेखकों एवं ंसपादकों को सम्मानित किया जाता है, जिनकी इस वर्ष मौलिक एवं स्व-रचित रचनाएं प्रकाषित हुई। सम्मान समारोह में इंदौर संभाग के 52 साहित्यकारों की 64 पुस्तके सम्मिलित हुई। इन सभी लेखकों एवं साहित्यकारों को इस अवसर पर सम्मान किया गया।

पुस्तके पुस्तकालय की धरोहर बनी
मुख्य अतिथि कृष्णकुमार आष्टाना ने ओजस्वी उद्बोधन देते हुए कहा कि आज के इस सोष्यल मीडिया और मोबाईल के बढ़ते चलन में आप जैसे रचनाकारों ने समय निकालकर जो हिन्दी साहित्य की सेवा की, वह अमोदनीय एवं अनुकरणीय है। आपने कहा कि आज जो पुस्तक, इस पुस्तकालय को प्राप्त हुई है, वे सभी आज से ही इस पुस्तकालय की धरोहर बन गई है तथा भविष्य में हजारों श्रोताओं को इन्हें पढ़ने, समझने का अवसर प्राप्त होगा।

बहुमूल्य क्षणों को साहित्य के प्रति समर्पित किया
आयोग की पूर्व अध्यक्ष श्रीमती उपाध्याय ने कहा कि किताब हमारे जीवन की सच्ची साथी एवं सच्ची दोस्त होती है। किताबों के बिना मनुष्य का जीवन अधूरा है। आप सभी साहित्यकार बधाई के पात्र है कि आपने जीवन के बहुमूल्य क्षणों को साहित्य के प्रति समर्पित कर साहित्य सर्जन में अमूल्य सहयोग प्रदान किया। कार्यक्रम का संचालन पुस्तकालय के साहित्य मंत्री एचएच वाजपेयी ने किया। इस अवसर पर राष्ट्रीय षिक्षक संचेतना के अध्यक्ष डाॅ. प्रभु चैधरी, रोटरी मंडल द्वारा प्रकाषित पत्रिका के संपादक रविन्द्र पहलवान, नमिता दुबे सहित इंदौर संभाग के कई वरिष्ठ पत्रकार, लेखक, संपादक एवं साहित्यकार उपस्थित थे।

जिले के समीपस्थ राज्यो मे रोजगार हेतु पलायित मजदूरो को मतदान दिवस पर संवैतनिक अवकाष दिया जाने हेतु नियोक्ताओ एवं अधिकारियो से संपर्क करने के लिये भ्रमणकारी दल गठित
अहमदाबाद, गांधीनगर, बडौदा, सूरत, भरूच, राजकोट हेतु 29 अप्रैल को होंगे रवाना
झाबुआ । जिले के समीपस्थ राज्य गुजरात/राजस्थान के विभिन्न जिलो मे बेहतर रोजगार के लिये जाने वाले मजदूरो को लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1981 की धारा 135 ख के प्रावधान अनुसार मतदान दिवस को संवैतनिक अवकाष दिया जाएगा। इस हेतु संबंधित जिले के नियोक्ताओ एवं अधिकारियो से संपर्क कर मतदान दिवस दिनांक 19 मई 2019 को संवैतनिक अवकाष प्रदान करने हेतु अनुरोध किया जाएगा। इस हेतु जिले मे 8 दल गठित किये गये है। जो कि राजस्थान एवं गुजरात राज्य के विभिन्न जिलो मे पहुंचकर कंपनी मालिको एवं मजदूरो से संपर्क करेंगे। भ्रमणकारी संयुक्त दल मे दिनंाक 29 अप्रैल 2019 को अहमदाबाद एवं गांधीनगर जिले मे भ्रमण के लिये श्री एम के घनघोरिया मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत पेटलावद को प्रभारी अधिकारी एवं श्री अषोक सेनी, डीईओ जनपद पंचायत मेघनगर, श्री तोलसिंह निनामा सचिव, श्री हरिराम भूरिया, सचिव, श्री कैलाष होमगार्ड, सैनिक को सहयोगी सदस्य नियुक्त किया गया है। मोरबी जिले मे भ्रमण के लिये श्री एम. एल. टाक मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत रामा को प्रभारी अधिकारी एवं श्री ष्याम षर्मा उद्योग प्रबंधक, श्री अमरसिंह परमार सचिव, श्री मंगन पारगी पीसीओ, श्री वसीम होमगार्ड, सैनिक को सहयोगी सदस्य नियुक्त किया गया है। सूरत जिले मे भ्रमण के लिये श्री आर सी हालू मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत थांदला को प्रभारी अधिकारी एवं श्री सुरेष पटेल सचिव, श्री कलसिंह डामोर पीसीओ जनपद पंचायत थांदला, श्री राजेष मुणिया जीआरएस परवलिया, श्री विकास होमगार्ड, सैनिक को सहयोगी सदस्य नियुक्त किया गया है। भरूच जिले मे भ्रमण के लिये श्री रामसिंह चैहान परि. अधिकारी जिला पंचायत झाबुआ को प्रभारी अधिकारी एवं श्री बाबूलाल मेडा पीसीओ, श्री पप्पूसिंह खपेडा जनषिक्षक जनषिक्षा झाबुआ, श्री दलसिंह पालिया सचिव, श्री अषोक होमगार्ड, सैनिक को सहयोगी सदस्य नियुक्त किया गया है। जामनगर जिले मे भ्रमण के लिये श्री मनोज बारस्कर परि. अधिकारी मनरेगा, जिला पंचायत मनरेगा को प्रभारी अधिकारी एवं श्री गोपाल प्रजापति पीसीओ, श्री राकेष षर्मा जनषिक्षक जनषिक्षा पेटलावद, श्री सीपी त्रिपाठी जनषिक्षक थांदला, श्री रवि होमगार्ड, सैनिक को सहयोगी सदस्य नियुक्त किया गया है। बडौदा जिले मे भ्रमण के लिये श्री योगेंद्र सिंह मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत रानापुर, को प्रभारी अधिकारी एवं श्री प्रेमसिंह सिंगाड पीसीओ, श्री दुलेसिंह सिंगाड सचिव, श्री भेरूलाल सोलंकी जनषिक्षक, श्री फतिया पिता तोलिया, सोटा को सहयोगी सदस्य नियुक्त किया गया है। राजकोट जिले मे भ्रमण के लिये श्री व्ही एस रावत मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत मेघनगर, को प्रभारी अधिकारी एवं श्री निर्मल डोडियार पीसीओ जनपद पंचायत रानापुर, श्री दुलिया गोयल सचिव, श्री सीपी हीरालाल मुणिया सचिव, श्री अजयसिंह पिता वेस्ता संदला को सहयोगी सदस्य नियुक्त किया गया है। दिनांक 1 मई 2019 को कोटा एवं रावतभाटा (राजस्थान) जिले मे भ्रमण के लिये श्री पी सी वर्मा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत झाबुआ, को प्रभारी अधिकारी एवं श्री लालूसिंह अजनार पीसीओ, श्री सुनिल नायक सचिव, श्री संजय बघेल श्रम निरीक्षक, श्रम विभाग, श्री रतनसिंह थावरिया नल्दीछोटी को सहयोगी सदस्य नियुक्त किया गया है। उक्त दल अपने-अपने क्षेत्र मे भ्रमण के दौरान जिला प्रषासन, उद्योग विभाग, श्रम विभाग एवं जिले के पलायित श्रमिको के नियोक्ताओ से संपर्क कर मतदान दिवस दिनांक 19 मई 2019 को अधिक से अधिक मतदान हेतु प्रेरित करते हुए नियोजको से संवैतनिक अवकाष हेतु अनुरोध करेंगे। 

निर्वाचन हेतु नियोजित अधिकारी/कर्मचारी पात्रतानुसार मानदेय भुगतान हेतु मानदेय
गणना पत्रक निर्धारित दस्तावेज संलग्न कर जिला नोडल अधिकारी को प्रेषित करे
झाबुआ । लोकसभा निर्वाचन 2019 हेतु समस्त नोडल अधिकारी अपने अधीनस्थ समस्त कर्मचारियो/अधिकारियो को पात्रतानुसार मानदेय का भुगतान करने हेतु निर्धारित मानदेय गणना पत्रक मे संबंधित अधिकारी/कर्मचारी अपनी बैंक पासबुक की छायाप्रति के साथ बैंक खाता नंबर, आईएफएससी कोड नंबर, बैंक का एवं षाखा का नाम, मोबाइल नंबर, लोकसभा मे सौंपे गये दायित्व का पदनाम, कार्य का प्रकार एवं कार्यरत विभाग का नाम इत्यादि जानकारी प्राप्त कर तथा संकलित कर जिला नोडल अधिकारी मानदेय जिला झाबुआ को अनिवार्य रूप से प्रेषित/अगेषित करें। नोडल अधिकारी के बिना प्रमाणीकरण से कोई भी मानदेय गणना पत्रक पृथक से मान्य नही किया जायेगा। लोकसभा निर्वाचन 2019 मे निर्वाचित अधिकारी/कर्मचारियो मे से यदि किसी अधिकारी/कर्मचारी का नाम वंचित रहता है, तो इसका समस्त उत्तरदायित्व संबंधित नोडल अधिकारी का रहेगा।

विमान, हेलीकॉप्टर में यात्रा करने वालों पर रखी जायेगी नजर

झाबुआ । भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्वाचन वाले राज्यों में चार्टर्ड विमानों, हेलीकॉप्टरों एवं वाणिज्यिक विमानों के माध्यम से अनाधिकृत रूप से अस्त्र-शस्त्र, निषिद्ध वस्तुओं अथवा बड़ी मात्रा में नकदी एवं बहुमूल्य धातुओं के परिवहन पर रोक लगाने के उद्देश्य से हवाई यात्रा करने वाले लोगों पर नजर रखने के निर्देश दिये हैं। आयोग ने कहा कि मतदान वाले राज्यों में चुनावी प्रक्रिया के समय हवाई अड्डे पर यात्रियों व सामानों की तलाशी तथा जांच संबंधी सभी नियमों व पद्धतियों का बिना किसी अपवाद के कड़ाई के साथ पालन किया जाना चाहिए। आयोग द्वारा जारी निर्देशों में कहा गया है कि विमान यातायात नियंत्रण (एटीसी) को निर्वाचन वाले राज्य में मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी तथा संबंधित जिलों के जिला निर्वाचन अधिकारी को चार्टर विमान या हेलीकॉप्टर की यात्रा योजना के बारे में कम से कम आधे घंटे पहले सूचित करना होगा। निर्वाचन आयोग के मुताबिक चुनाव वाले राज्यों में वाणिज्यिक एयरपोर्ट से उड़ान भरने वाले और उतरने वाले सभी निजी विमानों या हेलीकॉप्टरों का एटीसी (विमान यातायात नियंत्रण) द्वारा रिकार्ड रखा जायेगा तथा इसकी सूचना की एक प्रति संबंधित राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी तथा उस जिले के जिला निर्वाचन अधिकारी को उपलब्ध करानी होगी।  आयोग के मुताबिक सुरक्षा अधिकारियों को जांच में 10 लाख रूपये की नगदी अथवा एक किलो सोना या इससे अधिक मूल्य का सोना-चांदी, हीरा जवाहरात पाये जाने पर आयकर विभाग को तुरंत सूचित करना होगा। आयोग ने यह भी स्पष्ट किया है कि सुरक्षा बल और आयकर विभाग को हवाई अड्डे पर यात्रियों की जांच, बहुमूल्य धातुओं या नकदी की खोज से लेकर जब्ती अथवा मुक्त करने तक का पूरी प्रक्रिया का संपादन सीसीटीव्ही कैमरे की निगरानी में करना होगा।

ये ही कर सकेंगे मतदान केन्द्रों में प्रवेश

झाबुआ । लोकसभा चुनाव के मतदान के दिन मतदान केन्द्रों पर मतदाताओं के अलावा केवल ऐसे व्यक्ति ही प्रवेश कर सकेंगे जिन्हें निर्वाचन आयोग द्वारा अनुमति दी गई है। इनमें मतदान अधिकारी, निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त प्रेक्षक, उम्मीदवार, उसका निर्वाचन अभिकर्ता और उम्मीदवार का एक बार में एक मतदान अभिकर्ता, आयोग द्वारा प्राधिकृत किये गये व्यक्ति एवं निर्वाचन के संबंध में कत्र्तव्यारूढ़ वाले सेवक ही शामिल हैं। इनके साथ ही मतदाता के साथ में गोद में कोई बच्चा, ऐसे अंधे और शिथिलांग मतदाता जो बिना सहायता के चल फिर नहीं सकते, के साथ कोई एक व्यक्ति तथा ऐसे अन्य व्यक्ति जिन्हें समय-समय पर मतदाताओं की पहचान करने के या मतदान कराते समय पीठासीन अधिकारी की सहायता करने के प्रयोजनार्थ बुलाया गया हो, भी मतदान केन्द्र में भीतर प्रवेश कर सकेंगे।

हस्ताक्षर के पहले लगाई जायेगी मतदाता की बायीं तर्जनी पर अमिट स्याही
अंगुली का निरीक्षण भी करेंगे मतदान अधिकारी, इंकार करने पर मतदान नहीं करने दिया जायेगा
झाबुआ । भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशों के मुताबिक लोकसभा चुनाव में मतदान केन्द्र पर वोट डालने पहुंचे मतदाता की बायीं तर्जनी पर अमिट स्याही का निशान मतदाता रजिस्टर पर उसके हस्ताक्षर करने के पहले लगाया जायेगा। ऐसा इसलिए किया जायेगा ताकि मत देने के बाद मतदाता के मतदान केन्द्र छोड़ने तक अमिट स्याही को सूखने और एक सुस्पष्ट अमिट चिन्ह बनने के लिए पर्याप्त समय मिल जाये। आयोग के निर्देशों के मुताबिक मतदाता की अंगुली पर अमिट स्याही नाखून से लेकर अंगुली के पहले पोर तक लगायी जायेगी। निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार अमिट स्याही लगाने के पहले मतदान अधिकारियों द्वारा मतदाता की बायीं तर्जनी का निरीक्षण भी किया जायेगा। आयोग के निर्देशों में मतदान अधिकारियों से स्पष्ट कहा गया है कि यदि कोई मतदाता निर्देशों के विपरीत अपनी बायीं तर्जनी का निरीक्षण करने या अमिट स्याही लगाने से इंकार करे या उसकी बायीं तर्जनी पर ऐसा कोई चिन्ह पहले से ही हो अथवा वह स्याही को हटाने की दृष्टि से कोई भी कृत्य करे तो उसे मत देने के लिए अनुमति नहीं दी जाये। आयोग ने यह भी कहा है कि मतदाता को अपना मत रिकार्ड करने के लिए मतदान कक्ष में जाने की अनुमति देने के पहले नियंत्रण यूनिट के प्रभारी मतदान अधिकारी द्वारा भी उसकी अंगुली की दुबारा जांच की जानी चाहिए। यदि मतदाता ने स्याही को हटा दिया है या स्याही का चिन्ह अस्पष्ट है तो उसकी बायीं तर्जनी पर दुबारा अमिट स्याही का चिन्ह लगा दिया जाये। आयोग के मुताबिक मतदान कर चुके मतदाता की पहचान के लिए अमिट स्याही का चिन्ह मतदाता की बायीं तर्जनी की अंगुली पर लगाया जायेगा। लेकिन यदि किसी मतदाता की बायीं तर्जनी न हो तो अमिट स्याही उसकी ऐसी किसी भी अंगुली में लगाई जायेगी जो उसके बायें हाथ में हो।  यदि उसके बाये हाथ में कोई भी अंगुली न हो तो स्याही उसकी दायें हाथ की तर्जनी पर लगाई जायेगी और यदि उसके दायें हाथ की तर्जनी भी न हो तो उसकी दायीं तर्जनी से प्रारंभ करते हुए उसके दायें हाथ की किसी भी अन्य अंगुली पर स्याही लगाई जायेगी। परन्तु यदि किसी मतदाता के किसी भी हाथ में कोई भी अंगुली न हो तो स्याही उसके बायें या दायें हाथ के ऐसे सिरे (ठूंठ) पर जो भी उसके हो लगायी जायेगी ।

निर्वाचन के लिए खोले गए बैंक खाते से ही करना होगा खर्च

झाबुआ । भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार लोकसभा निर्वाचन 2019 में निर्वाचन व्यय के लिए सभी अभ्यर्थियों द्वारा बैंक खाता खोला जाना जरूरी है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री प्रबल सिपाहा ने बताया कि अभ्यर्थी द्वारा अपने सभी निर्वाचन संबंधित खर्च इसी बैंक खाते से किए जाने चाहिए। आयोग के निर्देश है कि निर्वाचन कार्य पर खर्च की जाने वाली समस्त राशि, अभ्यर्थी की स्वयं की निधि सहित किसी अन्य स्त्रोत से प्राप्त निधि भी इस बैंक खाते में जमा करनी होगी। निर्वाचन खर्च के लिए अभ्यर्थी इस खाते में जमा राशि का उपयोग चैक के माध्यम से करेगा। यदि कहीं छोटे खर्चाे के लिए नगद राशि की आवश्यकता है तो भी इसी खाते से राशि का आहरण कर इस खर्च को नगद ब्यौरे में दिखाना होगा। आयोग ने स्पष्ट कर दिया है कि यदि अभ्यर्थी द्वारा निर्वाचन खर्च के लिए अलग से बैंक खाता नहीं खोला गया है या बिना उक्त खाते में जमा किए राशि खर्च की गई है तो यह माना जाएगा कि अभ्यर्थी ने अपेक्षित रीति से खाते का रखरखाव नहीं किया है। निर्वाचन परिणाम की घोषणा के बाद चुनाव खर्च की सार विवरणी फाईल करते समय अभ्यर्थी उक्त बैंक खाते के स्टेटमेंट की प्रमाणित प्रति अनिवार्य रूप से जिला निर्वाचन अधिकारी को प्रस्तुत करेंगे।

स्वीप टीम, सोशल मीडिया हैंडलर्स के लिए कैंडिड क्लिक कांटेक्ट चार श्रेणियों में होगी

झाबुआ । लोकसभा निर्वाचन 2019 के तहत निर्वाचन आयोग द्वारा स्वीप टीम, जिला जनसंपर्क अधिकारी, सोशल मीडिया हैंडलर्स, सोशल मीडिया एंबेसडर और केंपस एंबेसेडर के लिए कैंडिड क्लिक कॉन्टेस्ट फोटो स्पर्धा चार श्रेणियों में आयोजित की जा रही है। सिंगल केटेगरी, ग्रुप केटेगरी, विशेष अथवा विपरीत कैटेगरी (असामान्य परिस्थिति में मतदान कर रहे मतदाताओं की फोटो) और यूनिक केटेगरी (फोटो जरा हटके) होगी। इस स्पर्धा में निर्वाचन में उक्त दायित्व निभा रहे उक्त अधिकारी, कर्मचारी हिस्सा लेकर आकर्षक उपहार जीत सकते हैं। नियम के अनुसार इस स्पर्धा में प्रेषित की जाने वाली फोटो लोकसभा निर्वाचन 2019 की होनी चाहिए, फोटो का संबंध सिर्फ और सिर्फ मध्यप्रदेश के निर्वाचन से होना चाहिए ,मतदाताओं की सिंगल फोटो उंगली पर स्याही का मार्ग दिखाते हुए हो, फोटो में किसी प्रकार की एडिटिंग नहीं होनी चाहिए, फोटो पर किसी प्रकार के टैक्स या कॉपीराइट का मार्क नहीं होना चाहिए, फोटो के साथ अपना नाम, पदनाम, लोकसभा क्षेत्र, जिले का नाम और फोटो का छोटा सा कैप्शन भेजना अनिवार्य है। इसी प्रकार  पजेडलडंता फोटो कॉन्टेस्ट तीन कैटेगरी में आयोजित की गई है। मतदान दिवस के दिन वोट डालने के बाद तीन कैटेगरी अर्थात सिंगल फोटो केटेगरी, ग्रुप फोटो केटेगरी एवं विशेष अथवा विपरीत परिस्थितियों में मतदान के बाद की फोटो प्रेषित की जा सकती है। इसमें प्रेषित की जाने वाली फोटो लोकसभा निर्वाचन 2019 की होनी चाहिए, फोटो उंगली पर लगा स्याही का मार्क दिखाते हुए हो, ग्रुप फोटो में कम से कम 4 लोग होना अनिवार्य हैं। फोटो के साथ कैप्शन में अपना नाम और अपने लोकसभा क्षेत्र के नाम के साथ पजेडलडंता इस्तेमाल करते हुए रुब्म्व्डच्म्समबजपवदे को जरूर टैग करे। फोटो के बैकग्राउंड में किसी राजनीतिक पार्टी, प्रत्याशी, संगठन का कोई विज्ञापन नहीं होना चाहिए। फोटो पर किसी तरह का कोई टेक्स्ट या कॉपीराइट मार्क न हो। तीनों केटेगरी के बेस्ट तीन फोटो को आकर्षक उपहार दिया जाएगा।

दो सौ मीटर के दायरे के बाहर ही स्थापित किये जा सकेंगे उम्मीदवारों के निर्वाचन बूथ
रिटर्निंग अधिकारी को सूचना देना जरूरी, स्थानीय निकायों से भी लेनी होगी भूमि के उपयोग की अनुमति
jhabua news
झाबुआ । लोकसभा चुनाव के तहत मतदान के दिन मतदाताओं को गैर सरकारी पहचान पर्चियां बांटने के लिए उम्मीदवारों को अपने निर्वाचन बूथ मतदान केन्द्रों के 200 मीटर के दायरे के बाहर ही स्थापित करने की अनुमति होगी। इस संबंध में निर्वाचन आयोग ने अपने निर्देशों में स्पष्ट किया है कि मतदान दिवस पर उम्मीदवार अपने ऐजेन्टों और कार्यकर्ताओं के लिए मतदान केन्द्र से 200 मीटर की दूरी के बाहर मतदाताओं को गैर सरकारी पहचान पर्चियां बांटने के लिए एक छतरी अथवा त्रिपाल के नीचे केवल एक मेज तथा दो कुर्सी रख सकते हैं ताकि वे अपना सिर धूप या वर्षा से बचा सकें। ऐसी मेज के आसपास भीड़ इकट्ठी नहीं होगी। आयोग ने मतदान के दिन कानून एवं व्यवस्था बनाये रखने के मद्देनजर उम्मीदवारों के निर्वाचन बूथों की स्थापना के लिए दिशा-निर्देश भी दिये हैं। इन दिशा-निर्देशों में कहा गया है कि मतदान केन्द्र के 200 मीटर के भीतर कोई बूथ स्थापित नहीं किया जायेगा। एक ही परिसर में एक से अधिक मतदान केन्द्र होने की स्थिति में भी ऐसे परिसरों से 200 मीटर की दूरी पर मतदान केन्द्रों के लिए एक उम्मीदवार का एक ही बूथ बनाया जायेगा। निर्वाचन आयोग के मुताबिक ऐसे बूथों पर केवल दो कुर्सियों और एक मेज ही रखी जायेगी। ऐसे बूथों पर कनात नहीं लगाई जा सकेगी। केवल धूप या वर्षा से बचने के लिए एक छतरी या त्रिपाल का टुकड़ा लगाया जा सकेगा। आयोग ने कहा है कि गैर सरकारी मतदाता पहचान पर्चियां बांटने के लिए ऐसे बूथ बनवाने की इच्छा रखने वाले प्रत्येक अभ्यर्थी को लिखित रूप में रिटर्निग आफीसर को उन मतदान केन्द्रों के नाम और क्रम संख्या बतानी होगी जहां बूथ स्थापित करवाये जाने हैं। आयोग ने यह भी स्पष्ट किया है कि निर्वाचन बूथ स्थापित करवाने से पहले उम्मीदवार को स्थानीय कानून के अधीन भूमि के उपयोग के लिए सरकारी प्राधिकरणों अथवा नगर निगमों, नगर पालिकाओं, जिला परिषदों, शहरी क्षेत्र समितियों, पंचायत समितियों आदि की लिखित अनुमति भी लेनी होगी। बूथ प्रबंधकों को मांगे जाने पर इस प्रकार की लिखित अनुमति पुलिस अथवा निर्वाचन प्राधिकारियों के समक्ष प्रस्तुत भी करनी होगी। उम्मीदवारों द्वारा इन निर्वाचन बूथों का इस्तेमाल केवल गैर सरकारी पहचान पर्चियां जारी करने के एकमात्र प्रयोजन के लिए किया जा सकेगा। ये गैर सरकारी पहचान पर्चियां भी केवल आयोग के आदेशानुसार ही मुद्रित कराई जायेंगी जिन पर अभ्यर्थी का नाम या प्रतीक अथवा राजनैतिक दल का नाम नहीं होना चाहिए। निर्वाचन आयोग ने कहा है कि किसी भी स्थिति में ऐसे बूथों पर भीड़ इकट्ठी होने की अनुमति नहीं होने दी जायेगी। न ही ऐसे व्यक्ति को आने की अनुमति दी जायेगी जो पहले ही मतदान कर चुका हो। आयोग ने यह भी कहा है कि बूथों पर बैठे व्यक्ति मतदान केन्द्रों पर जाने वाले मतदाताओं के रास्ते में किसी तरह की रूकावट नहीं डालेंगे अथवा दूसरे उम्मीदवारों के बूथों पर जाने से उन्हें नहीं रोकेंगे। मतदाताओं को स्वयं उनकी इच्छानुसार मताधिकार का प्रयोग करने में किसी प्रकार रूकावट भी निर्वाचन बूथों में बैठे कार्यकर्ता नहीं डाल सकेंगे। निर्वाचन आयोग ने कहा है कि इन निर्देशों का उल्लंघन अत्यधिक गंभीरता से लिया जायेगा और ऐसे उल्लंघनों के लिए जिम्मेदार अभ्यर्थी और उनके अभिकत्र्ताओं के विरूद्ध कानून के अधीन कड़ी कार्रवाई की जायेगी तथा बूथों को हटा दिया जायेगा। आयोग ने चुनावी व्यवस्था में लगे शासकीय अधिकारियों को भी चेतावनी दी है कि यदि वे आयोग के निर्देशों का उल्लंघन पाये जाने पर तत्काल कार्रवाई करने में असफल रहते हैं तो इनके खिलाफ भी दाण्डिक कार्रवाई की जायेगी और उन्हें अनुशासनिक कार्रवाई का भागी भी बनना होगा।

कलेक्टर, एसपी की उपस्थिति मे दिव्यांग मतदाताओ को वोट डालने का प्रषिक्षण दिया गया
मषीन में ट्रायल वोट डालकर दिव्यांगजनो ने देखा किसे मिला वोट
jhaabua news
झाबुआ । लोकसभा निर्वाचन 2019 के तहत मतदाता जनजागरूकता अभियान के लिए जिले में व्यापक प्रचार प्रसार किया जाकर आमजन को मतदान दिनांक 19 मई 2019 की जानकारी दी जा रही है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री प्रबल सिपाहा के मार्गदर्षन एवं दिषा निर्देषानुसार मतदाताओं को लोकसभा निर्वाचन में अधिक से अधिक संख्या में मतदान करने का आह्वान किया जा रहा है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री प्रबल सिपाहा एवं पुलिस अधीक्षक श्री विनीत जैन की उपस्थिति मे दिव्यांगजनो को स्वीप कार्यक्रम के अंतर्गत मतदान के लिये प्रेरित करने के लिये मतदाता जागरूकता संबंधी जानकारी देने के लिए ईवीएम और वीवीपैट मषीन से वोट डालने का प्रषिक्षण भी दिया गया। दिव्यांग मतदाताओ को बताया गया कि मतदान प्रकोष्ठ मे प्रवेश करते समय पीठासीन अधिकारी बैलेट यूनिट को वोट डालने के लिए तैयार करेंगे। बैलेट यूनिट मे अपने पसंद के प्रत्याशी के नाम और चुनाव चिन्ह के सामने वाले नीले बटन को दबाना होगा। जिस प्रत्याशी को वोट दिया है उसके नाम, चुनाव चिन्ह के सामने वाली लाइट लाल जलेगी। प्रिंटर एक बैलेट पर्ची प्रिंट करेगा जिसमें पसंद के प्रत्याशी के सरल क्रमांक, नाम और चुनाव चिन्ह अंकित होगा। बैलेट पर्ची सात सेकण्ड के लिए दिखेगी उसके बाद कट कर प्रिंटर के ड्राप बाक्स मे गिर जाएगी और एक बीप की आवाज सुनाई देगी। प्रिंट पर्ची को ग्लास मे से देखा जा सकता है। बैलेट पर्ची नही दिखने एवं बीप की आवाज नही आने पर पीठासीन अधिकारी से संपर्क किया जा सकता है। वोटिंग मषीन पर दिव्यांग मतदाताओं ने ईव्हीएम मशीन में बटन दबाकर, ट्रायल वोट डालकर व्हीव्हीपीएटी मशीन में देखा की उनका वोट किसे मिला है एवं वोटिंग प्रक्रिया को समझा।

चैक पोस्ट से गुजरने वाले प्रत्येक वाहन पर रखी जा रही एसएसटी एवं एफएसटी की पैनी नजर
        
झाबुआ । लोकसभा निर्वाचन 2019 की तिथियां घोषित होने के साथ ही एसएसटी दल एवं फ्लाइंग स्काॅट सक्रिय हो गये है। एसएसटी दल एवं फ्लाइंग स्काॅट द्वारा तपती दोपहरी के साथ रात मे भी झाबुआ जिले की चैक पोस्ट से गुजरने वाले प्रत्येक वाहन की तलाषी ली जा रही हैं।

एसडीएम पेटलावद ने बीएलओ को मतदान के लिये दिलाई षपथ
  
jhabua news
झाबुआ । लोकसभा निर्वाचन 2019 के तहत मतदाता जनजागरूकता अभियान के लिए जिले में व्यापक प्रचार प्रसार किया जाकर आमजन को मतदान दिनांक 19 मई 2019 की जानकारी दी जा रही है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री प्रबल सिपाहा के मार्गदर्षन एवं दिषा निर्देषानुसार मतदाताओं को लोकसभा निर्वाचन में अधिक से अधिक संख्या में मतदान करने का आह्वान किया जा रहा है। मतदाता जनजागरूकता अभियान के लिए जिले मे लोकसभा निर्वाचन 2019 विधानसभा क्षेत्र पेटलावद मे एसडीएम पेटलावद श्री हर्षल पंचोली ने समस्त बीएलओ को मतदान करने एवं षत प्रतिषत मतदान करवाने हेतु षपथ भी दिलाई। सभी ने संकल्प लिया कि लोकतंत्र के महापर्व लोकसभा निर्वाचन 2019 में 19 मई 2019 रविवार को हम षत प्रतिषत मतदान कराएंगे। कोई भी व्यक्ति जो मतदान का अधिकार रखता है मतदाता सूची में जोडे जाने से नही छूटेगा। कोई भी दिव्यांग अथवा अक्षम व्यक्ति भी वोट डालने से नहीं छूटेगा। हम सबकी सहायता करेगे, हम सबको मतदान करने के लिए प्रेरित करेगे।

आदर्ष मतदान केंद्र पर की गई सजावट

jhabua news
झाबुआ । लोकसभा निर्वाचन 2019 हेतु विधानसभा क्षेत्र थांदला के मतदान कंेद्र क्रमांक 59 ग्राम टीमरवानी एवं विधानसभा क्षेत्र पेटलावद के मतदान कंेद्र क्रमांक 09 प्राथमिक विद्यालय रामपुरिया को आदर्ष मतदान केंद्र बनाया गया है।इन मतदान केंद्रो पर मतदान कक्ष के साथ-साथ रैम्प की सजावट एवं अन्य सुविधाओ की व्यवस्था की गई है।

लोकसभा निर्वाचन हेतु राजस्थान राज्य के सीमावर्ती क्षेत्र अंतर्गत आने वाली थांदला मे स्थित षराब दुकान 29 अप्रैल तक बंद रहेगी

झाबुआ । राजस्थान राज्य मे लोकसभा निर्वाचन 2019 के दौरान जिला बांसवाडा राजस्थान मे दिनांक 29 अप्रैल 2019 को होने वाले मतदान के अवसर पर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी भोपाल के निर्देषानुसार कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री प्रबल सिपाहा ने राजस्थान राज्य के सीमावर्ती क्षेत्र की 3 किमी की परिधि मे आने वाले झाबुआ जिले की थांदला तहसील मे स्थित विदेषी मदिरा दुकान-वठ्ठा को दिनांक 29 अप्रैल 2019 को मतदान समाप्ति तक बंद रखने हेतु आदेषित किया है। घोषित अवधि मे निर्देषानुसार षराब का क्रय-विक्रय पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। षुष्क अवधि मे दुकान से मदिरा का क्रय-विक्रय एवं परिवहन न हो इस हेतु समुचित प्रतिबंधात्मक कार्यवाही हेतु संबंधित सक्षम प्राधिकारी को अपने प्रभार क्षेत्र मे नियंत्रण हेतु आवष्यक कार्यवाही हेतु आदेषित किया हैं।

नाम निर्देषन पत्र स्वीकार करने हेतु अब अंतिम एक दिवस षेष 30 अप्रैल को की जायेगी संवीक्षा
झाबुआ । लोकसभा निर्वाचन 2019 हेतु 24-रतलाम संसदीय निर्वाचन क्षेत्र की अधिसूचना दिनांक 22 अप्रैल 2019 को जारी होने से दिनांक 29 अप्रैल 2019 तक नाम निर्देषन प्रस्तुत करने के लिये अब एक दिवस 29 अप्रैल सोमवार ही षेष है। अभ्यर्थियो से नाम निर्देषन पत्र लेने का कार्य आगामी 29 अप्रैल 2019 तक प्रातः 11 बजे से अपरान्ह 3 बजे तक किया जाएगा। नाम निर्देषन पत्र की संवीक्षा 30 अप्रैल 2019 को प्रातः 11.00 बजे षुरू की जाएगी। अभ्यर्थिता से नाम वापस लेने की कार्यवाही 2 मई 2019 को अपरान्ह 3.00 बजे तक की जाऐगी। उसके बाद अभ्यर्थियो को चुनाव चिन्ह आवंटित करने की कार्यवाही की जायेगी। निर्वाचन लडे जाने की दषा मे 19 मई 2019 को प्रातः 07.00 बजे और सायं 6.00 बजे के बीच मतदान होगा एवं मतगणना 23 मई 2019 को संपन्न होगी। अब तक 5 अभ्यर्थियो ने संसदीय क्षेत्र रतलाम के लिये नाम निर्देषन पत्र दाखिल किये है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...